ब्लड प्रेशर बढ़ा हुआ हो तो न करें सेक्स, बीपी सेक्स

हाई ब्लड प्रेशर हमारे शरीर में होने वाली एक ऐसी बीमारी है जिसमें शरीर के रक्त प्रवाह की दर बढ़ जाती है। जिससे हमारे शरीर में विभिन्न प्रकार के प्रभाव दिखाई देते हैं, हाई ब्लड प्रेशर से शरीर की समस्त क्रियाओं में असर पड़ता है, शरीर के आंतरिक जितने भी क्रियाएं होती हैं। हाई ब्लड प्रेशर के प्रभाव से सभी प्रभावित होती हैं जिस प्रकार शरीर के सभी अंग व सभी क्रियाएं हाई ब्लड प्रेशर के कारण प्रभावित होती हैं, इसी प्रकार हमारी सेक्स क्रिया भी ब्लड प्रेशर के प्रभाव से प्रभावित होती है हाई बीपी सेक्स  की क्रिया को गंभीर रूप से प्रभावित करता है। इसमें सेक्स क्रिया तथा सेक्सुअल पार्ट दोनों प्रभावित होते हैं।

 हाई ब्लड प्रेशर क्या है

 हाई ब्लड प्रेशर क्या है

जब हमारे शरीर की रक्त कोशिकाएं किसी कारणवश संकुचित हो जाती हैं तो सामान्य अभिक्रिया के लिए बराबर रक्त की मात्रा नहीं पहुंच पाती है उसके लिए रक्त को सामान्य बनाए रखने के लिए रक्त का प्रेशर तेज हो जाता है जिससे रक्त कोशिकाओं में ब्लड की मात्रा तेजी से बहने लगती है जिसे हाई ब्लड प्रेशर कहा जाता है हाई ब्लड प्रेशर शरीर में तथा रक्त कोशिकाओं में अधिक  फैट जमा होने के कारण रक्त कोशिकाएं संकुचित हो जाती है  जिसके कारण हाई ब्लड प्रेशर कि समस्या हो जाती है हाई ब्लड प्रेशर के अन्य कारण भी हो सकते हैं जैसे हवा का दबाव अत्यधिक ठंड आदि।

हाय बीपी सेक्स में संबंध

जब किसी पुरुष या महिला में  हाई ब्लड प्रेशर की समस्या होती है और पुरुष और महिला आपस में  सेक्स क्रिया करते हैं तो उनको विभिन्न प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ता है क्योंकि उच्च रक्तदाब होने के कारण उनका शरीर पहले से ही बहुत अधिक उत्तेजित होता है किंतु सेक्स भावना मन में आते ही लिंग में जो  उत्थान आता है वाह कुछ समय में स्खलित हो जाते हैं। यह सच है कि हाई बीपी या हाइपरटेंशन की समस्या से सेक्स पावर पर असर पड़ता है। इसे ऐसे समझ सकते हैं कि जब शरीर में खून की नलियां फैट आदि के जमा होने से संकरी और कड़ी हो जाती हैं तो खून का दौरा कम होता है। यह स्थिति प्राइवेट पार्ट तक खून पहुंचाने वाली नलियों के साथ भी होती है। वहां कम मात्रा में खून पहुंचता है और इससे प्राइवेट पार्ट में कड़ापन कम आता है। साथ ही, थकावट, सिरदर्द आदि होने से शरीर साथ नहीं देता और कामेच्छा भी कम होती है।

हाई ब्लड प्रेशर होने के कारण सेक्स संबंध में समस्या

हाई ब्लड प्रेशर या हाइपरटेंशन की बीमारी से आजकल बहुत सारे लोग प्रभावित हो रहे हैं हाई ब्लड प्रेशर के कारण शरीर के सभी कार्य प्रभावित हो जाते हैं हाइपरटेंशन का असर महिला तथा पुरुष दोनों के सेक्स लाइफ पर पड़ता है हाइपरटेंशन होने की वजह से सेक्स जीवन में बहुत सारी समस्याएं आ जाती हैं जिनका सामना पुरुष तथा महिला दोनों को करना पड़ता है इस कारण हाइपरटेंशन के समय सेक्स क्रियाओं से बचना चाहिए तथा हाइपरटेंशन के समय सेक्स क्रियाओं में सावधानी बरतनी चाहिए हाई बीपी सेक्स के समय निम्नलिखित परेशानियां हो सकती हैं।

  • शीघ्रपतन का शिकार हो जाना
  • लिंग में पर्याप्त उत्थान ना होना
  • कामेच्छा का कम होना

शीघ्रपतन का शिकार हो जाना

शीघ्रपतन का शिकार हो जाना

जर्नल ऑफ द अमेरिकन गेरिएट्रिक्स सोसाइटी के अध्ययन के अनुसार 40 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्ति जिन्हें हाई ब्लड प्रेशर की समस्या होती है उनमें से 49 प्रतिशत को इरेक्शन डिसफंक्शन की समस्या होती है हाई बीपी सेक्स में बहुत ही प्रभाव प्रभाव डालता है क्योंकि इसमें शरीर तो जल्दी थक जाता है और उत्तेजना बहुत अधिक होने के कारण शीघ्रपतन जैसी समस्याएं बहुत जल्दी हो जाए किससे पुरुष मानसिकता का शिकार हो जाते हैं  वह सेक्स क्रियाओं से बचने लगते हैं इसलिए जो लोग हाई ब्लड प्रेशर से पीड़ित है उनको ध्यान देना चाहिए कि  वह हाई ब्लड प्रेशर के समय सेक्स क्रिया से बचाए रखें जब तक कि ब्लड प्रेशर सामान्य ना हो जाए। शीघ्रपतन की समस्या से बचने के लिए शीघ्रपतन की दावा शिलाजीत कैप्सूल का प्रयोग करना चाहिए। 

हाई बीपी सेक्स में शीघ्रपतन से बचने के उपाय

  • हाई ब्लड प्रेशर के समय सेक्स क्रिया न करें। 
  • हाई ब्लड प्रेशर के कारण  अधिक उत्तेजित ना हो।
  • हाई ब्लड प्रेशर का आभास हो तो सेक्स के पहले ब्लड प्रेशर की जांच कराएं।
  • यदि ब्लड प्रेशर  की रीडिंग 140/90 से ऊपर आए तो सेक्स को टाल देना चाहिए।
  • हाई ब्लड प्रेशर के कारण  शीघ्र पतन होना सामान्य बात है इससे घबराए नहीं तथा ब्लड प्रेशर सामान्य होने पर दोबारा से प्रयास करें।

लिंग में पर्याप्त उत्थान ना होना

लिंग में पर्याप्त उत्थान ना होना

जब हमारे शरीर में हाई ब्लड प्रेशर की समस्या होती है तो यह समस्या हमारे शरीर के रक्त कोशिकाओं के समुचित हो जाने के कारण हो रक्त कोशिकाओं के संकुचित होने के कारण शरीर के विभिन्न अंगों तक रक्त की मात्रा कम पहुंच पाती है जिससे शारीरिक क्रियाएं प्रभावित होती हैं। ठीक उसी प्रकार ही जब पुरुष लिंग में सामान्य मात्रा में रक्त नहीं पहुंच पाता है तो उसमें पर्याप्त स्थान नहीं आ पाता है। जिसके कारण पुरुष लिंग ढीला रह जाता है लिंग में ढीलापन होने के कारण पुरुष तथा महिला  शारीरिक संबंध स्थापित नहीं हो पाते हैं जिससे कई बार पुरुषों को शर्मिंदगी का सामना करना पड़ता है। ठीक इसी प्रकार यह समस्या महिलाओं में भी होती है यदि महिलाओं का रक्तचाप बहुत अधिक है तो उनका भी सेक्स क्रिया में मन नहीं लगता है। पेनिस में पर्याप्त उत्थान के लिए प्रयोग करें सेक्स पॉवर कैप्सूल पतंजलि और ले सेक्स का भरपूर मजा।

कामेच्छा का कम होना

कामेच्छा का कम होना

मानव शरीर में अत्यधिक रक्तचाप होने के कारण विभिन्न प्रकार की सेक्स समस्याएं हो जाती हैं इनमें से अलग-अलग व्यक्तियों को अलग-अलग समस्याएं हो सकती हैं या फिर किसी किसी व्यक्ति को बहुत सारी सेक्स समस्याएं हो सकती हैं। इन समस्याओं में से एक समस्या काम इच्छाशक्ति का कम हो जाना भी है  के कारण पुरुष तथा महिलाओं में सेक्स करने की इच्छा नहीं होती है जिससे उनके मध्य  सेक्स  क्रियाएं नहीं होती हैं या फिर बहुत कम होती हैं  सिर्फ क्रियाएं प्रभावित होने के कारण उनके आपसे रिश्तो में दरारे आ जाती हैं। जिससे उनके मध्य संबंध बिगड़ने लगते हैं और विभिन्न प्रकार की समस्याएं उत्पन्न हो जाती हैं  विभिन्न प्रकार की समस्याएं पर ना हो जाती हैं। 

हाइपरटेंशन की दवा या हाई बीपी सेक्स को करे प्रभावित

एक सर्वे मैंने यह देखा गया है कि जो लोग दैनिक रूप से हाइपरटेंशन एबीपी की दवाइयों का प्रयोग करते हैं उनकी सेक्स क्रियाओं में परिवर्तन होने लगते हैं। इस से पीड़ित व्यक्ति का सेक्स क्रियाओं से मन हटने लगता है तथा वह सेक्स क्रियाओं के प्रति उत्साहित नहीं होता है जिससे महिला तथा पुरुष दोनों के मध्य होने वाले शारीरिक संबंधों में समस्याएं आने लगती हैं हाइपरटेंशन की दवाएं खाने वाले व्यक्तियों में सेक्सशक्ति की कमी हो जाती है।

हाई ब्लड प्रेशर को सामान्य करने के लिए क्या करें

यदि आप हाई ब्लड प्रेशर की समस्या से परेशान हैं और हाई ब्लड प्रेशर की समस्या के कारण अब विभिन्न प्रकार की शारीरिक बीमारियों से जूझ रहे हैं इन सब की समस्या से बचने के लिए आप अपने जीवन में खानपान तथा दैनिक जीवन के क्रियाकलापों में बदलाव की आवश्यकता होती है। इसके साथ साथ ब्लड प्रेशर को कंट्रोल रखने के लिए विटामिन-सी का सेवन करना चाहिए। दरअसल, खट्टे फल विटामिन सी, एंटीऑक्सिडेंट और मिनरल से भरपूर होते हैं, जो ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में असरदार साबित होते हैं। आप खट्टे फलों में अंगूर, संतरे और नींबू का सेवन कर सकते हैं। इसके अलावा बेरीज से भी बीपी को कंट्रोल किया जा सकता है। ब्लड प्रेशर को सामान्य रखने के लिए निम्नलिखित उपाय किए जा सकते हैं

  • हाई बीपी की शिकायत वाले लोगों को खटट्टे फल खाने चाहिए।
  • ​सेलेरी यानी अजवाइन के पत्ते का सेवन करना चाहिए। 
  • ​चिया और अलसी के बीज का सेवन करना चाहिए। 
  • ​ब्रोकोली, फूलगोभी, पत्ता गोभी का दैनिक सेवन करना चाहिए। 
  • ​गाजर, चुकंदर, मूली का रोजाना सेवन करें। 
  • ​पिस्ता काजू आदि का प्रयोग करें। 
  • ​कद्दू के बीज को नियमित सेवन करना चाहिए।
  • ​बीन्स और दाल का सेवन अधिक मात्रा में करना चाहिए।

यह भी जाने- लिंग को और मोटा लम्बा कैसे बनायें जाने आयुर्वेदिक दवाईयां 

हाई ब्लड प्रेशर से बचने के लिए क्या ना करें

हाई ब्लड प्रेशर से पीड़ित व्यक्तियों को  विभिन्न प्रकार की सावधानियां को रखना चाहिए

  • अत्यधिक तली भुनी चीजों का प्रयोग खाने में नहीं करना चाहिए।
  •  धूम्रपान का प्रयोग नहीं करना चाहिए।
  •  शराब आदि का सेवन नहीं करना चाहिए।
  •  हाई ब्लड प्रेशर के समय सेक्स क्रियाएं नहीं करनी चाहिए।
  •  अधिक ऊंचाई वाले स्थानों पर जाने से बचना चाहिए।
  • शरीर के वजन को ना बढ़ने दें।
  •  हाई ब्लड प्रेशर से बचाने वाली दवा का प्रयोगअधिक मात्रा में नहीं करना चाहिए।
  • बहुत अधिक व्यायाम  नहीं करना चाहिए।
  • दिमाग मैं कोई चिंता नहीं रखना चाहिए।

उपर्युक्त लेख में आज हमने हाई ब्लड प्रेशर के कारण सेक्स  क्रियाओं में होने वाली समस्याओं की जानकारी दी है। जिससे आप अपने जीवन में होने वाले हैं हाई बीपी के कारण प्रभावित होने वाले विभिन्न प्रकार की क्रियाओं  के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं उपर्युक्त लेख का आशय है, कि जो भी आपके जीवन में हाई ब्लड प्रेशर से संबंधित समस्याएं होती हैं। उनका हमारे सेक्स लाइफ पर बहुत ज्यादा प्रभाव पड़ता है अतः सामान्य तौर पर यह कहा जा सकता है कि  हाई बीपी सेक्स लाइफ बहुत अधिक प्रभावित होती है। इसलिए अपने शरीर में हाई ब्लड प्रेशर होने से बचें बचने के लिए उपर्युक्त लेख का अध्ययन करें तथा दिए गए निर्देशों का पालन करें जिससे अपने जीवन में विभिन्न प्रकार के समस्याओं से बचे रह सकते हैं। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.