मुंह के छाले की लाभकारी दवा | मुंह के छाले की अंग्रेजी दवा का नाम

हम अपने जीवन में बहुत ही ज्यादा जल्दबाजी के कारण ईश्वर के बनाए हुए बहुत सारे नियमों को लगातार तोड़ते चले जा रहा है। जिस कारण हमें हमेशा किसी न किसी समस्या का सामना करना पड़ता है। उसी का परिणाम है कि हमें अपने जीवन में मुंह के छालों की दिक्कत से भी सामना करना पड़ता है। मुंह के छाले की समस्या बहुत ही साधारण और आम है। जिसको माउथ अल्सर के नाम  से भी जाना जाता है। मुंह के छाले होने के बहुत सारे कारण होते हैं। जिसको जानने के बाद उनका सही इलाज करने से वह ठीक हो जाते है। मुंह के छाले के लिए बहुत सारी अंग्रेजी,आयुर्वेदिक,होम्योपैथिक दवाएं आती हैं। मुंह के छाले के जल्द निदान के लिए आप अंग्रेजी दवाओं  जैसे:-  Clinsodent Tablet ( मुंह के छाले की अंग्रेजी दवा का नाम ) का इस्तेमाल कर सकते हैं।

मुंह के छाले होने के प्रमुख कारण 

मुंह के छाले किसी भी व्यक्ति के गले, जीभ या होंठों पर हो सकते है। इसे बहुत ही गंभीर समस्या के रूप में नहीं माना जाता है। लेकिन मुंह में छाले हो जाने की वजह से आपके खाने पीने में बहुत दिक्कत होती है। जिस कारण आदमी हमेशा परेशान रहता है। ऐसी दिक्कतों से बचने के लिए muh me chale ki dawa का उपयोग किया जा सकता है। लेकिन उन दवाओं के इस्तेमाल से पहले उसके कारण को जानना आवश्यक होता है। क्योंकि जब तक आप किसी भी मर्ज का मुख्य कारण नहीं जानेंगे। तब तक उसके सही इलाज तक पहुंचने में आपको बहुत ही दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा। जो कि किसी भी मर्ज के ठीक होने के लिए बिल्कुल भी सही नहीं है। बहुत ज्यादा मिर्च मसाले,बहुत ज्यादा गर्म चीजों का सेवन करने और पेट की खराबी से भी आपके मुंह में छाले पड़ सकते हैं। इसलिए सबसे जरूरी है कि आप अपने पाचन तंत्र को भी दुरुस्त रखें और ऐसे खाद्य पदार्थों का उपयोग करें। जोकि आपके पेट को किसी भी प्रकार से नुकसान न पहुंचाए और आपके पाचन तंत्र को एकदम दुरुस्त रखे। निम्नलिखित बहुत से ऐसे कारण बताए जा रहे हैं जो मुंह के छाले के लिए सबसे बड़े कारण के रूप में देखे जाते हैं।

  • शरीर में आयरन और जिंक की मात्रा की कमी हो जाना
  • पाचन तंत्र का ठीक ना रहना
  •  बहुत ज्यादा मिर्च मसाले का सेवन करना
  •  अत्यधिक  गर्म चीजों का सेवन करना
  •  बहुत तेज बुखार होने से भी मुंह में छाले पड़ सकते हैं
  •  मंजन करते समय साफ-सुथरे ब्रश का उपयोग ना करना
  •  पुरानी कब्ज  होने के कारण वे मुंह में छाले पड़ सकते हैं
  • पेट में अपच की समस्या से भी मुंह के छाले पढ़ सकते हैं
  •  बहुत ज्यादा एंटीबायोटिक दवाओं के सेवन पर भी मुंह में छाले पड़ जाते हैं

मुंह के छालों के लिए लाभकारी दवाएं 

मुंह के छालों को ठीक होने के लिए कम से कम 10 दिन चाहिए होते हैं। मुंह के छाले 10 दिन में स्वयं ठीक हो जाते हैं। लेकिन जब तक होते हैं तब तक बहुत ही ज्यादा दर्द और खाने पीने में दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। इसीलिए इसको ठीक करने के लिए सबसे पहले आपको किसी ना किसी दवा का इस्तेमाल जरूर कर लेना चाहिए। मुंह में छाले पड़ने पर सबसे पहले आपको यह देखना चाहिए कि कहीं आपका पाचन तंत्र तो गड़बड़ नहीं है। जिस कारण आपके मुंह में छाले पड़  रहे हैं इसलिए आपको ऐसी दवाओं का भी इस्तेमाल करना चाहिए। जो कि आपके पाचन तंत्र को ठीक रखने में सहायक होती है। क्योंकि खराब पाचन तंत्र की वजह से ही मुंह में छाले पड़ने लगते हैं। मुंह के छालों के जल्द निदान के लिए आप मुंह के छाले की एलोपैथिक दवा का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। निम्नलिखित में कुछ एलोपैथिक दवाओं के बारे में बताया जा रहा है। जिसको आप इस्तेमाल कर सकते हैं।

  • रिनिफोल कैप्सूल
  • बीकोसूल्स कैप्सूल 
  • विज़ाइलैक कैप्सूल
  • ओरासोर टैबलेट
  •  क्लिंसोडेंट टैबलेट

1. रिनिफोल कैप्सूल

रिनिफोल कैप्सूल

 रिनीफोल टैबलेट को पेट संबंधित समस्याओं के निदान के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इस दवा में मौजूद लेक्टोबेसिल पेट की समस्याओं को बहुत ही जल्द दूर करता है और लीवर की पाचन शक्ति को मजबूत करता है। इस दवा के सेवन से शरीर में फोलिक एसिड का निर्माण होता है। जो की पाचन क्रिया के लिए बहुत ही जरूरी है और मुंह के छाले पाचन से ही संबंधित होते हैं। जब तक पाचन शक्ति नहीं ठीक होगी तब तक मुंह के छाले के ठीक होने की कल्पना नहीं की जा सकती।

2.बीकोसूल्स कैप्सूल 

बीकोसूल्स कैप्सूल 

 मुंह के छाले की टेबलेट बीकोस्यूल्स का इस्तेमाल हमारे शरीर में मल्टीविटामिन की बढ़ोतरी के लिए किया जाता है। इस दवा को विटामिन बी 12, बी1, बी2, बी6, बी3 ,फॉलिक एसिड, विटामिन सी और कैल्शियम पेंटोथिनेट के मिश्रण से तैयार किया गया है और यह सभी मुंह के छाले के निदान के लिए बहुत आवश्यक विटामिन और मिनरल है।  बीकोसूल हमारे शरीर की पाचन शक्ति को ठीक करने और रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में बहुत ही कारगर दवा है। जिस के उपयोग से मुंह के छाले को बहुत जल्द ही ठीक किया जा सकता है।

3.विज़ाइलैक कैप्सूल

विज़ाइलैक कैप्सूल

इस दवा में मौजूद लैक्टिक एसिड बेसिलस स्पोरोजेंस हमारे पेट से जुड़ी सभी समस्याओं को ठीक करता है।  यह दवा हमारे शरीर में पहुंच कर ना पचे हुए खाने को पचाने का काम करता है। जिससे कि मुंह के छाले ठीक होने लगते हैं और इस दवा को डायरिया  से निदान के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है। इस दवा को लैक्टिक एसिड बेसिलस (Lactic Acid Bacillus), पाइरिडोक्सिन (pyridoxine),डी-पैन्थनॉल, राइबोफ्लेविन (riboflavin),थायमिन, फोलिक एसिड, और निकोटीनैमाइड के मिश्रण से तैयार किया गया है। इस दवा की मात्रा के लिए किसी डॉक्टर से भी आप संपर्क कर सकते हैं। 

4.ओरासोर टैबलेट

ओरासोर टैबलेट

इस टैबलेट को माउथ अल्सर टेबलेट के नाम से भी जाना जाता है। इस टेबलेट में राइबोफ्लेविन,फोलिक एसिड, नियासिनमाइड,लैक्टिक एसिड बेसिल्लस की मात्रा पाई जाती है। जिससे कि मुंह के छालों को बहुत जल्द ठीक किया जा सकता है। इस टैबलेट को खाने के बाद भीषण से भीषण मुंह के छाले ठीक हो जाते हैं और हमारी पाचन शक्ति भी अच्छी और मजबूत हो जाती है। जोकि मुंह के छाले के लिए सबसे  बड़ा कारण है। इस दवा के इस्तेमाल से हमारे शरीर में जरूरी तत्वों की कमी को पूरा किया जा सकता है।

5. क्लिंसोडेंट टैबलेट

क्लिंसोडेंट टैबलेट

 क्लिंसोडेंट टेबलेट को मुंह में छाले की दवा के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। इस दवा को पेट से संबंधित संक्रमण को खत्म करने के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है। पेट से संबंधित संक्रमण ही मुंह के छालों को जन्म देते हैं। यह संक्रमण गंदा पानी पीने,अनियंत्रित खाना खाने या फिर बहुत ही ज्यादा मिर्च मसाले वाली चीज खाने से हो जाता है।इस दवा के उपयोग से मुंह के छाले को कुछ दिनों में ही ठीक किया जा सकता है। इस दवा को भोजन करने के पश्चात लेना चाहिए या फिर इस दवा की मात्रा के बारे में जानने के लिए आप किसी डॉक्टर या फिजीशियन से भी संपर्क कर सकते हैं।

मुंह के छाले के लिए आयुर्वेदिक दवा 

किसी भी व्यक्ति के जीभ में या फिर मुंह में  छाले होने की वजह से वह बहुत ही परेशान और चिड़चिड़ा रहने लगता है। क्योंकि यह छाले बहुत ही पीड़ादायी और कष्टकारी होते हैं। मुंह में छाले हो जाने की वजह से ना ही आप खाने का सुख ले पाते है ना ही पीने का आनंद ले पाते हैं और पेट में बहुत सी दिक्कतें बनी रहती हैं। जिससे कि शरीर में बहुत ज्यादा बेचैनी और उलझन बनी रहती है। किसी भी व्यक्ति को सामान्य जीवन जीने के लिए इन सभी दिक्कतों से दूर रहना ही बेहतर है। मुंह के छाले को दूर करने के लिए बहुत ही अच्छी आयुर्वेदिक दवाएं भी हैं। जिनका इस्तेमाल करके आप अपने मुंह के छालों की दिक्कत को दूर कर सकते हैं। 

  • पतंजलि घृतकुमारी स्वरस  
  • बैद्यनाथ तुलसी अर्क ( chhale ki dawai )
  • पतंजलि मुलेठी चूर्ण 
  • पतंजलि पाचक हिंग गोली  
  • पतंजलि खदिरादि वटी 

1. पतंजलि घृतकुमारी स्वरस 

पतंजलि घृतकुमारी स्वरस को पतंजलि एलोवेरा जूस भी कहा जाता है। यह एलोवेरा से  बना हुआ जूस है। जो कि हमारे पेट को ठंडा रखने और पाचन शक्ति को मजबूत करने का काम करता है। इसके इस्तेमाल से मुंह के छालों को बहुत ही ज्यादा लाभ पहुंचता है। एलोवेरा में बहुत से ऐसे पोषक तत्व पाए जाते हैं। जो कि हमारे रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करने और स्वप्नदोष की रामबाण दवा भी है और हमारे शरीर में मौजूद सभी विशाल पदार्थों को बाहर निकालता है। जिससे कि मुंह के छाले  का घाव भरने लगता है। इस जूस को आप 50ml की मात्रा में सुबह-शाम ले सकते हैं।

मुंह के छाले की अंग्रेजी दवा का नाम

2. बैद्यनाथ तुलसी अर्क 

तुलसी को हमेशा से ही बहुत ही गुणकारी औषधियों में से एक माना जाता है और यह सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद  औषधियों में से एक है। बैद्यनाथ तुलसी अर्क के इस्तेमाल से पेट की समस्या दूर होती है जैसे अपच, ,गैस,पेट दर्द,कब्ज आदि। मुंह के छालों को ठीक करने के लिए इन सभी दिक्कतों का ना होना आपके लिए  लाभकारी है। इन सभी दिक्कतों को दूर होने से आपके मुंह के छाले की समस्या खत्म होने लगती है क्योंकि मुंह के छाले की समस्या सीधे आपके पेट से जुड़ी हुई है।

मुंह के छाले की अंग्रेजी दवा का नाम

3.पतंजलि मुलेठी चूर्ण

पतंजलि मुलेठी चूर्ण मुलेठी के झाड़ियों नुमे पौधे के छाल से बना हुआ है। इसमें बहुत सारी ऐसी औषधीय गुण पाए जाते हैं। जोकि शरीर में बहुत से पोषक तत्वों की कमी को पूरा करते हैं और इस चूर्ण के सेवन से मुंह के छाले को ठीक किया जा सकता है। इस चूर्ण को शहद के साथ मिलाकर पीने से मुंह के छाले में आश्चर्यचकित कर देने वाले परिणाम मिलते हैं। इस चूर्ण  को पेट से जुड़ी समस्या के निदान के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है।

मुंह के छाले की अंग्रेजी दवा का नाम

4.पतंजलि पाचक हिंग गोली 

पतंजलि पाचक हिंग गोली को अपच, गैस, दस्त,मुंह के छाले से छुटकारा पाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इस दवा में समुद्री नमक,काला नमक,काली मिर्च,नींबू सत,चीनी,छोटी पीपल,आंवला,सोंठ,हींग,नौसादर,जीरा,अजवाइन,छोटी हरड़ का मिश्रण पाया जाता है। यह सभी मुंह के छाले को ठीक करने के लिए बहुत ही अच्छे खाद्य पदार्थों में गिने जाते हैं। इन खाद्य पदार्थों के सेवन से पेट की समस्या भी खत्म होती है। जो कि मुंह के छाले के लिए जिम्मेदार मानी जाती है। इस दवा के मुकाबले कोई भी ऐसी मुंह के छाले की एलोपैथिक दवा नहीं है जोकि मुंह के छाले को जड़ से खत्म कर सकती है। 

मुंह के छाले की अंग्रेजी दवा का नाम

5. पतंजलि खदिरादि वटी

पतंजलि खदिरादि वटी  मुंह के छाले के निदान के लिए प्रसिद्ध टेबलेट के रूप में जानी जाती है। यह मुंह से संबंधित समस्याओं को दूर करने के लिए बहुत ही गुणकारी एवं लाभकारी टेबलेट मानी जाती है। इस टेबलेट में जावित्री,कांकोल मिर्च,कपूर,सुपारी,खैरसार का मिश्रण पाया जाता है। जोकि मुंह के छालों के लिए बहुत ही अच्छे खाद्य पदार्थ माने जाते हैं। इस टैबलेट को खाने से पेट से संबंधित समस्याएं भी दूर होती है। इस टेबलेट के सेवन के बारे में किसी  वैद्य से भी  परामर्श कर सकते हैं।

मुंह के छाले की अंग्रेजी दवा का नाम

मुंह के छालों के लिए घरेलू उपाय 

मुंह के  छाले आजकल बहुत से लोगों में देखे जा सकते हैं। इसको बहुत ही गंभीर बीमारी नहीं मानी जा सकती है। क्योंकि आजकल  हमारे शरीर में बहुत साधारण दिक्कतों की वजह से भी मुंह में छाले निकलने शुरू हो जाते हैं। लेकिन अगर आपके साथ यह समस्या नियमित रूप से बनी हुई है। तो आपको उसके बारे में विचार करने की आवश्यकता है। कोई जरूरी नहीं है कि साधारण मुंह के छाले के लिए भी बहुत ज्यादा मात्रा में दवाओं का सेवन करें। आपको बहुत सी मुंह के छाले की टेबलेट नाम के बारे में पता होगा। लेकिन मुंह के छाले को कुछ साधारण से घरेलू उपाय के प्रयोग से भी ठीक किया जा सकता है। ऐसे  बहुत से घरेलू उपाय के बारे में हम बात कर रहे हैं। जो कि बहुत ही आसानी से हमें हमारे घर में ही प्राप्त हो जाते हैं। इन घरेलू उपायों का कोई विपरीत परिणाम भी नहीं होता है और इससे मुंह के छाले को बहुत ही आसानी से ठीक किया जा सकता है।

  • मुंह के छालों में देसी घी लगानी चाहिए
  • लहसुन की मदद से मुंह के छाले को ठीक किया जा सकता है
  • पान के पत्तों को चबाने से मुंह के छाले ठीक हो सकते हैं
  • एलोवेरा  को खाने से भी मुंह के छाले ठीक हो सकते हैं
  • पिपरमेंट ऑयल
  • तुलसी की पत्ती 

निष्कर्ष 

इस लेख में मुंह के छाले की अंग्रेजी दवा और आयुर्वेदिक दवा के बारे में बताया गया है। जिसके उपयोग से आप अपने मुंह के छाले की समस्या को ठीक कर सकते हैं। मुंह के छालों के लिए जिम्मेदार और प्रमुख कारणों के बारे में भी विस्तार से बताया गया है। बहुत से ऐसे घरेलू उपायों के बारे में भी बताया गया है। जिसका उपयोग करके आप अपने मुंह के छालों को बहुत ही आसानी से ठीक कर सकते हैं। इस लेख में बताई गई एलोपैथिक दवा के सेवन के लिए आप किसी चिकित्सक से भी परामर्श कर सकते हैं।

प्रश्न और उनके उत्तर 

प्रश्न: मुंह में छाले के लिए कौन सी टेबलेट लेनी चाहिए? 

उत्तर- मुंह के छाले की समस्या के लिए आप रिनिफोल कैप्सूल,बीकोसूल्स कैप्सूल,विज़ाइलैक कैप्सूल,ओरासोर टैबलेट,क्लिंसोडेंट टैबलेट का इस्तेमाल कर सकते हैं।

प्रश्न: छाले की सबसे अच्छी दवा कौन सी है ?

उत्तर- मुंह के छाले के लिए बीकासूल ( मुंह के छाले की अंग्रेजी दवा का नाम ) सबसे अच्छी दवा मानी जाती है। जिसके इस्तेमाल से मुंह के छाले को बहुत ही आसानी से और जल्द ठीक किया जा सकता है।

प्रश्न: बार बार मुंह में छाले होने के क्या कारण हैं? 

उत्तर- अगर आप के मुंह में भी बार-बार छाले निकल रहे हैं। तो सबसे पहले आपको यह देखना चाहिए की आप का पाचन तंत्र ठीक है या नहीं आपके अंदर अपच की समस्या नहीं होनी चाहिए पेट की समस्या से भी बार-बार मुंह में छाले निकलने लगते हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.