दाद को जड़ से खत्म करने की दवा और रामबाण इलाज

दाद त्वचा की ऊपरी परत पर होता है। यह एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में बड़ी ही आसानी से फैल सकता है। दाद को चिकित्सकीय भाषा में टिनीया (Tinea) कहते हैं। यह एक परतदार त्वचा पर गोल और लाल चकत्ते के रूप में दिखाई देता है। इसमें खुजली एवं जलन होते हैं। यह बड़ी ही आसानी से संक्रमित व्यक्ति की चीजें या कपड़े उपयोग करने से एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैल सकता है।आपको बता दें की दाद आमतौर पर गंदगी से फैलता है या आपके शरीर में किसी प्रकार की एलर्जी हो जाये तब भी यह फैलता है और इसकी शरुवात पसीने के आने से होती है।और पसीने का एक जगह रुकना गंदगी पैदा करता है और आप यदि ध्यान नहीं देते तो यह बहुत विकराल रूप लेता है। इस मौसम में जितनी परेशानी बालों और स्किन को उठानी पड़ती है उतनी ही दाद, खाज या खुजली की भी होती है उपरोक्त सभी समस्याओं से बचने के लिए आज हम आप को दाद को जड़ से खत्म करने की दवा  की जानकारी देंगे इनका उपयोग करके दाद जैसे भयानक बीमारी को खत्म कर सकते हैं 

यह  एक तरह का फंगल इंफेक्शन होता है ये हाथ, पैर, गर्दन या अंदरुनी ऑर्गन्स में कहीं भी हो सकता है  दिखने में ये किसी घाव (ringworm treatment) की तरह दिखता है ये प्रॉब्लम किसी को भी हो सकती है दाद को अंग्रेजी में ringworm के नाम से जानते है जो त्वचा का एक रोग है। त्वचा पर गोल और लाल रंग के चकते पड़ना दाद के लक्षण में प्रमुख है, इसके इलावा घाव और खाज खुजली से भी दाद की पहचान हो सकती है। दाद आपकी त्वचा पर लाल, पपड़ीदार, खुजली और पैच का कारण बनता है

दाद के लक्षण

 बाद एक ऐसी बीमारी है जो एक फंगस  के इंफेक्शन के कारण होता है और इसका  फंगस का  संक्रमण बड़ी आसानी से हो जाता है इसमें प्राथमिक स्तर में त्वचा में खुजली होती है तथा लाल हो जाती है उसके बाद खुजलीवाल के आसपास छोटे-छोटे दानों वाले उभरे हुए घेरे हो जाते हैं जिनसे कुछ समय बाद पानी खून निकलने लगता है इसके और भी विभिन्न प्रकार के लक्षण होते हैं जो निम्नलिखितहैं 

  • त्वचा का रंग लाल होना
  • त्वचा में खुजली या जलन होना
  • यह गोल चकत्तों के रूप में होते है तथा ऊपर की और उभरा हुआ होता है। 
  • छोटे छोटे लाल चकते पड़ना
  • लाल चकत्ते का गोल आकार में फैलना 
  • स्किन पर जलन और खुजली होना
  • फैलकर फफोले जैसा बनना।
  • बालों का झड़ना।
  • गोल गोल छल्ले जैसी आकृतियों का शरीर में हो जाना
  • दाने फफोले और फुंसी होना
  • शरीर में लाल रंग के गोल धब्बे पड़ जाना

दाद होने के कारण

दाद का संक्रमण  बड़ी आसानी से एक दूसरे में हो जाता हैदाद एक विशेष प्रकार के अंदर के संक्रमण के कारण होता है यदि हम पीड़ित व्यक्ति के किसी भी प्रकार से संपर्क में आते हैं तो यह एक दूसरे में बड़े आसानी से फैल जाता है दाद फंगल के संक्रमण के कारण होता है, यह फफूंदी जैसा परजीवी बाहरी त्वचा की कोशिकाओं में पनपता है। यह बड़ी ही आसानी से तथा कई तरीकों से फैल सकता है।दाद फंगल के संक्रमण के कारण होता है, यह फफूंदी जैसा परजीवी बाहरी त्वचा की कोशिकाओं में पनपता है अगर किसी जानवर को दाद हुआ है तो उस जानवर को स्पर्श करने से भी दाद का संक्रमण मनुष्ण के शरीर में फैल सकता है।इसके फैलने के निम्नलिखित कारण भी हो सकते हैं 

  • दाद किसी संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने के कारण हो सकता है
  • किसी जानवर को दाद हुआ है और उसके संपर्क में आप आते हैं तो उससे आपका दाद हो सकता है
  • गीले कपड़े पहनने के कारण दाद हो सकता है
  • दाद फंगल के संक्रमण के कारण होता है
  • त्वचा में या नाखून में हल्की चोट लगने से।
  • बालों को समय-समय पर न धोने से।
  • रोग-प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होने से।
  • टाइट जूते पहनने से।
  • किसी संक्रमित व्यक्ति के कपड़े प्रयोग करने से दर्द हो सकता है
  • मनुष्य द्वारा किसी संक्रमित वस्तु को छूने से भी दाद का संक्रमण उनमें फैल सकता है
  • तौलिया प्रयोग करने  के कारण दाद हो सकता है
  • दाद किसी संक्रमित व्यक्ति का  बिस्तर प्रयोग के कारण हो सकता है

दाद को ठीक करने के उपाय

दादा फंगल इंफेक्शन के कारण होने वाली बीमारी है एक दूसरे को द्वारा संक्रमित होने से के कारण एक दूसरे में फैलती है फंगल इंफेक्शन करने के लिए सबसे पहले विभिन्न प्रकार के उपाय उपलब्ध हैं जिनको अपनाकर आप होने वाले फंगल इंफेक्शन को खत्म कर  सकते हैं  बाजार में विभिन्न प्रकार की आयुर्वेदिक दवाइयां उपलब्ध है जिनके प्रयोग से दाद को आसानी से खत्म किया जा सकता है 

  • आयुर्वेदिक औषधियां।
  • अंग्रेजी दवाइयां व टेबलेट।
  • होम्योपैथिक दवाइयां।
  • Daad ki cream.

दाद को ठीक करने के आयुर्वेदिक उपाय

दाद को जड़ से खत्म करने के लिए प्राचीन काल से ही कुछ आयुर्वेदिक तत्वों का प्रयोग किया जा रहा है जिनके प्रयोग से दाद जैसी बीमारी को जड़ से खत्म किया जा सकता है आयुर्वेदिक दवाइयां प्रकृति में पाए जाने वाले विभिन्न प्रकार के शब्दों के सहयोग से बनाई जाती हैं यह दवाइयां पूर्ण  प्राकृतिक होती हैं तथा उनके शरीर पर कोई साइड इफेक्ट नहीं होते हैं इन प्राकृतिक तत्वों का अध्ययन करके विभिन्न प्रकार की आयुर्वेदिक कंपनियों ने कुछ दवाओं का निर्माण किया है जिनके प्रयोग से दाद जैसे बीमारी को जड़ से खत्म किया जा सकता है इनमें से पतंजलि आयुर्वेद में भी फार्मेसी की सहायता से पुस्तकों का निर्माण किया है जिनके प्रयोग से दाद जैसी बीमारी जड़ से खत्म हो जाती है और त्वचा का रंग पहले जैसा हो पतंजलि आयुर्वेद की सभी दवाइयां प्राकृतिक तत्वों से मिलकर बनी होती हैं इसलिए यह पूर्णतया सुरक्षित होती हैं यह दवा निम्नलिखित हैं

  • किशोर गूगल वटी
  • आरोग्य वर्धिनी रस वटी
  • मंजिस्ठा वटी
  • कायाकल्प वटी
  • अलोवेरा जेल 
  • त्रिफला गूगल

किशोर गूगल वटी

पतंजलि गूगल वटी  एक ऐसी दवा है जो शरीर के विभिन्न प्रकार की बीमारियां समाप्त करने में सहायता करती है इसमें विभिन्न प्रकार के आयुर्वेदिक तत्वों को मिक्स करके बनाया जाता है जिसमें मुख्य रूप से हरड़ बहेड़ा तथा निशोथ मिले होते हैं किशोर गूगल वटी शरीर के अंग त्वचा में उपस्थित उतकों को रिपेयर करता है तथा त्वचा में होने वाले विभिन्न प्रकार के विकारों को नष्ट करता है दाद के इंफेक्शन से पीड़ित व्यक्तियों को किशोर गूगल वटी का प्रयोग नियमित रूप से करना चाहिए जिससे उनके दाद की समस्या जड़ से खत्म हो सकती है यह दवा  पूर्णतया आयुर्वेदिक तथा  सुरक्षित है जो किसी प्रकार का साइड इफेक्ट नहीं करती है

किशोर गूगल वटी

 किशोर गूगल वटी के फायदे हैं

  • इसके नियमित प्रयोग से दाद की समस्या से निजात पाया जा सकता है
  • त्वचा में होने वाले अन्य बीमारियों को किशोर गूगल होती के दैनिक प्रयोग से दूर किया जा सकता है
  • किशोर गूगल और पीके दैनिक प्रयोग में आने वाले फोड़े फुंसी तथा दानों को भी खत्म किया जा सकता है
  • किशोर गुर्जर भर्ती का प्रयोग पेट से संबंधित विभिन्न प्रकार की बीमारियों में किया जाता है इसमें कब्ज तथा अन्य पेट की  बीमारियां शामिल हैं

आरोग्य वर्धिनी रस वटी

आरोग्यवर्धिनी पतंजलि आयुर्वेद द्वारा निर्मित एक दवा है जो पूर्णतया आयुर्वेदिक में इसका निर्माण विभिन्न प्रकार के आयुर्वेदिक तत्वों के मिश्रण से किया जाता है आरोग्यवर्धिनी का मतलब होता है सो विभिन्न प्रकार के रोगों में काम आ सके आरोग्यवर्धिनी त्वचा संबंधी विभिन्न प्रकार के विकारों को दूर करती है तथा पचा में होने वाली खुजली दाद खाज व दानों को जड़ से खत्म करती है आरोग्यवर्धिनी वटी  पेट संबंधी विकारों को भी नष्ट करती है इसका सेवन कुष्ठ रोग, शरीर के किसी भी अंग की सूजन, मोटापा, पाचन तंत्र के विकार, जीर्ण ज्वर, आंतो और गर्भाशय की शुद्धी करने में किया जाता हैं आरोग्यवर्धिनी रस  वटी दाद के लिए बहुत ही रामबाण दवा है इसके दैनिक प्रयोग से त्वचा से दाद को जड़ से मिटाया जा सकता है जिन व्यक्तियों में दाद जैसी समस्याएं होती हैं उनको दैनिक रूप से आरोग्यवर्धिनी रस वटी का प्रयोग नियमित रूप से करना चाहिए

आरोग्य वर्धिनी रस वटी

आरोग्यवर्धिनी वटी के फायदे

  • आरोग्यवर्धिनी वटी के नियमित प्रयोग से त्वचा में होने वाले दाद को जड़ से खत्म किया जा सकता है
  • आरोग्यवर्धिनी का प्रयोग शरीर में त्वचा संबंधी अन्य रोगों के लिए भी किया जाता है
  • आरोग्यवर्धिनी रस वटी का प्रयोग शरीर से मोटापा कम करने के लिए किया जाता है
  • आरोग्यवर्धिनी वटी का प्रयोग पाचन तंत्र को ठीक करने के लिए भी किया जाता है
  • आरोग्यवर्धिनी के दैनिक प्रयोग से  कुष्ठ रोग जैसी बीमारी को जड़ से खत्म किया जा सकता है

मंजिस्ठा वटी

मंजिष्ठा वटी का निर्माण  पतंजलि आयुर्वेद द्वारा दिव्य फार्मेसी की सहायता से किया गया है इसमें विभिन्न प्रकार के आयुर्वेदिक तत्वों का मिश्रण होता है जो पूर्ण रूप से सुरक्षित तथा लाभदायक होते हैं मंजिष्ठा वती  विभिन्न प्रकार के त्वचा के रोगों के लिए एक अच्छी दवा है जिसमें त्वचा में होने वाले विभिन्न प्रकार के विकारों को दूर करने के गुण पाए जाते हैं  त्वचा के लिए मंजिष्ठा एक प्रभावी जड़ीबूटी है जो त्वचा से जुडी समस्या को ठीक करने में मदद करती है. यह त्वचा के मुंहासे व खुजली की समस्या को दूर करता है. इसके अलावा त्वचा के आंतरिक व बाहरी उपयोग के लिए किया जाता है 

मंजिस्ठा वटी

मंजिष्ठा वटी के उपयोग तथा फायदे

  • मंजिष्ठा का उपयोग करने के लिए थोड़े शहद में मंजिष्ठा का पाउडर मिलाकर त्वचा पर लगा सकते है
  • मंजिष्ठा वटी का प्रयोग दाद जैसी भयानक बीमारी को खत्म करने के लिए किया जाता है
  • मंजिष्ठा वटी के दैनिक प्रयोग से त्वचा से संबंधित विभिन्न रोगों को समाप्त किया जा सकता है
  • मंजिष्ठा वटी का प्रयोग मोटापा कम करने के लिए भी किया जाता है
  •  मंजिष्ठा वटी का प्रयोग डायबिटीज के इलाज के लिए किया जाता है

कायाकल्प वटी

कायाकल्प वटी का निर्माण पतंजलि आयुर्वेद द्वारा विभिन्न प्रकार के तत्वों के माध्यम से किया गया है जिसमें त्वचा से संबंधित विकारों को जड़ से खत्म करने की प्रवृत्ति पाई जाती है कायाकल्प वटी के नियमित रूप से प्रयोग करने से  दाद जैसी समस्याएं जड़ से खत्म हो जाती हैं कायाकल्प वटी का प्रयोग खाज खुजली व अन्य प्रकार के फंगस इंफेक्शन के लिए किया जाता है वर्षा ऋतु में हमारे शरीर में रक्त में ओक्सिडेंट की अधिकता हो जाने पर दाद, खाज-खुजली, एक्जीमा सोराइसिस , स्किन में जलन के साथ-साथ खुजली का अधिक तेजी के साथ बढ़ते रहना , सफेद या लाल रंग के धब्बे होना, अधिक पुरानी समस्या होने पर इन धब्बो का रंग काला होते जाता है  जो की चर्म रोग की श्रेणी में आते हैं ऐसे लोगों को खत्म करने के लिए कायाकल्प वटी औषधि रामबाण दवा की तरह कार्य करती है तथा मानव शरीर की त्वचा को निरोग बनाती है

कायाकल्प वटी

कायाकल्प वटी के फायदे

  • कायाकल्प वटी का प्रयोग  त्वचा से  दाद को हमेशा के लिए खत्म किया जा सकता है
  • कायाकल्प वटी का प्रयोग संबंधी  अन्य विकारों के लिए किया जा सकता है
  • पाचन संबंधी विकारों को समाप्त करने के लिए कायाकल्प वटी का प्रयोग किया जाता है
  • उंगलियों से शुरू होने वाले कुष्ठ जैसी समस्या को कायाकल्प वटी द्वारा जड़ से खत्म किया जा सकता है
  • विभिन्न प्रकार के रक्त विकारों को दूर करने के कायाकल्प वटी का उपयोग किया जा सके
  • विभिन्न प्रकार की पचा में होने वाली एलर्जी को कायाकल्प वटी के नियमित प्रयोग से दूर किया जा सकता है

अलोवेरा जेल

एलोवेरा प्रकृति में पाया जाने वाला  एक ऐसा आयुर्वेदिक पौधा है  शरीर के विभिन्न प्रकार के रोगों में किया जाता है एलोवेरा  प्राकृतिक रूप से एंटीऑक्सीडेंट एंटीसेप्टिक एंटीबायोटिक  गुणों के साथ-साथ शरीर की इम्यूनिटी बढ़ाने की क्षमता भी पाई जाती है एलोवेरा त्वचा में उपस्थित विभिन्न प्रकार के ऊतकों को रिपेयर करके उन्हें पुनः सामान्य स्थिति में बना देता है जिससे त्वचा में उपस्थित सभी प्रकार के विकास समाप्त हो जाते हैं एलोवेरा जेल के दैनिक प्रयोग से दाद खाज खुजली तथा अन्य  त्वचा के विचारों को नष्ट करता है और त्वचा की चमक बढ़ा सकते हैं उसे सुंदर और निरोग बनाता है जिन व्यक्तियों में दाद की समस्या होती है उनको दैनिक रूप से त्वचा पर एलोवेरा जेल का सेवन करना चाहिए जिससे कुछ दिन के प्रयोग के बाद दाद जैसी समस्या समाप्त हो जाती है

अलोवेरा जेल

अलोवेरा के फायदे 

  • एलोवेरा का प्रयोग दाद को जड़ से ख़त्म करने के लिए किया जाता है 
  • एलोवेरा का प्रयोग विभिन्न प्रकार के त्वचा से सम्बंधित रोगों के लिए किया जाता है 
  • एलोवेरा का प्रयोग पेट सम्बन्धीत विभिन्न बीमारियों में किया जाता है 
  • एलोवेरा का प्रयोग त्वचा को सुन्दर बनाने के लिए किया जाता है 
  • एलोवेरा में एंटीसेप्टिक गुण होने के कारण यह घाव को बहुत जल्दी ठीक करता है 
  • त्वचा में होने वाली एलर्जी को खत्म किया जा सकता है
  • खुजली को जड़ से इलाज के लिए एलोवेरा जेल का प्रयोग किया जाता है

त्रिफला गूगल

त्रिफला गूगल पतंजलि द्वारा बनाई गई है आयुर्वेदिक औषधि जिसको विभिन्न प्रकार के औषधियों द्वारा मिक्स करके बनाया गया है इसमें विभिन्न प्रकार के आयुर्वेदिक पदार्थों का प्रयोग किया गया है जो  त्वचा के विकारों को दूर करते हैं  तथा त्वचा में होने वाले विभिन्न प्रकार की बीमारियों को दूर करते हैं त्रिफला गूगल  दाद के लिए बहुत ही कारगर  औषधि है जिसका प्रयोग करके दाद को जड़ से खत्म किया जा सकता है त्रिफला का प्रयोग बवासीर के आयुर्वेदिक रामबाण इलाज के लिए किया जाता है जिन व्यक्तियों को दाद जैसी समस्या रहती है उनको दैनिक रूप से त्रिफला गुग्गल का प्रयोग करना चाहिए जिससे दाद की समस्या समाप्त हो जाती है तथा त्वचा पहले जैसी साफ-सुथरा व चमकदार हो जाएगी

त्रिफला गूगल

त्रिफला गुग्गुल के फायदे 

  • त्रिफला गुग्गल का दैनिक प्रयोग से त्वचा से दाद को जड़ से समाप्त किया जा सकता है 
  • त्रिफला गूगल के दैनिक से प्रयोग त्वचा संबंधी अन्य विकारों को भी दूर किया जा सकता है
  • डिप्रेशन को खत्म करने के लिए  त्रिफला गुग्गल का प्रयोग किया जाता है
  • शरीर में विभिन्न प्रकार के जीवाणुओं तथा एलर्जी को रोकने के लिए त्रिफला गूगल का दैनिक प्रयोग करना चाहिए

खुजली को जड़ से इलाज के लिए अंग्रेजी दवाइयां व टेबलेट

दाद एक ऐसी बीमारी है जो व्यक्तियों में फंगल इन्फेक्शन के कारण होती है यह एक विशेष प्रकार का फंगस होता है जो एक दूसरे के संपर्क में आने के कारण फैलता है और त्वचा पर विभिन्न प्रकार के बीमारियों को उत्पन्न करता है इसमें से दाद एक ऐसी बीमारी है जोकि त्वचा को बदसूरत और खुजली हो तो बना देती है इसमें शुरुआत में त्वचा पर खुजली होती है और लाल के धब्बे बनते हैं इन दोनों के किनारे किनारे कुछ समय बाद छोटे-छोटे उभरे हुए दाने दिखाई देते हैं जिससे उनका आकार छल्ले नुमा हो जाता है कुछ समय पश्चात संक्रमित भाग के त्वचा  सफेद और कड़ी परत दार हो जाती है  और इसमें  पस भी आ जाता है  उपरोक्त बताए गए आयुर्वेदिक दवाओं के अलावा हम आपको कुछ अंग्रेजी दवाओं की जानकारी उपलब्ध करा रहे हैं जिस के अध्ययन से दाद जैसे बीमारी को अतिशीघ्र जड़ से खत्म किया जा सकता है जिन व्यक्तियों में दाद  जैसी समस्या होती है उन को दैनिक रूप से निम्नलिखित दवाओं का प्रयोग करना चाहिए

  • टर्बिनाफिन (terbinafine)
  • फ्लुकोनाजोल (fluconazole)
  • कीटोकोनाजोल (ketoconazole)
  • एंफोटेरिसिन (amphotericin)

टर्बिनाफिन

टर्बिनाफिन (Terbinafine), इसका उपयोग विभिन्न फंगल विकारों के उपचार में किया जाता है और यह एथलीट फुट, जॉक खुजली, पीट्रियासिस वर्सिकोलर और रिंगवर्म जैसे फंगल संक्रमण के खिलाफ प्रभावी साबित हुआ है। इसे या तो मौखिक रूप से लिया जाता यह मूल रूप से एक एंटी-फंगस एजेंट है, लेकिन क्रीम और मरहम भी खुजली, जलन और क्रैकिंग और फंगस के कारण होने वाले संक्रमण से राहत देने में मदद करते हैं।

टर्बिनाफिन का प्रयोग त्वचा पर फंगल द्वारा  हुए संक्रमण से दाद की बीमारी को जड़ से खत्म किया जा सकता है दाद के लिए यह बहुत ही उपयुक्त दवा है दाद के साथ-साथ यह अन्य प्रचार होता है जड़ से खत्म करती है टर्बिनाफिन  एक प्रकार की क्रीम होती है जिसको त्वचा के ऊपरी हिस्से पर जहां पर ताप का संक्रमण होता है वहीं पर लगाते हैं और इसमें उपलब्ध एंटीबायोटिक तत्व त्वचा को हील करके त्वचा में नमी  रखते हैं और ऊतकों के  विकास में सहायक होते हैं जिससे त्वचा में उपलब्ध विभिन्न प्रकार की बीमारियां दूर हो जाती है 

टर्बिनाफिन

टर्बिनाफिन के फायदे
  • टर्बिनाफिन का प्रयोग दाद को खत्म करने के लिए किया जाता है
  • टर्बिनाफिन का प्रयोग विभिन्न प्रकार के रोगों के लिए किया जाता है
  • टर्बिनाफिन का प्रयोग एंटीसेप्टिक के रूप में किया जाता है
  • टर्बिनाफिन का प्रयोग त्वचा को नम तथा सुंदर बनाने के लिए किया जाता है

फ्लुकोनाजोल

जो टैबलेट के रूप में उपलब्ध है। यह दवाई खासतौर से फंगल इन्फेक्शन, कैंडिडा संक्रमण, यूरिन इन्फेक्शन के उपचार के लिए इस्तेमाल की जाती है। इस दवाई Fluconazole को अन्य दिक्कतों में भी काम लिया जा सकता है फ्लुकोनाजोल दाद के लिए बहुत ही उपयुक्तऔषधि है इस दवा के नियमित सेवन से दाद जैसी बीमारी को जड़ से खत्म किया जा सकता है  जिन व्यक्तियों में दाद का इंफेक्शन होता है उनको दैनिक रूप सेफ्लुकोनाजोल का सेवन करना चाहिए फ्लुकोनाजोल शरीर में होने वाली कुष्ठ जैसी बीमारी को जड़ से खत्म कर सकती है यह एक कारगर दवा है जो कि त्वचा के विभिन्न प्रकार के विकारों को दूर कर देती है तथा शरीर की त्वचा को सुंदर और आकर्षक बना देती है जिन व्यक्तियों में फंगस के इंफेक्शन से त्वचा में कुछ समस्याएं हो जाती हैं उनको दैनिक रूप सेफ्लुकोनाजोल का प्रयोग करना चाहिए 

फ्लुकोनाजोल

फ्लुकोनाजोल के फायदे 
  • फ्लुकोनाजोल के दैनिक प्रयोग से दाद जैसे समस्या जड़ से खत्म हो जाती है
  • फ्लुकोनाजोल के दैनिक प्रयोग से शरीर में विभिन्न प्रकार की त्वचा रोग को दूर किया जा सकता है
  • कुष्ठ जैसी समस्या को जड़ से मिटाने के लिए फ्लुकोनाजोल का प्रयोग किया जाता है
  • त्वचा को सुंदर तथा आकर्षक बनाने के लिए फ्लुकोनाजोल का प्रयोग किया जाता है

यह भी जाने : सर्दी जुकाम से हैं परेशान तो लीजिये ये दवा

कीटोकोनाजोल 

जब विभिन्न प्रकार की आयुर्वेदिक तथा अंग्रेजी दवाइयां दाद पर असरदार नहीं होती हैं तो कीटोकोनाजोल का इस्तेमाल गंभीर फंगल संक्रंण के इलाज के लिए किया जाता है। ये एजोल एंटीफंगल दवाओं के रूप में जानी जाने वाली दवाओं के एक वर्ग से संबंधित है। इसका उपयोग स्किन, हेयर, नाखून और ब्लड में फंगल और यीस्ट इंफेक्शन के लिए किया जाता है कीटोकोनाजोल दाद के लिए बहुत ही असरदार दवा है जिसके दैनिक प्रयोग से दाद जैसी भयानक बीमारी को जड़ से खत्म किया जा सकता है तथा अपनी त्वचा को स्वस्थ तथा सुंदर बनाया जा सकता है पीड़ित व्यक्ति को कीटोकोनाजोल का प्रयोग दैनिक रूप से करना चाहिए कीटोकोनाजोल का  प्रयोग एलर्जी से बचने के लिए करते हैं

कीटोकोनाजोल 

कीटोकोनाजोल के फायदे
  • कीटोकोनाजोल का प्रयोग दाद को जड़ से खत्म करने के लिए करते हैं
  • त्वचा पर विभिन्न प्रकार की बीमारियों को ठीक करने के लिएकीटोकोनाजोल  का प्रयोग करते हैं
  • त्वचा में एलर्जी की समस्या को ठीक करने के लिएकीटोकोनाजोल  का प्रयोग किया जाता है
  • त्वचा को स्वस्थ तथा सुंदर बनाने के लिएकीटोकोनाजोल  का प्रयोग किया जाता है

एंफोटेरिसिन

एंफोटेरिसिन फंगस इंफेक्शन के लिए बहुत ही कारगर दवा है यह शरीर से विभिन्न प्रकार के फंगस के क्षण को खत्म करती है दाद की बीमारी एक विशेष प्रकार के फंगस इंफेक्शन के कारण होती होती है दाद को जड़ से मिटाने के लिएएंफोटेरिसिन  दवा का प्रयोग किया जाता है जिन व्यक्तियों में दाद जैसी समस्याएं हो जाती हैं उनको दैनिक रूप से एंफोटेरिसिन दवा का प्रयोग करना चाहिए इससे दाद की बीमारी जड़ से खत्म हो जाती है और त्वचा स्वस्थ और प्राकृतिक रूप से सुंदर हो जाती है एंफोटेरिसिन का प्रयोग ब्लैक को दूर करने के लिए भी किया जाता है

एंफोटेरिसिन के फायदे
  • एंफोटेरिसिनदैनिक प्रयोग से दांत जैसे भयानक बीमारी को खत्म किया जा सकता है
  • त्वचा की विभिन्न प्रकार की बीमारियों के लिए एंफोटेरिसिन का प्रयोग करते हैं
  • एंफोटेरिसिन का प्रयोग त्वचा की एलर्जी को ठीक करने के लिए करते हैं
  • त्वचा को मुलायम व सुंदर बनाने के लिए एंफोटेरिसिन का प्रयोग किया जाता है

भयंकर दाद खाज की दवा होम्योपैथिक दवाइयां

भयानक दाद खाज को खत्म करने के लिए अंग्रेजी दवाओं तथा आयुर्वेदिक दवा के साथ साथ कुछ होम्योपैथिक दवाओं का भी प्रयोग किया जाता है जिनके दैनिक प्रयोग से फंगल इंफेक्शन से होने वाली विभिन्न प्रकार की बीमारियां जैसे दाद आदी को जड़ से खत्म किया जा सकता है यदि किसी व्यक्ति को फंगल इंफेक्शन है तो नियमित रूप से होम्योपैथिक दवाओं का प्रयोग करके ठीक किया जा सकता है निम्नलिखित कुछ होमोपैथिक दवाइयों के नाम दिए गए हैं जिनके प्रयोग से दाद जैसी भयानक बीमारी को ठीक किया जा सकता है 

  • आर्सेनिक एल्बम
  • दुल्कामारा
  • नेट्रम म्यूरीएटिकम
  • सोरीनम

आर्सेनिक एल्बम

आर्सेनिक एल्बम का प्रयोग  फंगस इंफेक्शन को खत्म करने के लिए किया जाता है फंगल इंफेक्शन के कारण  शरीर में हुए  दाद जड़ से खत्म किया जा सकता है आर्सेनिक एल्बम का प्रयोग शरीर की प्रतिरक्षा तंत्र को मजबूत करने के लिए किया जाता है शरीर का प्रतिरक्षा तंत्र मजबूत होने के कारण हमारे शरीर पर किसी भी प्रकार के परजीवी या फंगस का प्रभाव नहीं होता है आर्सेनिक एल्बम कोरोना काल में  शरीर को बढ़ाने के लिए  भीआर्सेनिक एल्बम  का प्रयोग काफी मात्रा में किया गया है यदि आप त्वचा रोग से  परेशान हैं आपको निश्चित रूप से आर्सेनिक एल्बम  का प्रयोग करना चाहिए इसके दैनिक प्रयोग से त्वचा में होने वाले दाग धब्बों को जड़ से खत्म किया जा सकता है तथा अपनी त्वचा को सुंदर बनाया जा सकता है

आर्सेनिक एल्बम

आर्सेनिक एल्बम के फायदे
  • आर्सेनिक एल्बम का प्रयोग दाद को जड़ से खत्म करने के लिए किया जाता है
  • शरीर की प्रतिरक्षा तंत्र को मजबूत करने के लिए आर्सेनिक एल्बम का प्रयोग किया जाता है
  • त्वचा को सुंदर बनाने के लिए आर्सेनिक एल्बम का प्रयोग दैनिक रूप से करना चाहिए
  • कोरोना के उपचार के लिए शरीर की इम्युनिटी को बढ़ाने के लिए आर्सेनिक एल्बम  का प्रयोग किया जाता है
  • आर्सेनिक एल्बम होम्योपैथिक औषधि पांच बूंदों का प्रयोग सुबह शाम करना चाहिए 

दुलकेमारा

हरपीज वायरस इंफेक्शन से शरीर में बाद जैसी समस्या उत्पन्न हो जाती है यदि हम दैनिक रूप से दुल्कामारा का प्रयोग करते हैं तो हर फंगल इंफेक्शन से होने वाला ददा को निश्चित रूप से ही ठीक किया जा सकता है त्वचा पर होने वाले विभिन्न प्रकार के इंफेक्शन के लिए हमें दुल्कामारा  दवा का प्रयोग करना चाहिए जिन पुरुषों या व्यक्तियों में दाद तथा त्वचा संबंधी रोग होते हैं उनको अपनी त्वचा को स्वस्थ बनाने के लिए दुल्कामारा नाम की होम्योपैथिक औषधि का प्रयोग करना चाहिए इसके दैनिक प्रयोग से दाद जैसी बीमारी को जड़ से खत्म कर सकते हैं

दुलकेमारा

दुलकेमारा का प्रयोग तथा फायदे
  • दाद जैसी समस्या को ठीक करने के लिए दुल्कामारा का प्रयोग किया जाता है
  • त्वचा में होने वाली एलर्जी को दूर करने के लिए दुल्कामारा का प्रयोग किया जाता है
  • त्वचा संबंधित विभिन्न प्रकार के विकरों को दूर करने के लिए दुल्कामारा का प्रयोग किया जाता है
  • दुल्कामारा के दैनिक प्रयोग से त्वचा को सुंदर हो स्वस्थ बनाया जा सकता है

नेट्रम म्यूरीएटिकम

नेट्रम म्यूरीएटिकम का प्रयोग दाद को जड़ से खत्म करने के लिए किया जाता है इसमें उपस्थित विभिन्न प्रकार के औषधीय गुणों के कारण  यह त्वचा के खराब हुए उतकों को रिपेयर करने के काम करते हैं जिससे त्वचा में होने वाले विभिन्न प्रकार की बीमारियां ठीक हो जाती हैं दाद एक संक्रमण द्वारा फैलने वाली बीमारी है जो हमारी त्वचा को प्रभावित करती है जिससे त्वचा पर विभिन्न प्रकार के लाल रंग के घेरे तथा चकत्ते पड़ जाते हैं  जिसके कारण हमारे त्वचा में  खुजली तथा अन्य बीमारियाँ हो जातीं हैं नेट्रम म्यूरीएटिकम इन सब बीमारियों को दूर करके पचा को सुंदर हो स्वस्थ बनाती है

नेट्रम म्यूरीएटिकम

नेट्रम म्यूरीएटिकम दवा का प्रयोग तथा फायदे
  • नेट्रम म्यूरीएटिकम के दैनिक प्रयोग से दाद जैसे बीमारी को जड़ से खत्म कर सकते हैं
  • त्वचा की विभिन्न प्रकार की बीमारियों को खत्म करने के लिए नेट्रम म्यूरीएटिकम का प्रयोग किया जा सकता है
  • त्वचा  में होने वाली एलर्जी को दूर करने के लिए नेट्रम म्यूरीएटिकम  का प्रयोग करते हैं
  • नेट्रम म्यूरीएटिकम का प्रयोग त्वचा को स्वस्थ तथा सुंदर बनाने के लिए किया जाता है

सोरीनम

फंगल इन्फेक्शन को दूर करने के लिए सोरीनम दवा का प्रयोग किया जाता है जो कि विशेष प्रकार से सर में होने वाले फंगस के लिए बनी होती है  सिर पर फंगस के इंफेक्शन के कारण  सर के बाल अत्यधिक मात्रा में झड़ने लगते हैं  तथा सिर में  दाद जैसी  संरचनाएं दिखाई देती हैं  जिम में खुजली तथा दर्द होता है और कुछ समय बाद  बाल झड़ने के बाद यह दाद वाली त्वचा टाइट तथा पश युक्त हो जाती है जिन व्यक्तियों में दाद की समस्या होती है उनको दैनिक रूप से सोरीनम  का प्रयोग करना चाहिए जिससे त्वचा  संबंधी  कोई भी रोग नहीं होता है 

सोरीनम

सोरीनम के प्रयग से होने वाले फायदे 
  • सोरीनम दैनिक प्रयोग से दाद जैसे फंगस इंफेक्शन होने वाली बीमारी दूर हो जाती है
  • त्वचा में होने वाली  विभिन्न प्रकार की बीमारियों के लिए सोरीनम दवा का प्रयोग किया जाता है
  • एलर्जी से बचने के लिए सोरीनम दवा का प्रयोग करना चाहिए
  • सोरीनम दवा का प्रयोग त्वचा को स्वस्थ तथा सुंदर बनाने के लिए किया जाता है

daad ki cream 

दादी एक ऐसी बीमारी है जिससे शरीर पर विभिन्न प्रकार के  दाग धब्बे हो जाते हैं  जिसके कारण शरीर के ऊपरी त्वचा बहुत ही बदसूरत लगने लगती है और  शरीर में खुजली के कारण त्वचा पर लाल रंग के धब्बे हो जाते हैं कुछ समय पश्चात धब्बो के किनारे पर  लाल रंग के छोटे-छोटे दाने हो जाते हैं और एक घेरे का रुप  ले  लेते हैं  तथा बाद में इनकी त्वचा सुख कर कड़ी पपड़ी पड़ जाती है  जिससे इंफेक्शन वाले स्थान पर बहुत ज्यादा दर्द और खुजली होती है इससे बचने के लिए विभिन्न प्रकार की आयुर्वेदिक तथा अंग्रेजी दवाइयां उपलब्ध हैं किंतु कुछ लोगों को इन दवाइयों के प्रयोग से एलर्जी तथा विभिन्न प्रकार की अन्य समस्याएं होने लगती हैं इन समस्याओं से बचने के लिए आज हम आपको दाद से बचने के लिए कुछ ऐसी क्रीम के बारे में बताएंगे जिनके प्रयोग के बाद आप दाद जैसी समस्या से छुटकारा पा सकते हैं यह क्रीम निम्नलिखित हैं

  • सिपलाडिन cipladine
  • डर्मिफोर्ड क्रीम dermiford cream
  • पीलेक्स फोर्टो Felix photo
  • फंगी क्रॉस क्रीम fungi cross cream
  • हिमालय एंटीसेप्टिक Himalaya antiseptic

सिपलाडिन cipladine

दाद फंगल इंफेक्शन से होने वाली बीमारी है अगर किसी को यह बीमारी हो जाती है, तो यह बीमारी जल्दी से नहीं समाप्त होती है, लेकिन आज हम आपको बताएंगे दाद को जड़ से खत्म करने का इलाज दाद खाज खुजली की अंग्रेजी दवा tablet आइए हम आपको बताते हैं। दाद को जड़ से खत्म करने की दवा का नाम सिप्लाडिन ऑइंटमेंट एक एंटीसेप्टिक दवा है, जिसका इस्तेमाल मामूली घाव, बर्न्स और संक्रमण के इलाज और बैक्टीरिया को मारने के लिए किया जाता है। यह सेल घटकों को ऑक्सीकरण करता है और उन्हें आयोडेट करके प्रोटीन को निष्क्रिय करता है। यह दाद जैसी समस्या को जड़ से खत्म करता है जिन लोगों में दाल की समस्या होती है उसको दैनिक रूप से सिप्लाडिन ऑइंटमेंट  का प्रयोग करना चाहिए

सिपलाडिन cipladine

सिप्लाडिन ऑइंटमेंट के फायदे
  • सिप्लाडिन ऑइंटमेंट दाद तथा दाद से होने वाले घाव को ठीक करती है
  • सिप्लाडिन ऑइंटमेंट का प्रयोग एंटीसेप्टिक के रूप में किया जाता है
  • सिप्लाडिन ऑइंटमेंट का प्रयोग एलर्जी को दूर करने के लिए किया जाता है
  • सिप्लाडिन ऑइंटमेंट का प्रयोग घाव में ड्रेसिंग के लिए किया जाता है

डर्मिफोर्ड क्रीम

डर्मिफोर्ड क्रीम दवाओं का एक मिश्रण है जो बैक्टीरिया और फंगी जैसे सूक्ष्मजीवों के कारण हुए त्वचा का संक्रमण के इलाज में इस्तेमाल किया जाता है  यह सूक्ष्मजीवों के कारण होने वाले इन्फेक्शन की वृद्धि को मारता है और रोकता है, जिससे संक्रमण समाप्त हो जाता है और लक्षणों से आराम मिलता है फंगल इंफेक्शन से होने वाले  दाद को जड़ से खत्म करने के लिए डर्मिफोर्ड क्रीम का प्रयोग किया जाता है जिसके द्वारा दांत जैसी समस्या जड़ से खत्म हो जाती हैं और साफ सुथरा और स्वस्थ हो जाती है  जिन व्यक्तियों में दाद की समस्या रहती है उनको  अपनी त्वचा पर डर्मिफोर्ड क्रीम क्रीम का प्रयोग करना चाहिए  जिससे वह दाद की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं  और त्वचा पर होने वाले फंगस इंफेक्शन की बीमारियों से बचा जा सकता है

डर्मिफोर्ड क्रीम

डर्मिफोर्ड क्रीम के फायदे
  • डर्मिफोर्ड क्रीम का प्रयोग दाद को दूर करने के लिए जाता है
  • डर्मिफोर्ड क्रीम का प्रयोग एलर्जी को दूर करने के लिए किया जाता है 
  • डर्मिफोर्ड क्रीम का प्रयोग त्वचा संबंधी विकारों को दूर करने के लिए किया जाता है
  • डर्मिफोर्ड क्रीम का प्रयोग एंटी फंगल के इलाज में किया जा सकता है जिसमें क्रीम के साथ गोलियां भी शामिल हैं

फ्लेक्स फोर्ट

पीलेक्स फोर्टो का प्रयोग डॉन जैसी खतरनाक बीमारी को दूर करने के लिए क्या किया जाता है  दंगल इंफेक्शन से होने वाली बीमारी है जिसमें त्वचा के बाहरी हिस्से पर इंफेक्शन हो जाता है जिसमें त्वचा में खुजली होने लगती है और त्वचा का रंग लाल हो जाता है धीरे-धीरे उस स्थान पर दानेदार घेरे पड़ जाते हैं और अत्यधिक खुजली और जलन होने लगती है जिससे इंडक्शन वाले स्थान पर खून या पश आने लगती है और अत्यधिक खुजली और दर्द होने लगता है दाद को इन लक्षणों को दूर करने के लिए पीलेक्स फोर्टो का प्रयोग किया जाता है जिन व्यक्तियों में दांत का संक्रमण होता है उनको  दैनिक रूप से पीलेक्स फोर्टो  क्रीम का प्रयोग करना चाहिए जिससे त्वचा संबंधी सभी बीमारियां ठीक हो जाती हैं और त्वचा स्वस्थ और निरोग हो जाती है

फ्लेक्स फोर्ट

फ्लेक्स फोर्ट का फायदा 
  • पीलेक्स फोर्टो का प्रयोग दाद को ठीक करने के लिए किया जाता है 
  • पीलेक्स फोर्टो का प्रयोग त्वचा की एलर्जी को दूर करने के लिए किया जाता है 
  • त्वचा संबंधी विभिन्न प्रकार की  बीमारियों को दूर करने के लिए पीलेक्स फोर्टो का प्रयोग  किया जाता है
  • त्वचा की बीमारी को दूर करने के लिए पीलेक्स फोर्टो का प्रयोग किया जाता है

फंगी क्रॉस क्रीम

फंगीक्रॉस क्रीम एक दवा है जिसका इस्तेमाल त्वचा और नेल्स में होने वाले विभिन्न प्रकार के फंगल इन्फेक्शन के इलाज के लिए किया जाता है. यह इन्फेक्शन उत्पन्न करने वाली फंगी को मारता है, जो लालिमा, सूजन, खुजली आदि जैसे लक्षणों में आराम दिलाने में मदद करता है  फंगीक्रॉस क्रीम का प्रयोग दाद  जैसे समस्या को खत्म करने के लिए किया जाता है केवल बाहरी अंगों के लिए है और इसे डॉक्टर द्वारा दी गई सलाह के अनुसार इस्तेमाल किया जाना चाहिए  दवा की पतली परत को साफ और सूखे हाथों से त्वचा के केवल प्रभावित क्षेत्रों पर लगाया जाना चाहिए. अगर यह आपकी आंख, नाक, या मुंह में चला जाता है तो पानी से धो लेन चाहिए 

फंगी क्रॉस क्रीम

फंगीक्रॉस क्रीम के फायदे 
  • फंगीक्रॉस क्रीम दाद को जड़ से समाप्त कर देती है
  • फंगीक्रॉस क्रीम लालिमा, सूजन, खुजली आदि जैसे लक्षणों में आराम दिलाने में मदद करता है
  • फंगीक्रॉस क्रीम  त्वचा की अन्य बीमारियों के लिए इसका प्रयोग किया जा सकता है
  • त्वचा की एलर्जी से बचने के लिए फंगीक्रॉस क्रीम  का प्रयोग करते हैं
  •  त्वचा की बाहरी परजीवी सूक्ष्म जीवों से  रक्षा के लिए फंगीक्रॉस क्रीम का प्रयोग करते हैं

हिमालय एंटीसेप्टिक क्रीम 

हिमालया कंपनी द्वारा बनाई गई है हिमालया एंटीसेप्टिक क्रीम पूर्ण रूप से आयुर्वेदिक औषधि जो प्रकृति में पाय जाने वाले  विभिन्न प्रकार के हर्बल के मिश्रण से बनाई जाती है जिनके शरीर पर कोई भी साइड इफेक्ट नहीं होते हैं तथा यह अत्यधिक लाभदायक और सुरक्षित होती है हिमालया एंटीसेप्टिक क्रीम  शामिल मुसब्बर वेरा, बादाम, भारतीय मजीठ और अन्य प्राकृतिक प्राकृतिक तत्वों के मिश्रण से बनाई जाती है जो बचा के लिए बहुत ही लाभदायक यह दांत जैसे बीमारी को जड़ से खत्म कर देती है और बचाव और पहले जैसी सुंदर और चमकदार बना सकती हो यदि किसी व्यक्ति को दाद की समस्या हुई है और वह  विभिन्न प्रकार की दवाइयों का सेवन करके परेशान हो  गया है तो एक बार उसे हिमालय एंटीसेप्टिक क्रीम का प्रयोग जरूर करना चाहिए शरीर में दाद के साथ-साथ चेहरे पर पड़ने वाली झांई चकत्ते, घावों, आदि को भी ठीक करती है इसके नियमित प्रयोग से त्वचा के विभिन्न बीमारियों को दूर किया जा सकता है

हिमालय एंटीसेप्टिक क्रीम 

हिमालय एंटीसेप्टिक क्रीम के फायदे
  • हिमालय एंटीसेप्टिक क्रीम दाद के लिए रामबाण दवा है
  • हिमालय एंटीसेप्टिक क्रीम का घाव के लिए एंटीसेप्टिक के रूप में प्रयोग की जाती है
  • हिमालय एंटीसेप्टिक क्रीम का प्रयोग एलर्जी से बचने के लिए किया जाता है
  • त्वचा में होने वाले विभिन्न प्रकार की समस्याओं को चकत्ते, घावों,झांई आदि को हिमालय एंटीसेप्टिक क्रीम के नियमित सेवन से दूर किया जा सकता है

Read Also : पेशाब में जलन की होम्योपैथिक दवा – कुछ घरेलू इलाज

आज के इस लेख में हमने आपको दाद की समस्या से निपटने के लिए विभिन्न प्रकार की आयुर्वेदिक तथा एलोपैथिक दवाओं की जानकारी जरूर दवाओं का सेवन नहीं कर पाते हैं या फिर दवाओं के सेवन से उनको किसी भी प्रकार की होती है उनके लिए उपयुक्त टैबलेट में क्रीम के जानकारी दी गई अतः आप यदि दाद की समस्या को जड़ से खत्म करना है दवाओं की जानकारी देकर तथा दवाओं का प्रयोग करते हुए आप अपने दाद को ठीक कर सकते हैं अक्सर लोगों को आपस में बात करते हुए सुना जाता है कि पुराने से पुराने दाद की दवा बताइए आज के इस लेख में हम मैं आपको हर प्रकार के दांत से निपटने के लिए दवा की जानकारी दी है आशा है कि इस जानकारी द्वारा आप दवा का प्रयोग करते हुए अपनी त्वचा पर हुई विभिन्न प्रकार के समस्याओं से छुटकारा पा सकते हैं ऊपर एक लेख में बताए गए सभी दवाइयां दाद को जड़ से खत्म करने की दवा हैं तथा ये दवाइयां त्वचा के लिए पूर्ण रूप से सुरक्षित वाह फायदेमंद है इनका आपके शरीर पर कोई भी साइड इफेक्ट दवाओं के साइड इफेक्ट से बचने के लिए आप अपने डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं और बताया गया परामर्श के अनुसार दवाओं का प्रयोग कर सकते हैं

FAQ

दाद को जड़ से मिटाने के लिए क्या करें?

दाद को जड़ से मिटाने के लिए उपरोक्त लेख बताए गए सभी प्रकार के औषधियों का प्रयोग करते हुए दाद की समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है उपरोक्त लेख में बताई गई सभी प्रकार की औषधियां पूर्णतया सुरक्षित और सरदार हैं इनका हमारे शरीर पर कोई साइड इफेक्ट नहीं होता है बताए गए दवाओं का प्रयोग करने के लिए डॉक्टर के परामर्श के अनुसार उनका मात्रा तथा उपयोग विधि के बारे में जानकारी कर ले जिससे आपकी त्वचा पर अन्य किसी भी प्रकार की समस्या उत्पन्न ना हो 

दाद को दूर होने में कितना समय लगता है?

यह कह पाना बहुत मुश्किल है कि दाद को ठीक होने में कितना समय लग सकता है क्योंकि आपको किस प्रकार दाद है या इसे हुए कितने दिन हो गए हैं यह सब देख कर ही बताया जा सकता है कि दाद को ठीक होने में कितने का दिन का समय लगता है यदि आप डॉक्टर से मिलते हैं और पूरी समस्या बताते हैं तो डॉक्टर आपको उसी हिसाब से दवा की मात्रा और समय अवधि बता सकता है जिससे आपका दाद जल्दी से जल्दी ठीक हो जाए

मनुष्यों में दाद का क्या कारण है?

दाद होने का मुख्य कारण फंगल इंफेक्शन होता है एक प्रकार का परजीवी फंगस होता है जो एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति को संक्रमित करता है तथा  कुछ समय बाद त्वचा के ऊपरी परत को प्रभावित करता है जिसमें त्वचा का रंग लाल हो जाता है और खुजली होने लगती है कुछ समय पश्चात खुजली वाले स्थान पर घेरे बनने  लगते हैं तथा पश व खून आने लगता है उपरोक्त लेख में बताई गई सभी दवाइयां दाद को जड़ से खत्म करने की दवा है जिनका प्रयोग करके दाद को जड़ से खत्म कर सकते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published.