प्रोस्टेट की रामबाण दवा | प्रोस्टेट का तुरंत इलाज

प्रोस्टेट पुरुषों में वीर्य बनाने वाली ग्रंथि को कहते हैं। इसी ग्रंथि के द्वारा ही पुरुषों में बन रहे वीर्य के लिए पोषण जुटाने का काम करता है। पुरुषों में जब भी प्रोस्टेट में किसी भी प्रकार की समस्या जन्म लेने लगती है। तो उसका असर उनके वीर्य और प्रोस्टेट पर भी पड़ने लगता है। इस पर ध्यान ना दिया जाए तो ज्यादा फैल कर प्रोस्टेट कैंसर का रूप ले लेता है। प्रोस्टेट कैंसर जब अपने शुरुआती दौर में होता है। तो इसके उपचार की  बहुत ही प्रबल संभावना होती है। इसीलिए इसके प्रारंभिक समय में ही इसकी पहचान करके  इसका इलाज तुरंत चालू कर देना चाहिए, क्योंकि आयुर्वेदिक में प्रोस्टेट की रामबाण दवा भी उपलब्ध है। जिसका उपयोग करके आप किसी अन्य समस्या से बचते हुए प्रोस्टेट का इलाज करते हैं। अगर आपके शरीर में प्रोस्टेट कैंसर से जुड़ी किसी भी प्रकार के लक्षण हैं। तो इसकी तुरंत ही करनी चाहिए क्योंकि इसकी पहचान स्क्रीनिंग की जा सकती है।

प्रोस्टेट  पुरुषों में 50 की उम्र के बाद बढ़ने स्टार्ट हो जाते हैं। प्रोस्टेट पुरुषों में  ब्लैडर के नीचे होता है जोकि मूत्र मार्ग में चारों ओर से घेरे हुए होता है।कभी-कभी इसमें सूजन आ जाने के कारण से भी बहुत से दिक्कतें होने लगती हैं लेकिन इसमें बहुत ज्यादा परेशान होने की कोई आवश्यकता नहीं है क्योंकि इसके पास समय में ही इसकी पहचान कर  इसका इलाज चालू कर सकते हैं तो इसमें किसी भी प्रकार की कोई दिक्कत नहीं होती है इसके इलाज के लिए आप एलोपैथिक और आयुर्वेदिक दवाओं का इस्तेमाल कर सकते हैं।

प्रोस्टेट होने के कारण 

प्रोस्टेट की समस्या 50 वर्ष से ऊपर के पुरुषों में अधिकतर देखी जाती है। प्रोस्टेट पुरुषों में एक ऐसी नली होती है जो कि मूत्र मार्ग से होते हुए लिंग के अंत तक जाती है। जब कोई भी व्यक्ति पेशाब करता है तो पेशाब की नली से होते हुए बाहर की ओर निकलता है।  प्रोस्टेट के बढ़ने के कारण ही पेशाब में रुकावट, जलन और दर्द का भी सामना करना पड़ता है। प्रोस्टेट का अगर इलाज करने में लापरवाही बरती गई तो यह कैंसर का रूप ले सकता है। इसीलिए पतंजलि मेडिसिन फॉर प्रोस्टेट का भी इस्तेमाल करके आप प्रोस्टेट का इलाज कर सकतें हैं। प्रोस्टेट की समस्या निम्नलिखित कारणों से होते हैं।

  • उम्र बढ़ने के साथ मेल और मूंछ की कमी होना
  •  अनुवांशिक कारण
  • हृदय रोग
  •  रक्त संबंधी रोग
  •  अत्यधिक मोटापा
  •  टाइप टू डायबिटीज
  •  शारीरिक गतिविधियों का रुकना
  •  अत्यधिक हस्तमैथुन 

प्रोस्टेट के शुरुआती लक्षण 

प्रोस्टेट के बहुत सारे शुरुआती लक्षण होते हैं जिनको हम पहचान कर इसके सही और सटीक इलाज का रास्ता निकाल सकते हैं जिससे हमें इससे होने वाली बड़ी समस्या जैसे प्रॉस्टेट कैंसर होने का खतरा भी खत्म हो जाता है।  क्योंकि इसके शुरुआती लक्षणों को ही पहचान  जाने पर इसके शुरुआती समय में ही इसका इलाज संभव होता है। नहीं तो इसके ज्यादा समय बीत जाने के बाद इसके इलाज में बहुत सारी दिक्कतें आने लगती हैं और इसका सही से इलाज नहीं हो पाता है क्योंकि यह अधिकतर ज्यादा उम्र के पुरुषों में होती है इसलिए उनके अंदर रोग प्रतिरोधक क्षमता भी कम हो जाती है  जो कि किसी भी इलाज के लिए बहुत ही का प्रमुख कारणों में से एक है। हम आपको प्रोस्टेट के बारे में बहुत से ऐसे लक्षण बताने जा रहे हैं। जिनके बारें में आप जानने के बाद आप इस समस्या को प्रोस्टेट की एलोपैथिक दवा का भी इस्तेमाल करके ठीक कर सकतें हैं।

  • पेशाब में जलन और दर्द
  •  बार बार पेशाब का रुक जाना
  •  रात में बार बार पेशाब के लिए जाना
  •  मूत्राशय में नियंत्रण ना होना
  •   मूत्र में रक्त आना
  • वीर्य की  रक्त मात्रा 
  •  स्खलन के दौरान दर्द होना 

पतंजलि में प्रोस्टेट की दवा

पतंजलि में लगभग हर मर्ज की दवा उपलब्ध है उसी प्रकार प्रोस्टेट की समस्या  से निजात के लिए भी इसमें बहुत सारी ऐसी दवाएं उपलब्ध है। जिसके इस्तेमाल से आप अपने प्रोस्टेट की समस्या को खत्म कर सकते हैं। पतंजलि में बहुत सारी ऐसी दवा है हे जोकि आयुर्वेदिक औषधियों और जड़ी बूटियों के मिश्रण से बनी होती है और वह आपके शरीर में किसी भी प्रकार की अन्य समस्या को जन्म नहीं देती हैं। आयुर्वेदिक दवाओं के इस्तेमाल से किसी भी प्रकार का साइड इफेक्ट नहीं होता है। 

  • दिव्य उशिरासव 
  • दिव्य स्वेत मूसली 
  • पतंजलि खदिरादी वटी ( प्रोस्टेट की रामबाण दवा in hindi )
  • पतंजलि शतावरी चूर्ण 
  • पतंजलि पुनर्नवादि मंडूर 
  • गोरखमुंडी 
  • सालम मिश्री 
  • चंद्रप्रभा वटी 
  • वरुणादि वटी 
  • कचनार गुगगल   
Read also : दाद को जड़ से खत्म करने की दवा

दिव्य उशिरासव

उशीरासव दवा प्रोस्टेट की समस्या से निजात पाने के लिए सबसे अच्छी दवा में से एक मानी जाती है।  यह दवा अंगूर, जटामांसी, लोध्र, मंजिष्ठा, पाथा, उशिरा, शहद, धातकी, चिरायता, प्रियांगू, धमासा आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों के मिश्रण से बनी हुई है। इसमें   पाए जाने वाले सभी तत्व  प्रोस्टेट की समस्या को खत्म करने के लिए बहुत ही लाभकारी और गुणकारी है। इस दवा को आप  12 ml  की मात्रा में ठंडे पानी में मिलाकर दिन में दो बार ले सकते हैं। इसके बेहतर उपाय के लिए कम से कम 3 हफ्ते तक इसका इस्तेमाल करना जरूरी है।

प्रोस्टेट की रामबाण दवा

पतंजलि दिव्य स्वेत मूसली 

पतंजलि में प्रोस्टेट की दवा उपलब्ध है जैसे- पतंजलि सफेद मूसली अपने औषधीय गुणों के कारण ही हमेशा से आयुर्वेद में महत्वपूर्ण औषधियों के रूप में इस्तेमाल की जाती रही है। सैकड़ों जड़ी बूटियों के मिश्रण से बनी हुई पतंजलि दिव्य श्वेत मूसली विशेष रुप से शक्तिवर्धक दवाओं में से एक है। जो कि पुरुषों में प्रोस्टेट की कमी को दूर करने और स्पर्म काउन्ट बढ़ाने का काम करती है। सफेद मूसली में सेपोनिन पाया जाता है। जिससे पुरुषों में शारीरिक दुर्बलता खत्म होती है और उनकी यौन शक्ति के संवर्धन के लिए यह बहुत ही महत्वपूर्ण और श्रेष्ठ औषधियों में से एक मानी जाती है। सफेद मूसली पुरुषों के शरीर में पहुंच कर प्रोस्टेटकी वृद्धि करता है। जोकि उनके अंदर काम इच्छा को जागृत करने का काम करता है।

प्रोस्टेट की रामबाण दवा

पतंजलि खदिरादि वटी

पतंजलि खदिरादि वटी प्रोस्टेट की समस्या से निदान के लिए प्रसिद्ध टेबलेट के रूप में जानी जाती है। यह वीर्य से संबंधित समस्याओं को दूर करने के लिए बहुत ही गुणकारी एवं लाभकारी टेबलेट मानी जाती है। इस दवा को मुंह के छाले से निजात पाने के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है। इस टेबलेट में जावित्री,कांकोल मिर्च,कपूर,सुपारी,खैरसार का मिश्रण पाया जाता है। जोकि प्रोस्टेट की कमी  के लिए बहुत ही अच्छे खाद्य पदार्थ माने जाते हैं। इस टैबलेट को खाने से पेट से संबंधित समस्याएं भी दूर होती है। इस टेबलेट के सेवन के बारे में किसी  वैद्य से भी परामर्श कर सकते हैं। 

प्रोस्टेट की रामबाण दवा

 पतंजलि शतावरी चूर्ण

पतंजलि आयुर्वेदिक मेडिसिन फॉर प्रोस्टेट शतावरी चूर्ण हर्बल पौधे से बनी आयुर्वेदिक दवा है जोकि पुरुषों में प्रोस्टेट की समस्या को खत्म करने और शारीरिक दुर्बलता के लिए बहुत ही उपयोगी है और यह पुरुषों के जीवन में यौन समस्या से खराब हो रही जीवन शैली को सुधारता है। जिससे इसका सीधा असर आपके वैवाहिक जीवन पर पड़ता है। पतंजलि शतावरी चूर्ण हमारे शरीर के इम्यून सिस्टम को बढ़ाता है। शरीर में उत्तेजना उत्पन्न करता है। जोकि संभोग समय बढ़ाता है । संभोग समय बढ़ने से पुरुषों को शीघ्रपतन की समस्या से निजात मिल जाता है। इस दवा में एंटीडिप्रेशन गुण होते हैं। जिससे आपके शरीर में तनाव की कमी आती है। प्रोस्टेट की समस्या से बचने के लिए मानसिक तनाव का खत्म होना बहुत ही जरूरी होता है। इसको गर्म दूध के साथ सुबह और शाम में 6 से 11 ग्राम की मात्रा में ले सकते हैं इसको सोने से डेढ़ से 2 घंटे पहले लिया जा सकता है ।

प्रोस्टेट की रामबाण दवा

पुनर्नवादि मंडूर

पतंजलि मेडिसिन फॉर प्रोस्टेट पुनर्नवा मंडूर प्रोस्टेट की समस्या के उपचार के लिए सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है और इसके सेवन से यह सभी समस्याएं बहुत जल्द खत्म हो जाती है। इस दवा को पथरी तोड़ने की दवा के रूप भी इस्तेमाल किया जाता है। इस दवा के इस्तेमाल से आपके पथरी के मर्ज में बहुत राहत मिलती है और पथरी बहुत जल्द टूट कर मूत्र मार्ग से  बाहर हो जाती है। इस दवा को पुनर्नवा,काली   मिर्च,हरीतकी,बहेड़ा,दांती,मंडूर भस्म जैसी अत्यंत लाभकारी औषधियों के मिश्रण से बनाया गया है। इस दवा के सेवन से शरीर में जम रहे ऐसे तत्वों को बाहर निकल जातें हैं जो प्रोस्टेट की समस्या के लिए जिम्मेदार होते है। 

प्रोस्टेट की रामबाण दवा

गोरखमुंडी

गोरखमुंडी स्वाद में कड़वा होता है इसमें बहुत ही ज्यादा रोग प्रतिरोधक क्षमता होती है जो कि हमारे शरीर में  प्रोस्टेट जैसी समस्याओं से लड़ने के लिए बहुत ही सहायक होती है। गोरखमुंडी को प्रोस्टेट के छुटकारा पाने के लिए आप 3 से 5 ml  काली मिर्च के चूर्ण के साथ मिलाकर सुबह और शाम में पी सकते हैं। 

प्रोस्टेट की रामबाण दवा

 

सालम मिश्री

सालम मिश्री हमेशा से ही बहुत पौष्टिक और प्रोस्टेट की समस्या को  खत्म करने वाली जड़ी बूटियों में से एक है। यह शरीर में ताकत को बढ़ाता है और नसों को मजबूत करता है एवं शरीर को शक्ति प्रदान करता है शरीर में मौजूद रक्त संबंधित दिक्कतों को दूर करता है। जिससे शरीर में रक्त का प्रवाह अच्छे से होता है और शरीर में रक्त प्रवाह अच्छे से होने से शरीर में उत्तेजना आती है। जिससे वीर्य के बनने अच्छे से बनने लगता है। सालम मिश्री स्वाद में मीठा होता है। इस दवा को पुरुष अपनी प्रोस्टेट की समस्या को दूर करने के लिए 6 से 12 ग्राम की मात्रा में एक गर्म दूध में ले सकतें हैं। जिससे उनके अंदर शारीरिक दुर्बलता खत्म होती और संभोग क्षमता भी बढ़ती है।

प्रोस्टेट की रामबाण दवा

 

चन्द्रप्रभा वटी

बैद्यनाथ प्रोस्टेट मेडिसिन चंद्रप्रभावटी मर्दों के शरीर में प्रोस्टेट की समस्या को  खत्म करने और उनके अंदर नई ऊर्जा का संचार करने,संभोग शक्ति को बढ़ाने,शीघ्रपतन की समस्या को दूर करने के लिए बहुत ही लाभकारी दवा है। जिसके इस्तेमाल से आप अपने अंदर हो रही वीर्य की कमी को जड़ से खत्म कर सकते हैं। इस दवा को आंवला, कपूर नगरामुस्तका, अदरक, वाचा, तेजपत्ता, गजा पिपली, अतीश, धनिया, चव्या के मिश्रण से बनाया गया है। दूध के साथ 500 मिलीग्राम मिलाकर सुबह और शाम में लेनी चाहिए और बेहतर प्रणाम के लिए 2 महीने कल उसका उपयोग करना चाहिए।

प्रोस्टेट की रामबाण दवा

वरुणादि वटी

वरुणादि वटी को मुख्यतः यूरिन इन्फेक्शन,गुर्दे में संक्रमण,प्रोस्टेट के इलाज के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इस दवा को गोखरू,गूग्गल,पुनर्नवा,वरुण जैसी आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों के मिश्रण से बनाया गया है। यह सभी आयुर्वेदिक जड़ी बूटियां शरीर में प्रोस्टेट की समस्या को खत्म करने के लिए लाभकारी दवा है। इस दवा को मूत्र मार्ग या पेशाब में जलन की आयुर्वेदिक दवा के रूप में भी जाना जाता है। 

प्रोस्टेट की रामबाण दवा

कांचनार गुग्गुल

 कचनार गूगल आयुर्वेद में पाई जाने वाली ऐसी जड़ी बूटी है जोकि शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने और शरीर को अंदर से स्वस्थ रखने में बहुत ही मददगार होता है। शरीर में किसी भी प्रकार के अंदर में समस्या के लिए इसका इस्तेमाल किया जाता है। इसको प्रोस्टेट की समस्या को दूर करने के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है। यह शरीर में हार्मोन  को बैलेंस  रखने  का काम करता है। यह दवा कचनार की छाल, अदरक, काली मिर्च, पिपली हरितकी, बिभितकी, अमलाकी, वरुणा छाल, इलायची, गुगगल गोंद के मिश्रण से बनी हुई है। 

प्रोस्टेट की रामबाण दवा

प्रोस्टेट की समस्या के लिए घरेलू उपचार 

प्रोस्टेट की समस्या जाए तब ज्यादा उम्र के पुरुषों में पाई जाती है।  इसको बीपीएच  भी कहते हैं। यह पुरुषों के प्रजनन  प्रणाली में एक छोटी सी  ग्रंथि होती हैं जो कि उम्र बढ़ने के साथ-साथ बढ़ने लगती है। जब प्रोस्टेट बढ़ने लगता है तो आपको प्रोस्टेट का साइज कितना होना चाहिए उसके बारें में भी पूर्ण जानकारी होनी चाहिए। ऐसी समस्या को आप घरेलू उपचार और खाद पदार्थों का इस्तेमाल करते हुए भी ठीक कर सकते हैं क्योंकि घरेलू उपचारों में इस्तेमाल किए जाने वाले बहुत सारे ऐसे खाद्य पदार्थ और जड़ी बूटियां है जो कि बहुत ही गुणकारी और शक्तिशाली होती हैं जिनके बारे में हमें बहुत ज्यादा पता नहीं होता है और हम उसको बराबर नजरअंदाज करते रहते हैं। इसीलिए आज हम आपको ऐसी कुछ महत्वपूर्ण घरेलू उपचारों के बारे में बताने जा रहे हैं जिसका उपयोग करके आप अपने प्रोस्टेट की समस्या को जड़ से खत्म कर सकते हैं। 

  • ग्रीन टी
  •  जिंक 
  •  पाइजियम
  • कुकुर्बिटा
  • ऑरबिग्न्या
  • लाइकोपिन 
Read Also - बवासीर का रामबाण आयुर्वेदिक इलाज

निष्कर्ष 

इस पूरे लेख में प्रोस्टेट से जुड़ी हुई हर एक जानकारी के बारे में बताया गया है जिनका इस्तेमाल करके आप सही इलाज  और  दवाओं तक पहुंच सकते हैं। क्योंकि प्रोस्टेट की शुरुआती जानकारी बहुत लाभदायक हो सकती है। नहीं तो इसके पुराने हो जाने की स्थिति में इसका इलाज कर पाना बहुत ही मुश्किल होता है। इस लेख में प्रोस्टेट  क्या है यह कहां पर होता है और इसके होने के सारे प्रमुख कारणों के बारे में विस्तार से बताया गया है। प्रोस्टेट के होने के लक्षणों के बारे में भी बताया गया है। इसके इलाज के लिए इसके लक्षणों कारणों को जानना अति आवश्यक है। अगर आप इसके कारणों और लक्षणों को शुरुआती समय में जान जाएंगे। तो इस समस्या को आप आयुर्वेदिक दवाओं का भी इस्तेमाल करके ठीक कर सकते हैं। आयुर्वेद में बहुत सी दवाएं ऊपर बताई गई हैं जो की प्रोस्टेट की रामबाण दवा है । ऐसी दवाओं का आपके शरीर पर कोई साइड इफेक्ट नहीं होता है क्योंकि यह पूर्ण रूप से आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों और प्राकृतिक खाद पदार्थ से बनी हुई होती हैं जो कि किसी भी केमिकल के मिश्रण से नहीं बनी होती है। आपके शरीर में आयुर्वेदिक जड़ी बूटी और प्राकृतिक बात कर सकते हैं लेकिन बहुत ज्यादा नुकसान नहीं पहुंचा सकते हैं उस की अपेक्षा में बहुत ही ज्यादा मात्रा में आपके पहुंचा सकते हैं । इस लेख में प्रोस्टेट की समस्या को दूर करने के लिए घरेलू उपाय के बारे में भी बताया गया है। अगर आप चाहे तो इस लेख में बताई गई दवाओं की खुराक के  लिए आप किसी वेद या चिकित्सक पर भी  परामर्श कर सकते हैं। 

सबसे ज्यादा पूछे जाने वाले प्रश्न और उनके उत्तर 

प्रश्न: प्रोस्टेट की रामबाण दवा क्या है?

 उत्तर- कचनार  की छाल प्रोस्टेट के लिए रामबाण दबाव में से एक है आप कचनार को प्रोस्टेट की समस्या को दूर करने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं।

 प्रश्न: क्या बढ़ते हुए प्रोस्टेट को ठीक किया जा सकता है?

उत्तर- बढ़ते हुए प्रोस्टेट की  समस्या को दवाओं के माध्यम से भी ठीक किया जा सकता है जिसमें ऑपरेशन करने की ज्यादा आवश्यकता नहीं होती है।

 प्रश्न: प्रोस्टेट बढ़ जाए तो क्या करना चाहिए?

 उत्तर- प्रोस्टेट ज्यादा बढ़ जाए तो तुरंत उसकी सर्जरी करा  लेनी चाहिए। प्रोस्टेट को ठीक करने के लिए आप रेडियो थेरेपी और हार्मन थेरेपी का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

 प्रश्न: प्रोस्टेट में क्या नहीं खाना चाहिए? 

उत्तर-  प्रोस्टेट की समस्या में आपको रेड मीट और ट्रांसफर नहीं खाना चाहिए जिसके खाने से प्रोस्टेट की समस्या को ज्यादा दिक्कत बढ़ सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.