खुजली की बेस्ट टेबलेट नाम

जैसे ही गर्मियों का मौसम शुरू होते हैं तथा शरीर में पसीना आना शुरू होता है वैसे ही शरीर में खुजली की समस्या शुरू हो जाती है। खुजली की समस्या ज्यादातर पसीने वाले या नम स्थानों में होती है। क्योंकि नमी होने के कारण यहां पर  बैक्टीरिया का प्रभाव  ज्यादा मात्रा में तथा शीघ्र हो जाता है। अतः जिन स्थानों में हमें पसीना ज्यादा आता है या हम जिन स्थानों पर गीले या नम कपड़े पहनते हैं स्थानों पर खुजली बहुत शीघ्र हो जाती है। ये सरीर की सबसे उपरी त्वचा पर होने वाला एक चर्म रोग है जो सामान्यतया टीनिया नामक परजीवी से होता है, ये ज्यादातर सरीर के रगड़ खाने वाले स्थानो पर पाशिने और नमी के रहने के कारण होती है तथा एक दुसरे से आशानी से फैलती है। खुजली की इन समस्याओं से निपटने के लिए हम आज आपको खुजली की बेस्ट टेबलेट नाम के बारे में जानकारी देंगे जिससे आप खुजली की समस्या से निजात पा सकते हैं

खुजली के कारण

खुजली के कारण

शरीर पर खुजली होने के बहुत सारे कारण हो सकते हैं। शरीर पर जब खुजली शुरू होती है तब कोई भी सामान्य लक्षण दिखाई नहीं देता किंतु जैसे जैसे अपने शरीर को ज्यादा मात्रा में खुजलाते जाते हैं  शरीर पर विभिन्न प्रकार के  रेस व दाने दिखाई देने लगते हैं। इन दानों का यदि सही समय पर इलाज नहीं कराया जाता है यह आगे बढ़कर शरीर पर विभिन्न प्रकार के  घाव तथा फोड़े फुंसी जैसे संरचनाएं बना देते हैं। खुजली के आंतरिक तथा बाय कई कारण हो सकते हैं जैसे

  • शरीर पर पसीना ज्यादा अधिक मात्रा में आना।
  • खाद्यान्न के सही उपयोग ना होने की वजह से।
  • आप अच्छा भोजन नहीं करेंगे तो भी हो जाएगा।
  • गीले कपड़े पहनना से ।
  • नहाने के बाद तुरंत कपड़े पहन लेना।
  • कपड़ों को धूप में ना सुखाना।
  • दूषित जल का उपयोग करते हैं।
  • दूषित भोजन का उपयोग करते हैं।
  • खट्टे सब्जियों का उपयोग करने से।
  • खुजली से पीड़ित किसी व्यक्ति के संपर्क में आना।
  • खुजली से पीड़ित व्यक्ति के कपड़े तथा अन्य सामानों का प्रयोग करना।
  • विशेष प्रकार की एलर्जी होना। 
  • कभी भी सूर्य की धूप न लेना।
  • शरीर में विटामिन सी की कमी होना। 

खुजली के लक्षण

जैसे ही शरीर हमारे शरीर में खुजली शुरू होती है और हम किसी विशेष स्थान को  खुजलाना शुरू कर देते हैं  कुछ समय बाद वहां की  त्वचा  लाल  या  चकत्ते दार  हो जाती है, तथा कुछ समय बाद उस स्थान पर या तो दाने पड़ जाते हैं या फिर कुछ सकते हैं धब्बे पढ़ सकते हैं सामान्य खुजली के निम्नलिखित लक्षण हो सकते हैं

  •  किसी विशेष स्थान पर बहुत अधिक खुजलाना।
  •  किसी स्थान पर चीटियों के जैसे काटना।
  •  शरीर की त्वचा पर लाल निशान बन जाना।
  •  शरीर के ऊपरी हिस्से त्वचा पर दांत जैसे संरचनाएं पर जाना।
  •  किसी शरीर के हिस्से में सुजल का आ जाना हो जाना।
  •  किसी जीव का काट लेना।
  • मुँह शुष्क रहना। 
  • चक्कर आना ।
  • मतली, उल्टी आना। 
  • शरीर में किसी भी प्रकार के साइड इफेक्ट की एलर्जी हो जाना।

पूरे शरीर में खुजली की दवा tablet

खुजली एक ऐसी बीमारी है जो एक विशेष परजीवी टीनिया नामक  जीव के कारण होती है  किंतु शरीर के विभिन्न भागों में खुजली के अन्य कारण भी होते हैं ज्यादातर खुजली हमारे कपड़ों से ढके प्राइवेट पार्ट में होती है  क्योंकि प्राइवेट पार्ट में  हवा और धूप नहीं लग पाती है तथा ज्यादा पसीना होने के कारण इन स्थानों में हमेशा नमी बनी रहती है।

जिसके कारण परजीवी का प्रभाव यहां पर बहुत तीव्रता से होता है और कुछ ही समय में परजीवी के आक्रमण के कारण खुजली शुरू हो जाती है। खुजली से बचने के लिए हम आज आपको विभिन्न प्रकार की आयुर्वेदिक एलोपैथिक तथा घरेलू विधियों की जानकारी देंगे जिनके  उपचार के बाद आप अपनी खुजली की समस्या को ठीक कर सकते हैं। यह निम्नलिखित हैं

  • दाद खाज खुजली की अंग्रेजी दवा tablet
  • प्राइवेट पार्ट में खुजली के मेडिसिन क्रीम
  • सूखी खुजली की आयुर्वेदिक दवाईयों
  • खुजली की घरेलू दवाईयों  

दाद खाज खुजली की अंग्रेजी दवा tablet

जिन व्यक्तियों में खुजली की समस्या होती है तथा वह अपने  खुजली की समस्या को दवाइयों द्वारा जड़ से खत्म करना चाहते हैं आज हम उनके लिए खुजली की बेस्ट टेबलेट नाम और उपयोग के बारे में जानकारी देंगे जिससे वह शरीर में हो रही बिजली की समस्या को जड़ से मिटा सकते हैं यह दवाइयों में लिखित

  • Avil 25 Tablet
  • band allergy 10mg tablet
  • Loratin 10 mg
  • histakind 120 mg 

Avil 25 Tablet

Avil 25 Tablet

एविल टेबलेट बाजार में 50 तथा 25 एमजी मात्रा में उपलब्ध है इसका प्रयोग एलर्जी खुजली के लिए किया जाता है। यदि आपको किसी प्रकार की एलर्जी खुजली हो गई है तो आप Avil 25 Tablet टेबलेट का प्रयोग  कर सकते हैं यह टैबलेट दवाओं के विभिन्न प्रकार के साइड इफेक्ट को भी तो होती है आस्था दवाओं के साइड इफेक्ट रोकने के लिए भी Avil 25 Tablet  टेबलेट का प्रयोग किया जाता है जिन व्यक्तियों में किसी दवा या किसी एलर्जी के कारण खुजली होती है वह ग्रुप से इस टेबलेट का प्रयोग खुजली को मिटाने के लिए  कर सकते हैं।

band allergy 10mg tablet

band allergy 10mg tablet का प्रयोग ऐसे स्थानों की खुजली को ठीक करने के लिए किया जाता है जो मुख्य रूप से किसी कपड़े या किसी वजह से ढके ही रहते हैं। जैसे जननांगों की खुजली  को ठीक करने के लिए band allergy 10mg tablet  का प्रयोग किया जाता है  सामान्य  खुजली में भी  टेबलेट का प्रयोग किया जा सकता है band allergy 10mg tablet खुजली के लिए बहुत ही अच्छी दवा है जो सामान्य रूप से किसी भी मेडिकल स्टोर पर उपलब्ध होती है।

Loratin 10 mg

Loratin 10 mg

Loratin 10 mg का प्रयोग शरीर पर होने वाली खुजली को ठीक करने के लिए किया जाता है यह शरीर पर होने वाली सभी प्रकार की खुजली को जड़ से समाप्त कर देती है Loratin 10 mg  टैबलेट के नियमित प्रयोग से शरीर के विभिन्न अंगों पर होने वाली खुजली से छुटकारा पाया जा सकता है। जिन व्यक्तियों में किसी भी प्रकार की खुजली की समस्या होती है उनको दैनिक रोज से Loratin 10 mg टैबलेट का प्रयोग करना चाहिए।

histakind 120 mg

histakind 120 mg

histakind 120 mg टेबलेट का प्रयोग खुजली की समस्या को ठीक करने के लिए किया जाता है यह टेबलेट शरीर में विभिन्न प्रकार की खुजली की समस्या को ठीक करती है तथा  इस परजीवी के बढ़ने से  रोकती है जिससे खुजली  शरीर के अन्य हिस्सों में नहीं पहुंच पाती है। histakind 120 mg टेबलेट के  प्रयोग से  खुजली को आसानी से रोका तथा खत्म किया जा सकता है। जिन व्यक्तियों में किसी एलर्जी के कारण या शरीर में ज्यादा नहीं रहने के कारण खुजली हो जाती है उनको दैनिक रूप से histakind 120 mg   टैबलेट का प्रयोग करना चाहिए। 

अन्य कुछ पूरे शरीर में खुजली की दवा tablet

उपर्युक्त कुछ खुजली से संबंधित टैबलेट के नाम का वर्णन किया गया है जिनका प्रयोग करके आप खुजली से होने वाली समस्या से बचे रह सकते हैं। किंतु कुछ अन्य खुजली से संबंधित दवाओं के नाम नीचे दिए गए जिनका प्रयोग आप डॉक्टर की सलाह से कर सकते हैं इससे आप खुजली की समस्या से बचे रह सकते हैं यह दवाइयां निम्नलिखित हैं।

  • glen mark
  • Cadila
  • Drredle
  • Cipla
  • Lupin
  • Aurobindo
  • Phamceletia

प्राइवेट पार्ट में खुजली के मेडिसिन क्रीम

यदि आपके शरीर के किसी भी हिस्से में खुजली हो गई है या शरीर के किसी भी  प्राइवेट पार्ट में खुजली हो गई है और आप खुजली की समस्या से परेशान हो गए हैं तो आज हम आपको इस लेख में खुजली की समस्या से बचने के लिए दवाओं की जानकारी दें ऊपर एक लेख में हमने कुछ दवाओं टैबलेट्स की जानकारी दी है।

किंतु कुछ लोगों को टेबलेट खाने में कुछ समस्याएं होती हैं इसलिए उनको अपनी खुजली को खत्म करने के लिए कुछ विशेष  प्रकार की क्रीम का प्रयोग करना चाहिए इन क्रीम के लगातार प्रयोग से आप अपनी खुजली को जड़ से मिटा सकते हैं। नीचे निम्नलिखित कुछ क्रीम ओं के नाम दिए गए हैं जिनके द्वारा खुजली को आसानी से ठीक किया जा सकता है।

  • betnovate c
  • रिंग वर्म्स
  • darmi Ford
  • Itch Guard
  • Ring Guard Antifungal Medicated Cream

Betnovate c

Betnovate c

यदि आप शरीर की किसी भी हिस्से पर होने वाली खुजली से लगातार परेशान रहते हैं तो आपको अपने शरीर में खुजली के कारणों को जानना चाहिए। यदि आपके शरीर में खुजली विटामिन सी की कमी के कारण हो रही है तो आप अपने शरीर पर संक्रमित भाग में betnovate c  का प्रयोग कर सकते हैं जो शरीर को विटामिन सी प्रदान करती है। तथा खुजली को मिटाती है  यदि आपको इसी प्राइवेट पार्टी अन्य स्थानों पर खुजली की समस्या है तो उन्हें अनु पर आप betnovate c  का प्रयोग कर सकते हैं।

 रिंग वर्म्स

 रिंग वर्म्स विशेष प्रकार की खुजली को खत्म करने के लिए प्रयोग की जाने वाली क्रीम है जो खुजली करते करते  यदि त्वचा लाल हो जाती है या फिर लाल घेरे जैसे संरचनाएं बन जाती हैं। इस प्रकार की खुजली को ठीक करने के लिए  रिंग वर्म्स क्रीम का प्रयोग किया जाता है जो खुजली की ऐसी समस्याओं को बहुत जल्दी ठीक करती है।

जिन व्यक्तियों में गीले कपड़े पहने या टाइट कपड़े पहनने की वजह से  खुजली वाले दाग  धब्बे आज हो जाते हैं। उनको दैनिक रूप से अपनी त्वचा पर  रिंग वर्म्स  का लेप लगाना चाहिए जिससे संक्रमित एरिया में उपस्थित परजीवी बहुत जल्दी नष्ट हो जाता है और खुजली से राहत मिलती है।

Darmi Ford

Darmi Ford

शारीर की विभिन्न प्रकार की समस्याएं दाद खाज  खुजली आदि को समाप्त करने के लिए darmi Ford  क्रीम का प्रयोग किया जाता है। यह क्रीम सभी प्रकार की खुजली और दाग धब्बों को तथा दाद को  जड़ से खत्म कर देती है जिन व्यक्तियों में दाद की समस्या होती है और वह खुजली से परेशान रहते हैं उनको दैनिक रूप से अपनी त्वचा पर या फिर संक्रमित भाग पर darmi Ford  क्रीम का प्रयोग करना चाहिए जिससे उनके शरीर पर होने वाली खुजली की समस्या और जल्द समाप्त हो जाएगी।

Itch Guard

Itch Guard

यदि आपको किसी भी स्थान पर शरीर के अंदरूनी तथा बाहरी अंगों पर खुजली की समस्या है तो Itch Guard  क्रीम का प्रयोग खुजली को जड़ से मिटाने के लिए किया जा सकता है यदि आपको आपके अंगों में  छोटे छोटे दाने पड़ गए या फिर त्वचा में किसी भी प्रकार का इंफेक्शन  हो गया है और उस कारण आपके शरीर के विभिन्न अंगों में खुजली की समस्या होने लगी है।

तो आपको Itch Guard  का प्रयोग अपने शरीर  के संक्रमित भाग पर करना चाहिए कुछ समय के पश्चात होने वाली खुजली की समस्या जड़ से समाप्त हो  जाएगी और आपका शरीर स्वस्थ हो जाएगा।

Ring Guard Antifungal Medicated Cream

Ring Guard Antifungal

हमारे शरीर में गुप्तांगों  या कुछ भागों में रिंग वार्म  की समस्या से दाद खाज की समस्या हो जाती है जिसके कारण हमारे शरीर की त्वचा लाल तथा  खुजली युक्त हो जाती है। जिससे हमारा शरीर खुजली की समस्या से ग्रसित हो जाता है और  उस संक्रमित भाग पर बार-बार खुजली करते हैं जिससे उसमें विभिन्न प्रकार के साइड इफेक्ट या  जीवाणुओं के प्रभाव के कारण घाव हो जाते हैं।

Read Also: बवासीर के मस्से हटाने की क्रीम – तुरंत पाएं आराम

इन सब की समस्या से बचने के लिए  ऐसे खुजली वाले स्थान  पर  नियमित रूप सेRing Guard Antifungal Medicated Cream  का प्रयोग करना चाहिए यह रिंग वर्म को फैलने नहीं देती है।

खुजली की अन्य कुछ क्रीमें 

ऊपर कुछ क्रीमो की जानकारी दी गई है जिनके प्रयोग से आप अपने शरीर में होने  वाली खुजली को जड़ से ठीक कर सकते हो उपर्युक्त क्रीम ओं के साथ साथ नीचे कुछ अन्य क्रीम के नाम भी बताए गए हैं जिनका प्रयोग डॉक्टर की सलाह है खुजली की समस्या के लिए किया जा सकता है।

  • क्लोर्टिमाजोल
  • स्टेरॉइड क्रीम
  • सोरियन क्रीम
  • बेटनोवेट एन
  • बेटनोवेट सी
  • डरमी फाइव प्लस
  • कैस्टर एनएफ
  • पेन ड्रम प्लस प्लस

सूखी खुजली की आयुर्वेदिक दवाईयों

खुजली की एक ऐसी समस्या है जो हमें  समाज के बीच में रहने पर शर्मिंदा कर देती है यदि हम कुछ लोगों के मध्य बैठे होते हैं और हमें किसी शरीर के अंग पर खुजली होने लगती हैं तो उस अंग को बार-बार खुजलाने में  शर्म का एहसास  का एहसास होता है इसलिए हमें खुजली से बचने की जरूरत होती है।

खुजली हमारे शरीर की त्वचा को प्रभावित करती है त्वचा में विभिन्न प्रकार की समस्याएं हो जाती हैं जिनके कारण हमारे शरीर में खुजली होना खुजली को ठीक करने के लिए हमने उपरोक्त कुछ दवाइयों के नाम तथा क्रीम बताएं लेकिन कुछ लोग आयुर्वेदिक दवाओं का सेवन करना पसंद करते हैं। उनके लिए आज हमने कुछ आयुर्वेदिक खुजली की समस्या को ठीक करने के लिए दवा बताया है जिससे वे अपनी खुजली को आसानी से ठीक कर सकते हैं।

  • IYUSH आयुर्वेदिक मरहम 
  • पतंजलि एलोवेरा
  • गोमूत्र और नीम के पत्ते का मिश्रण
  • जोजोबा

IYUSH आयुर्वेदिक मरहम

IYUSH आयुर्वेदिक मरहम

यह एक आयुर्वेदिक मरहम है जिसका प्रयोग त्वचा पर उत्पन्न विभिन्न प्रकार की समस्याओं के लिए किया जाता है यदि आपकी त्वचा पर इसी प्रकार का खींचा हो दाद  खाज खुजली  आज का संक्रमण हुआ है। तो आप दैनिक रूप से IYUSH आयुर्वेदिक मरहम  का प्रयोग अपनी त्वचा पर कर सकते हैं।

विभिन्न प्रकार की खुजली की समस्या से बचने के लिए दैनिक रूप सेIYUSH आयुर्वेदिक मरहम  को त्वचा पर लगाना चाहिए जिससे त्वचा संबंधी बीमारियां खुजली आदि नहीं होती है।

 पतंजलि एलोवेरा

पतंजलि एलोवेरा जेल का प्रयोग खुजली की समस्या को ठीक करने के लिए किया जाता है

पतंजलि एलोवेरा

 यदि आपके शरीर पर किसी स्थान हैं छोटे छोटे दाने हो गए हैं। किसी अन्य कारणों से त्वचा पर इंफेक्शन हो गया जिसकी वजह से आपका शरीर खुजली की समस्या से पीड़ित है। तो आप संक्रमित भाग में या संक्रमित आग पर दैनिक रूप से पतंजलि एलोवेरा  का सेवन कर सकते हैं यदि आप एलोवेरा जेल का लेप संक्रमित भाग पर लगाते हैं तो खुजली की समस्या अतिशीघ्र ठीक हो जाएगी।

गोमूत्र और नीम के पत्ते का मिश्रण

भारतीय आयुर्वेद में गोमूत्र का बहुत ही महत्वपूर्ण योगदान है। तथा भारतीय आयुर्वेद के अनुसार गोमूत्र में उपस्थित औषधि गुण बहुत सारे बीमारियों के लिए लाभदायक होते हैं यदि आप किसी भी अंग के खुजली की समस्या से परेशान हैं। तो आपको नीम के पत्ते को पीसकर गोमूत्र में मिलाकर संक्रमित स्थान पर लगाना चाहिए।

यदि आप दैनिक रूप से गोमूत्र नीम के पत्ते का सेवन अपनी खुजली की समस्या को ठीक करने के लिए करते हैं तो निश्चित रूप से ही आपको कुछ समय पश्चात बिजली की समस्या से राहत मिल जाएगी और आपकी खुजली की समस्या ठीक हो जाएगी।

जोजोबा

जोजोबा

जोजोबा में एंटी-बैक्टीरियल प्रोपर्टीज होती हैं जो घाव को भरने में मददगार है। एथनो फार्माकोलोजी के शोध पत्र की एक रिपोर्ट के अनुसार जोजोबा वैक्स हमारी स्किन की कोशिकाओं में कोलेजन के संश्लेषण को बढ़ाती हैं।इसलिए जोजोबा का प्रयोग शरीर की खुजली की समस्या को ठीक करने के लिए किया जाता है।

इसमें शरीर की खुजली को ठीक करने के  पर्याप्त  एंटी बैक्टीरियल तत्व पाए जाते हैं जो शरीर पर होने वाले किसी भी प्रकार की खुजली अति शीघ्र जड़ से खत्म कर देते हैं। जिन व्यक्तियों में त्वचा की खुजली की समस्या होती है उनको दैनिक रूप से  अपनी त्वचा पर जोजोबा  तेल का सेवन करना चाहिए।

कुछ अन्य सूखी खुजली की दवा के आयुर्वेदिक तरीके 

शरीर से पहले को ठीक करने के लिए ऊपर कुछ आयुर्वेदिक तरीके बताए गए हैं उन तरीकों के अलावा हम आज आपको कुछ अन्य पतंजलि आयुर्वेदिक दवाओं की जानकारी देंगे जिनकी सहायता से आप अपने शरीर में होने वाली किसी भी प्रकार की खुजली को जड़ से समाप्त कर सकते हैं। यह दवाइयां निम्नलिखित हैं

  • दिव्य कायाकल्प वटी एक्स्ट्रा पावर
  • दिव्य चंद्रप्रभा वटी
  • दिव्य गंधक रसायन
  • पतंजलि तेजस तैलम 
  • पतंजलि दिव्य खदिरारिष्ट

खुजली की घरेलू दवाईयों

यदि आपको किसी प्रकार की खुजली की समस्या हो गई है और आप अपनी खुजली की समस्या को ठीक करना चाहते हैं तो आपके घर में कुछ ऐसे आयुर्वेदिक पदार्थ उपलब्ध होते हैं। जिनका प्रयोग करके विभिन्न प्रकार की बीमारियों को ठीक किया जा सकता है इसी प्रकार खुजली की समस्या को ठीक करने के लिए घरों में विभिन्न प्रकार के आयुर्वेदिक दवा उपलब्ध होंगे इन पदार्थों का प्रयोग करके खुजली की समस्या को घरेलू दवाइयों द्वारा ठीक किया जा सकता है यह खुजली की घरेलू दवाईयों निम्नलिखित हैं 

  • बैंकिंग सोडा और नींबू
  • नीम के पत्तों से बनी हुई दवा
  • चंदन
  • तुलसी
  • लहसुन और तुलसी लेप
  • करेला और गुलाब जल

बैंकिंग सोडा और नींबू

हमारे घर की रसोई में उपलब्ध बेकिंग सोडा और नींबू का प्रयोग खुजली की समस्या को ठीक करने के लिए किया जाता है यदि आपके शरीर में खुजली की समस्या हो गई है तो आपको खुजली की समस्या ठीक करने के लिए घर की रसोई से बेकिंग सोडा और नींबू लेने की जरूरत है दोनों को आपस में मिलाकर के खुजली के संक्रमित भाग पर नींबू तथा बेकिंग सोडा का लेप लगाना चाहिए जिससे खुजली की समस्या समाप्त हो जाएगी।

See Also : पेट की गैस को जड़ से खत्म करने के उपाय

नीम के पत्तों से बनी हुई दवा

प्रकृति में पाए जाने वाला नीम का पेड़ एक ऐसा पौधा है जिसका प्रत्येक अंग किसी न किसी औषधि के काम आता है। नीम की पत्तियों में एंटीफंगल एंटीबायोटिक एंटीसेप्टिक  बहुत अधिक मात्रा में पाए जाते हैं  यदि आप खुजली की समस्या से पीड़ित हैं। आपको नीम की पत्तियों को पीसकर खुजली की समस्या से पीड़ित स्थान पर लगाना चाहिए या फिर नीम की पत्तियों का रस विभिन्न प्रकार के खेलों में मिलाकर लगाया जा सकता है।

जिससे शरीर पर होने वाली खुजली की समस्या हमेशा के लिए समाप्त हो जाएगी यदि आप  खुजली की समस्या से पीड़ित हैं तो बाजार में नीम की पत्तियों से बने बहुत सारे प्रोडक्ट उपलब्ध हैं उनका प्रयोग आप खुजली को ठीक करने के लिए कर सकते हैं।

चंदन

चंदन हमारी त्वचा के लिए बहुत ही लाभकारी आयुर्वेदिक तत्व है जो प्रकृति में चंदन के पेड़ से प्राप्त किया जाता है यदि आपके शरीर में खुजली की समस्या है तो उसको ठीक करने के लिए चंदन की लकड़ी को किसी पत्थर पर घिसकर उसका लेप बनाते हैं इस लेप को खुजली वाले स्थान पर दैनिक रूप से लगाने से कुछ समय पश्चात खुजली की समस्या ठीक हो जाती है।

खुजली से पीड़ित व्यक्तियों को दैनिक रूप से चंदन केले का सेवन अपनी त्वचा पर करना चाहिए  चंदन की तासीर ठंडी होती है।

तुलसी

प्रत्येक भारतीय घर में तुलसी का पौधा अवश्य मिल जाता है तुलसी का पौधा भारतीय घरों में हिंदुत्व की पहचान होता है इसमें विभिन्न प्रकार के आयुर्वेदिक तत्व पाए जाते हैं। जिनका प्रयोग औषधियां को बनाने के लिए किया जाता है तुलसी में एंटीबायोटिक तथा एंटीसेप्टिक को बहुत अधिक मात्रा में पाए जाते हैं जो कि हमारे शरीर में विभिन्न प्रकार के लोगों को रोकने के लिए कारगर होते हैं।

तुलसी की पत्तियों का रस निकालकर खुजली वाले स्थान पर लगाने से खुजली की समस्या हमेशा के लिए समाप्त हो जाती है।यदि आपके खून में किसी प्रकार का विकार है नियमित रूप से आपको तुलसी की पत्ती का सेवन करना चाहिए इससे खून की सभी समस्याएं समाप्त हो जाते हैं। अतः तो जल्दी से पीड़ित व्यक्तियों को नियमित रूप से तुलसी की पत्ती का सेवन करना चाहिए।

लहसुन और तुलसी लेप

लहसुन तथा तुलसी दोनों में ही आयुर्वेदिक तत्वों की  बहुत अधिक मात्रा होती है जिससे इनका प्रयोग प्राचीन काल से ही औषध निर्माण में किया जा रहा है यदि आपको किसी भी प्रकार की शारीरिक खुजली की समस्या है तो लहसुन तथा तुलसी के रस को आपस में मिलाकर खुजली वाले स्थान पर लगाना चाहिए इसका लेप दैनिक रूप से लगाने पर खुजली की समस्या जड़ से समाप्त हो जाती है।

करेला और गुलाब जल

खुजली को ठीक करने के लिए करेला तथा गुलाब जल के रस का सेवन किया जाता है  यदि आपके किसी अंग में खुजली की समस्या है तो प्रभावित क्षेत्र पर करेला और गुलाब रस को मिलाकर लगाने से खुजली की समस्या ठीक हो जाती है यदि आप दैनिक रूप से करेला का सेवन खाद्य पदार्थों के रूप में करते हैं। आपको खुजली की समस्या नहीं होगी यदि समस्या हो जाती है नियमित रूप से करें करेले के रस में गुलाब जल मिलाकर लगाना चाहिए। 

आज के इस लेख में हमने आपको शरीर की त्वचा पर होने वाली खुजली की समस्याओं के बारे में जानकारी दी है। खुजली की समस्या की समाधान के लिए उपरोक्त लेख में हमने  खुजली को ठीक करने के लिए कुछ आयुर्वेदिक क्रीम तथा खुजली की बेस्ट टेबलेट नाम बताया है जिनके प्रयोग से आप अपने शरीर पर होने वाली खुजली की समस्या को जड़ से खत्म कर सकते हैं।कुछ क्रीम तथा आयुर्वेदिक दवाओं के साथ साथ कुछ घरेलू तथा कुछ टेबलेट्स के नाम भी बताया जाए जिनका सेवन करके खुजली की समस्या को जड़ से खत्म किया जा सकता है।

लोगों द्वारा पूछे गए कुछ प्रश्न

खुजली में कौन सी टेबलेट काम करती है?

मानव शरीर पर होने वाली खुजली की समस्या को ठीक करने के लिए बाजार में बहुत सारी टेबलेट उपलब्ध है  जीने का प्रयोग करके खुजली को जड़ से खत्म किया जा सकता है उपर्युक्त अनेक अनेक प्रकार की दवाओं का वर्णन किया गया है जिसका अध्ययन आप खुजली की समस्या को ठीक कर सकते हैं इनमें से Avil 25 Tablet सामान्य रूप से खुजली के लिए प्रयोग की जाती है। 

खुजली को जड़ से खत्म कैसे करें?

खुजली को जड़ से अब खत्म करने के लिए उपर्युक्त लेख में विभिन्न प्रकार की दवाओं का वर्णन किया गया है इन दवाओं का अध्ययन करके आप दवाओं के सेवन करेंगे तो निश्चित रूप से ही खुजली की समस्या से राहत मिलेगी और कुछ समय पश्चात दैनिक रूप से दवाओं का सेवन करने पर खुजली जड़ से खत्म हो जाएगी। 

प्राइवेट पार्ट में खुजली के क्रीम price कौन सी है?

यदि आपको आपके प्राइवेट पार्ट में खुजली हो गई है और आप कुछ भी की समस्या से परेशान हैं तो उपर्युक्त लेख में बताई गई सभी दवाइयां खुजली की रामबाण औषधि है उनका प्रयोग करके किसी भी अंग की खुजली को समाप्त किया जा सकता है  तथा  उनके price  अलग-अलग एरिया के हिसाब से निर्धारित होते हैं इसलिए ग्रेट के बारे में क्या पाना बड़ा मुश्किल पुपरी प्लेट में खुजली की बेस्ट टेबलेट नाम तथा क्रीम के बारे में बताया गया है उनका प्रयोग करके आप कुछ लिखो ठीक कर सकते हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.