लड़कियों को जोश बढ़ाने की दवा का नाम | लड़कियों में जोश को बढ़ाएगी

महिला हो या पुरुष आज कल हर वर्ग के लिए उपचार उपलब्ध है। उसी क्रम में हम बात करें तो महिलाओं और लड़कियों को जोश बढ़ाने की दवा बाजार में आसानी से उपलब्ध हैं। महिलाओं में सेक्स के दौरान जोश न होना आपके के साथी के लिए बिना रोमांचित करने वाला अनुभव होता है और सिर्फ एक ही तरफ से लगातार सेक्स के लिए प्रयास किया जाए तो यह आगे चल कर सेक्स की चाहत खत्म करने वाला अनुभव होता है।इस समस्या से परेशान होने की बिल्कुल भी जरूरत नहीं है। इस लेख में हम आपको बहुत सी ऐसी लड़कियों को जोश बढ़ाने की दवा का नाम बताएंगे जिसको इस्तेमाल करके आप इन समस्याओं से निजात पा सकतीं हैं।

 लड़कियों को जोश बढ़ाने की दवा का नाम

क्यूंकी महिलाओं में जोश की कमी का निजात न मिलना उनके लिए बहुत ही कष्टकारी साबित होता है। ऐसी स्तिथि में महिलाओं और जवान लड़कियों में अक्सर ऐसा देखा गया है की उनके अंदर काम उत्तेजना दिन के दिन कम होने लगती है। वो जब भी अपने पार्टनर के  साथ शारीरिक संबंध बनाना चाहतीं है वो उससे दूर भागने लगतीं है कोई न कोई बहाना बना कर उसे टालने का प्रयास करतीं है। महिलाओं में अक्सर ये कमी 30 की उम्र से पाई जाने लगती हैं और उम्र बढ़ने के साथ साथ ये समस्या भी बढ़ना शुरू हो जाती है।

Best Buy









फीमैल वियाग्रा टैबलेट



  • 100% असरदार
  • No Side Effect
  • पूर्णरूप से आयुर्वेदिक
Budget Pick









झंडू विटालिटी बूस्टर और कैप्सूल



  • अधिक असरदार
  • सुरक्षित
  • पूर्णरूप से फायदेमंद
Trending Buy







बैद्यनाथ वीटा एक्स गोल्ड फॉर वूमेन



  • पर्ण सुरक्षित
  • आयुर्वेदिक
  • अद्भुत परिणाम

 

Table of Contents

जानें लड़कियों में जोश की कमी के लक्षण  

लड़कियों में जोश की कमी के बहुत से लक्षण हो सकतें हैं। जिनको हम समय पर पता लगा कर लड़कियों को जोश बढ़ाने की दवा का इस्तेमाल करते हुए इसका सही इलाज कर सकते हैं। कैसे पहचाने की लड़कियों में जोश की कमी हैं। उसके कुछ लक्षण आप को आम तौर दिख सकतें हैं। जैसे:- सेक्स के दौरान उत्तेजित न होना, शारीरिक संबंध बनाने के लिए दूर भागना, हमेशा उदास रहना, यौन दर्द आदि। इन्ही सब कारणों को हम विस्तार से समझते हैं।

1. सेक्स करने से दूर भागना

कई कपल्स के बीच में देखा गया होगा की उनके बीच में अच्छे शारीरिक संबंध नहीं होते हैं। बहुत से पुरुष अपने साथी के साथ संभोग सुख नहीं प्राप्त कर पाते। उसका एक प्रमुख कारण है की महिलाओं या लड़कियों का अपने पुरुष साथी या पति से सेक्स के दौरान उत्तेजना न दिखाना और संबंध बनाने से दूर भागना यही लक्षण दरसातें हैं की महिला के अंदर जोश की कमी है। कभी-कभी तो यह कारण इतना बड़ा रूप ले लेता है की पुरुष अपनी महिला साथी से संभोग सुख न प्राप्त कर पाने के कारण कहीं और संभोग सुख की तलाश करते हुए अवैध संबंधों को भी जन्म दे देता है । जिस वजह से बहुत सी जोड़ियों के वैवाहिक संबंध टूट जाते हैं या फिर तलाक का कारण बनता है।

2. यौन संबंध के समय दर्द 

महिलाओं में यह भी देखा जाता है की यौन संबंध के समय दर्द का अहसास होता है। यह दर्द प्राकृतिक हैं कई महिलाओं में इस दर्द का अहसास ज्यादा होता है। तो कुछ महिलाओं में इसका अहसास कम होता है। कुछ महिलायें तो इसे साधारण मानकर इसको नजर अंदाज कर देतीं हैं। लेकिन जिन महिलाओं को इस दर्द का अहसास बहुत ज्यादा होता है या फिर उनके सहन से बाहर होता है। उनके लिए यह बहुत ही भयावह स्तिथि है। जिस वजह से वो यौन संबंध को बुरे सपने की तरह मानते हुए इससे दूर भागने लगतीं हैं।

3. यौन रोग 

महिलाओं में यौन रोग एक बहुत ही बड़ी समस्या है। समय-समय पर यह अपना असर दिखाता रहता है। ऐसे यौन रोगों की वजह से ही महिलाओं में जोश की कमी रहती है। ये रोग अंदर से ही यौन ग्रंथियों को कमजोर कर देते हैं और महिलायें उसे समझ नहीं पाती हैं और किसी के साथ साझा भी नहीं करती हैं। लेकिन उन्हें ऐसा बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए क्यूंकी आगे चलकर ये समस्याएं बड़ा रूप ले लेतीं हैं और बहुत सी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। इसलिए ऐसे मामलों में लापरवाही न बरतते हुए तुरंत ही चिकित्सक से परामर्श करना चाहिए। अगर महिलायें चिकित्सक से परामर्श करने में और अपनी समस्या को उनसे साझा करने में दिक्कत समझती हैं। तो कोई बात नहीं आजकल बाजार में बहुत सी दवायें उपलब्ध है। जो जोश की कमी को पूरा करने के लिए महिलाओं को जोश की गोली का नाम से उपलब्ध है। उसके बारें में आप किसी फिज़िशन से परामर्श कर सकतीं हैं।

4. योनि दोष 

योनि दोष हम योनि से जुड़ी समस्याओं या फिर योनि रोग के रूप में जानतें हैं। कभी-कभी योनि में बहुत समस्याएं हो जाती है। जिसका असर आपके जीवन पर पड़ना लाजमी है। इसी सब वजह से आत्मविश्वास में कमी और सेक्स के दौरान जोश की कमी रहती है। इन सभी समस्याओं को खत्म करके ही जोश की कमी से छुटकारा पाया जाता सकता है। 

योनि में होने वाली मर्ज

  • बैक्टिरीअल इन्फेक्शन 
  • यीस्ट इन्फेक्शन 
  • बैक्टिरीअल विगोनोसिस 
  • यूट्रीन प्रोलैपस 

इन मर्जों से बचने के उपाय 

  • सबसे पहले आपको इन बातों का ध्यान रखना पड़ेगा की आप हमेशा अपनी योनि को साफ रखें क्यूंकी अक्सर गंदी और गीली होने से योनि में बैक्टिरीअल इन्फेक्शन का खतरा रहता है।
  • ऐसे कपड़ों की अन्डर वियर का इस्तेमाल करना चाहिए जो बहुत ज्यादा टाइट न हों और सिंथेटिक कपड़ों का इस्तेमाल करने से बचना चाहिए।
  • पिरियड्स के समय एक अन्डर गार्मेंट्स का ज्यादा देर तक इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। उससे भी इन्फेक्शन का खतरा बढ़ सकता है।
  • योनि को हमेशा ही सूखी और साफ रखनी चाहिए। क्यूंकी गीली योनि में भी इन्फेक्शन खतरा बना रहता है ।

महिलाओं में जोश की कमी के प्रमुख कारण 

महिलाओं में जोश की कमी के बहुत से कारण हो सकतें हैं इसलिए हम इसपर पूरी तरह से प्रकाश डाल रहें हैं। इस विषय में कम जानकारी होने और जागरूकता न होने के कारण ही महिलायें इस समस्या से अक्सर जूझती नजर आतीं हैं और इसका असर पुरुषों पर भी पड़ता है। जैसा की हमने ऊपर भी उल्लेख किया है। क्यूं न हम इन्हीं कारणों को जानते हुए इनसे बचाव करके ही इससे बच जाएँ। कभी-कभी बहुत से ऐसे मर्ज होते हैं जिनका हमें कारण ही नहीं पता होता है। इसलिए हम उससे होने वाली परेशानियों से बच भी नहीं पाते हैं। आइए उन कारणों को जानने का प्रयास करते हैं ।

1. स्तनपान 

महिलाओं में डेलीवेरी के बाद बच्चे को माँ का दूध चाहिए होता है। इसलिए उन्हे अपने बच्चे को स्तनपान करवाना पड़ता है। लेकिन आप सोच रहें होंगे स्तनपान से इसका क्या मतलब लेकिन मतलब तो होता है। हम आपको समझाते हैं की किस तरह से ये असर डालता है। डेलीवेरी के बाद महिलाओं की शरीर में बहुत हॉर्मोनल बदलाव होते हैं। जिस कारण माँ का अपने बच्चे की तरफ प्रेम बढ़ता है। जिससे उनके अंदर सेक्स को लेकर जोश बहुत ही कम हो जाता है।

2. मानसिक तनाव 

मानसिक तनाव ऐसा कारण हैं जो बहुत सी दिक्कतों का कारण बन जाता हैं। मानसिक तनाव के वजह से ही यौन जीवन प्रभावित होता है और इसे लड़कियों का जोश बढ़ाने की दवा के नियमित सेवन से जोश की कमी को पूरा किया जा सकता हैं। मानसिक तनाव के कई प्रकार हैं। 

  • अवसाद 
  • आत्मसम्मान की कमी 
  • यौन उत्पीड़न 
  • असहज यौन व्यवहार 

3. सर्जरी 

महिलाओं या लड़कियों में जोश की कमी का एक यह भी कारण हो सकता है। किसी सर्जरी के बाद भी अक्सर रक्त की कमी और अन्य समस्याओं के कारण ब्लड प्रेशर सामान्य से भी कम हो जाता है। जिस कारण शारीरिक संबंध के दौरान उनके अंदर उत्तेजना बिल्कुल भी नहीं रहती है। 

लड़कियों में जोश की कमी के लिए प्रमुख दवायें 

वैसे तो देखा जाए तो पहले महिलाओं के लिए जोश बढ़ाने की बहुत ज्यादा दवायें मौजूद नहीं थीं। लेकिन आजकल बहुत सी दवायें मौजूद है। लेकिन आयुर्वेदिक और होमयोंपैथिक दवाओं पर लोग ज्यादा भरोसा करते हैं। क्यूंकी लोगों का मानना है की इसमें इन्फेक्शन की संभावनाएँ बहुत ही कम हैं ।आइए जानते है की इनकी प्रमुख दवाएँ निम्न प्रकार से हैं ।

  • फीमैल वियाग्रा टैबलेट (VG-3)
  • पिंक वियाग्रा ( filbanserin)
  • लायब्रीडो   
  • विगिनी प्लस हंड्रेड परसेंट
  • झंडू  विटालिटी बूस्टर और कैप्सूल
  • बैद्यनाथ वीटा एक्स गोल्ड फॉर वूमेन
  • कामा गोल्ड
  • रंभा लाइव

1. फीमैल वियाग्रा टैबलेट ( VG-3 )

फीमैल वियाग्रा टैबलेट महिलाओं के लिए बहुत ही उपयोगी दवा मानी जाती है। पहले इसको महिलायें इस्तेमाल करने में बहुत संकोच करतीं थीं। क्यूंकी महिलाओं के लिए बहुत नया अनुभव था। पहले कभी भी महिलाओं की उत्तेजना बढ़ाने के लिए कोई भी दवा उपलब्ध नही थी। लेकिन पुरुषों के लिए बहुत सी दवाएँ उपलब्ध थी जिसे पुरुष अपने जोश को बढ़ाने के लिए इस्तेमाल करते थे। लेकिन आज कल महिलायें भी इसमें पीछे नहीं हैं और वो भी इसको इस्तेमाल करते हुए अपनी दिक्कत को दूर करने का प्रयास कर रहीं हैं।

लड़कियों को जोश बढ़ाने की दवा का नाम

 

2. पिंक वियाग्रा (Filbanserin)

filbanserin दवा जो लड़कियों को जोश बढ़ाने की दवा का नाम से मशहूर है। इसका उपनाम “पिंक वियाग्रा” भी है। बहुत से अध्ययनों में पाया गया है की जितनी भी महिलाओं ने इस दवा का इस्तेमाल किया उन्हें किसी भी प्रकार की दिक्कत का सामना नहीं करना पड़ा और न ही उन्हें बाद में किसी भी प्रकार का कोई उपचार कराने की जरूरत पड़ी। इसलिए इसे महिलाओं को इस दवा को इस्तेमाल करना चाहिए और अपना यौन जीवन स्वस्थ और सुखद बनाना चाहिए।

लड़कियों को जोश बढ़ाने की दवा का नाम

 

3. लायब्रीडो 

जब भी हम महिलाओं को जोश की गोली का नाम price ढूंढते हैं तो बहुत सारी दवाओं का नाम आता है। लेकिन आज आपसे जिस lybrido टैबलेट्स के बारें में बात कर रहें है। उसके बारें में कुछ जानकारी देना चाहेंगे।Lybrido टैबलेट्स को जब कोई खाता है तो सबसे पहले ये आपके शरीर में घुल जाता है और ये शरीर में dopamine हॉर्मोन की मात्रा को बढ़ा देता है। dopamine हॉर्मोन हमारे शरीर में हमारी काम वासना को उत्तेजित करता है। जिससे जोश की कमी दूर हो जाती है।

 लड़कियों को जोश बढ़ाने की दवा का नाम

 

 

4. विगिनी प्लस हंड्रेड परसेंट

विगिनी प्लस महिलाओं में जोश की कमी को पूरा करने वाली टेबलेट है। जिन महिलाओं को सेक्स करते समय जोश की कमी की दिक्कत होती है। वो इस टेबलेट को लेकर अपने साथी या जीवन साथी के साथ संभोग का सुख प्राप्त कर सकतीं हैं। यह एक ऐसी दवा है जो महिलाओं में आनंद को परिपूर्ण करने के लिए हार्मोन बैलेंस करने का काम करती  हैं। यह दवा आयुर्वैदिक हर्बल मैटेरियल से बहुत ही प्रभावशाली तरीके से बनाया गया है। यह महिलाओं या लड़कियों में एनर्जी लेवल को मेंटेन करता है और उन्हें चरम सुख का अनुभव कराता है।

 लड़कियों को जोश बढ़ाने की दवा का नाम

इस दवा को प्रयोग करने का तरीका 

इस दवा को खाना खाने के 30 मिनट बाद खाया जा सकता है और 1-1 टेबलेट दिन में दो बार सेवन किया जा सकता है। इस दवा को सीधी धूप के संपर्क में आने से बचाएं और ठंडी जगह पर ही रखें नहीं तो इस दवा में धूप की सीधी रोशनी के संपर्क में आने से इसमें रिएक्शन होकर अन्य बदलाव भी आ सकते हैं। इस दवा के बेहतर परिणाम के लिए कम से कम इसे 30 दिन तक प्रयोग करें। 

4. झंडू विटालिटी बूस्टर और कैप्सूल

महिलाओं एवं लड़कियों को बिस्तर पर गर्म करने से ही संभोग का भरपूर आनंद होता है इसीलिए वो महिलाओं को जोश की गोली का नाम price के बारें में ढूंढती हैंजब तक वह गर्म नहीं होगी तब तक उनका पुरुष साथी संभोग का आनंद नहीं ले पाएगा। इसलिए झंडू का विटालिटी बूस्टर कैप्सूल महिलाओं में जोश एवं स्फूर्ति लाने के लिए बहुत ही उपयोगी दवा है। इसको इस्तेमाल करने से महिलाओं में भरपूर जोश आ जाता है। जो कि बहुत ही अच्छा एहसास प्रदान करता है। इस दवा से उनके अंदर रक्त का प्रवाह अच्छी तरह से होता है और रक्त के प्रवाह से ही ब्लड प्रेशर अपने उच्चतम स्तर पर जाता है। तभी महिलाएं अपने ऑर्गेज्म तक पहुंचती है। यह दवा अश्वगंधा,कौंच का बीज, अस्पृगस, गोक्षुरा, शुद्ध शिलाजीत, नेटमेड ब्लू केसर के मिश्रण से बना हुआ है

 लड़कियों को जोश बढ़ाने की दवा का नाम

 

5. बैद्यनाथ वीटा एक्स गोल्ड फॉर वूमेन

यह दवा बैद्यनाथ कंपनी द्वारा खास करके महिलाओं के लिए बनाया गया है। जिन महिलाओं में जोश की कमी है। वह इस दवा को इस्तेमाल कर सकतीं हैं। यह दवा अश्वगंधा,शतावरी, शिलाजीत, स्वर्ण भस्मा,सफेद मुसली,रजत बस, वंग भस्म,अभ्रक भस्म,के मिश्रण से बनाया गया है। जैसा कि हमने पहले भी बताया है अश्वगंधा हजारों वर्षों से कामेच्छा को बढ़ाने के लिए बहुत ही उपयोगी प्राकृतिक दवा है। शतावरी को हमेशा से ही यौन इच्छाओं को बेहतर करने वाले तत्व के रूप में माना जाता है। शिलाजीत यौन इच्छाओं को बेहतर करने वाले तत्व के रूप में जाना जाता है।रजत भस्मा इरेक्टाइल डिस्फंक्शन या जोश की कमी को दूर करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।इस दवा को बराबर खुराक के रूप में आप ले सकते हैं।आपको इस बात की सावधानी बरतनी है की कभी जोश में आकर एक बार में ज्यादा खुराक का इस्तेमाल ना करें वो नुकसानदेह हो सकता है। इसको खाने के बाद या पहले कभी भी ले सकते हैं। इंटर में सिर्फ एक ही दवा का इस्तेमाल करें। आप इसे दूध के साथ खा सकते हैं और इसके बेहतर परिणाम के लिए कम से कम इसे 3 महीने तक इस्तेमाल करके देखे।

 लड़कियों को जोश बढ़ाने की दवा का नाम

 

6. कामा गोल्ड

कम गोल्ड कैप्सूल स्वर्ण भस्म के द्वारा बनाया गया क्रांतिकारी फार्मूला और इसे यौन उत्तेजक पदार्थ के रूप में जाना जाता है।जोकि महिलाओं में जोश की कमी और साधारण जोश को दूर करता है और इसे एक बहुत ही अच्छे कामोद्दीपक के रूप में जाना जाता है और इसके बेहतर परिणाम के लिए सिर्फ यौन संबंध बनाने के 1 घंटे पहले सिर्फ एक कैप्सूल लेना आवश्यक है। जोकि अगले 24 से 48 घंटे के लिए बढ़िया काम करता है और यह यूनानी चीजों से बनी हुई आयुर्वेदिक दवा है। जो कि ज्यादा ऐज की महिलाओं के लिए भी जोश की कमी को पूर्ण करता है। इस टेबलेट को 48 घंटे में सिर्फ एक बार यूज करना चाहिए नहीं तो इसके परिणाम विपरीत भी आ सकते हैं।

 लड़कियों को जोश बढ़ाने की दवा का नाम

 

7.रंभा लाइव

 यह दवा महिलाओं में सेक्स सफर को लंबा करने के लिए ज्यादा फायदेमंद है और उनके अंदर जोश की कमी को पूर्ण करता है। जिससे वह अपने साथी के साथ अच्छे से यौन सुख एवं संभोग का लाभ ले पाए। यह दवा पूर्ण रुप से प्राकृतिक और शुद्ध शाकाहारी है। इस दवा को पूर्ण साइंटिफिक रिसर्च और वर्तमान में चल रही मैन्युफैक्चरिंग टेक्निक के द्वारा बनाया गया है। सालों की रिसर्च और स्टडीज के बाद इस दवा को ग्रीन क्रॉस हेल्थ इन्नोवेशन कंपनी द्वारा बनाया गया है।

 लड़कियों को जोश बढ़ाने की दवा का नाम

 

लड़कियों में जोश बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवाएं

महिलाओं में जोश बढ़ाने के लिए वैसे तो बहुत सी दवाएं और इलाज उपलब्ध हैं। लेकिन आयुर्वेदिक दवाओं की बात की जाए तो उसमें बहुत सारी वैरायटी आ आती है। जोकि महिलाओं में जोश की कमी को पूरा करती है और उनके अंदर हारमोंस इंबैलेंस को बैलेंस करता है। महिलाओं में जोश की कमी उनके शरीर में बराबर रक्त का प्रवाह ना हो पाने से नसों में उत्तेजना खत्म हो जाती है। जिससे सेक्स के दौरान उनके अंदर ठंडापन बना लेता है और उत्तेजना नहीं आती है। तो आइए जानते हैं निम्नलिखित में बहुत सी ऐसी आयुर्वेदिक महिला जोश की गोली का नाम दिया गया है। जिसको इस्तेमाल करके महिलाओं में हो रहीं इस समस्या को दूर किया जा सकता है।

  • अशोकारिष्ट 
  • कुमार्यासवम
  • चंद्रप्रभा वाटिका
  • अश्वगंधादि लेहम
  • शतावरी
  • शिलाजीत
  • अश्वगंधा 

1.अशोकारिष्ट 

महिलाओं में जोश की कमी के लिए अशोक की छाल हमेशा से ही फायदेमंद रही है और अशोकारिष्ट भी अशोक की छाल से ही बनी  हुई एक आयुर्वेदिक दवा है। जिसका उपयोग महिलाओं या लड़कियों में जोश की कमी को पूर्ण करने के लिए किया जाता है। इस दवा को विथानिया सोम्निफेरा के नाम से भी जाना जाता है। इस दवा में अशोक की छाल, मुस्ता,विभिताकी,जिरका, वासा, घाताकी जैसी औषधियों के मिश्रण से बना हुआ है। इस दवा को भोजन करने के पहले नहीं लेना चाहिए क्योंकि खाली पेट यह दवा ज्यादा असर नहीं करती है या यह कहें इसका फायदा नहीं होता है इसको हमेशा खाना खाने के बाद ही पीना चाहिए जिससे इसका पूर्ण रूप से आप लाभ ले सके। 

 लड़कियों को जोश बढ़ाने की दवा का नाम

  

2. कुमार्यासवम

लड़कियों को जोश बढ़ाने की दवा का नाम कुमार्यासवम एलोवेरा के रस से बनी है। इसमें विटामिन, कैल्शियम, मैग्नीशियम, जिंक, आयरन, पोटेशियम, आदि तत्व पाए जाते हैं। जो महिलाओं में जोश की कमी को पूरा करने के लिए बहुत ही उपयोगी साबित होते हैं। उनके अंदर यौन चेष्टा को ज्यादा तेज कर देती है। जिससे कि उनको सेक्स करने के दौरान विशेष सुख की अनुभूति होती है। इस दवा को खाना खाने के बाद यह सुबह खाली पेट भी ले सकते हैं। यह दवा आयुर्वेदिक तत्वों से बनी हुई है और इसका पूर्ण परिणाम पाने के लिए कम से कम 3 से 4 महीने की अवधि तक इस्तेमाल करें।

 लड़कियों को जोश बढ़ाने की दवा का नाम

 

3.चंद्रप्रभा वाटिका

यह दवा महिलाओं में सेक्स के दौरान खोए हुए जोश को जागृत करती है। जिससे  उनको चरम सुख का लाभ मिलता है। जिससे वह वंचित रह जाती थी। इस दवा को लेने के बाद उनके अंदर एक बेहतरीन ताजगी और शक्ति का एहसास होता है। जिससे वह अपने पुरुष साथी के साथ बिस्तर पर अच्छा समय व्यतीत कर पाती हैं। जिससे उनके और उनके पुरुष साथी के बीच में अच्छे संबंध स्थापित होते हैं। इस दवा को दो-दो गोलियां सुबह-शाम पानी या दूध के साथ लेना  चाहिए। हमारा कहना यही है की ज्यादा कमजोरी की स्थिति में इसको दूध के साथ ही लें क्योंकि दूध दवा के साथ मिलकर शारीरिक कमजोरी और जोश की कमी को पूर्ण करने में अत्यंत उपयोगी होता है।

 लड़कियों को जोश बढ़ाने की दवा का नाम

4.अश्वगंधादि लेहम

अश्वगंधादि लेहम ऐसी आयुर्वेदिक दवा है। जिसको हम सीधे मेडिकल स्टोर से बिना किसी डॉक्टर के पर्चे के ले सकते हैं। क्योंकि यह आयुर्वेदिक दवा है और यह जड़ी बूटियों से बनी हुई है। यह अश्वगंधा, जीरा, इलायची, शहद के मिश्रण से बनी  हुई है। यह महिलाओं को जोश में कमी होने की समस्या को दूर करने के लिए बनाई गई है। यह हमारे शरीर में एंटीऑक्सीडेंट के रूप में काम करता है। एंटीऑक्सीडेंट शरीर में जाकर हमारे हार्मोन को बैलेंस करता है और सुस्त पड़ी ऊर्जा को जागृत करता है। जिससे महिलाएं संभोग का आनंद ले पातीं हैं ।

 लड़कियों को जोश बढ़ाने की दवा का नाम

5.शतावरी

प्राचीन समय की यह एक ऐसी दवा है। जोकि सदियों से इस्तेमाल की जाती रही है। यह महिलाओं में कामेच्छा बढ़ाने के लिए बहुत ही कारगर जड़ी बूटी है। इसमें इन्फ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं। वही इन्फ्लेमेटरी गुण जिससे महिलाओं के अंग में उत्तेजना आती है और उनकी काम इच्छा बढ़ती है और सेक्स से पहले वो अपने साथी के साथ जोश की गोली का नाम का इस्तेमाल करतीं हैं। जिससे उनके साथी को अच्छे सेक्स अनुभूति की आशा रहती है और उनके सेक्स करने का समय बढ़ जाता है। जिससे उन दोनों के बीच में एक अच्छे सेक्स संबंध स्थापित होते हैं। 

shatawari

 

6.शिलाजीत

यह दवा भी प्राचीन समय की जड़ी बूटी है। जो कि सदियों से संभोग समय को बढ़ाने के लिए हमेशा से इस्तेमाल की जाती है और इसमें इतनी क्षमता है कि यह महिलाओं के जोश की कमी को जड़ से खत्म कर सकता है। यह हिमालय की चट्टानों से निकलने वाली एक चिपचिपी पदार्थ से बनाई जाती है। यह कई सारे रंगों में जैसे पीले,लाल ,काले रंगों में बाजार में उपलब्ध रहती है। बाजार में शिलाजीत कई रूप में उपलब्ध है जैसे: कैप्सूल, पाउडर, टेबलेट आदि।महिलाओं में सेक्स टाइम बढ़ाने की मेडिसिन पतंजलि दिव्य शिलाजीत सबसे ज्यादा लोकप्रिय है। अगर आप चाहें तो इसके मात्रा के बारे में डॉक्टर से एक बार संपर्क कर सकतें हैं| क्योंकि इसके अंदर बहुत ही ज्यादा क्षमता होती है।जो की ज्यादा मात्रा में लेने पर किसी और दिक्कत को बढ़ावा दे सकती है। 

shilajiy

 

7.अश्वगंधा

बहुत सी महिलाओं में अक्सर सेक्स के दौरान जोश की कमी देखी जाती है। जो कि उनके लिए बहुत ही शर्म महसूस कराने वाली स्थिति होती है। कई बार बहुत से तनाव के कारण भी स्त्रियों में जोश की कमी देखी जाती है। उसी को दूर करने के लिए अक्सर अश्वगंधा इस्तेमाल किया जाता है। अश्वगंधा महिलाओं के शरीर में कॉर्टिसोल नामक हार्मोन को कम करता है। जिससे उनके अंदर सेक्स करने की इच्छा और प्रबल एवं तीव्र हो जाती है। कई शोध में यह पाया गया है कि अश्वगंधा महिलाओं में बहुत से विशेष हारमोंस को बढ़ाता है। जिससे उनके अंदर काम इच्छा अपने आप बढ़ जाती है। 

 

लड़कियों में जोश की कमी को पूरा करने को घरेलू उपचार 

लड़कियों में जोश की कमी को पूरा करने के लिए बहुत से उपचार और दवायें आपने सुनी होंगी और अपनाई भी होंगी लेकिन हमारे पूर्वज जो घरेलू उपचार ईजाद करके चले गयें है। वो आज भी बहुत ही कारगर और उपयोगी है। समय समय पर वो बराबर काम आते हैं। लेकिन आज हम सब उन्हें भूलते चलें जा रहें शायद इसलिए हमारे समाज में पहले की अपेक्षा अब इस तरह की समस्याएँ लगातार बढ़ रहीं हैं। पहले पूर्वज ऐसे ही बहुत सारे उपाय बताए थे। जो हम रोजमर्रा की जिंदगी और अपने दैनिक भोजन में शामिल करके इन सभी दिक्कतों को दूर कर सकतें हैं।

लेकिन आज हम पाश्चात्य सभ्यता को अपनाते चले जा रहें हैं। जो हमारे आयुर्वेद में हजारों सालों से मौजूद हैं।आज भी जब कोई भी इन सब समस्याओं से परेशान होता है तो कहीं कोई महिला जोश की गोली का नाम ढूँढता है तो कहीं कोई पुरुष के यौन कमजोरी की दवा ढूँढता है। इसलिए हमें चाहिए की बताए हुए कुछ नुस्खों को जरूर अपनाएँ और अपने दैनिक भोजन में शामिल करें। कुछ घरेलू उपचार निम्नलिखित है :-

1. सेब का इस्तेमाल 

आप अपने खानपान में सेब का इस्तेमाल जरूर करें क्यूंकी सेब में बहुत से ऐसे तत्व पाएँ जातें हैं। जिससे महिलाओं या लड़कियों के योनि में रक्त के बहाव को तेज करता है। जिससे यौन उत्तेजना और काम वासना बढ़ती है।

2. शतावरी का इस्तेमाल 

आपकी सेक्स करने की ईच्छा नहीं होती है या आपके अंदर जोश की कमी पाई जाती है। तो शतावरी जड़ी बूटी का इस्तेमाल जरूर करें। क्यूंकी यह आप के अंदर उत्तेजना और सेक्स करने की ईच्छा को प्रबल कर देता है। शतावरी को yoni tightening medicine के रूप में भी इस्तेमाल किया जाता है।इसके सेवन से महिलाओं की ढीली योनि एकदम किसी जवान लड़की जैसी ही टाइट हो जाती है। 

3. करें अशोक की छाल का इस्तेमाल 

बहुत सी महिलायें इसे उपयोग करतीं हैं इसके बारें में तो यहाँ तक कहा जाता है की ये महिलाओं के बीच में लड़कियों को जोश बढ़ाने की दवा का नाम से मशहूर है। अशोक की छाल में सेपोनिन, कैल्सीयम,टैनिन और कीटोस्टेरॉल पाया जाता है।जिससे महिलाओं के यूटरस में होने वाले ब्लड डिस्चार्ज को रोकता है। जिससे उनके अंदर उत्तेजना उत्पन्न होती हैं और वो अपनी साथी के एक अच्छा यौन अनुभव साझा करती हैं। 

 निष्कर्ष 

इस पूरे लेख में महिलाओं के अंदर जोश की कमी के लक्षण, कारण ,उसके लिए उपयुक्त दवाएँ और उसके लिए घरेलू नुस्खे सभी विषयों और महिलाओं की समस्याओं को ध्यान में रखते हुए बहुत ही गहन अध्ययन के साथ विवरण दिया गया है। बहुत सी महिलाएं जिसे काम में जोश की कमी होने के कारण अपने साथी के साथ सुखी यौन जीवन नहीं व्यतीत कर पाती है और न ही उसे किसी से साझा कर पातीं हैं। तो शायद वो सिर्फ एक ही उपाय है।जो की इंटरनेट के माध्यम से वो अपनी समस्या का इलाज खोजतीं हैं।

हमने पूरी कोशिश की है उनको अपने हर संभव जिज्ञासा का इलाज मिल सके और वे अपनी समस्या का समाधान हमारे लेख के माध्यम से कर पाएँ। बहुत बार ऐसा देखा गया है की बहुत सी महिलायें अपनी समस्या का समाधान ढूंढते ढूंढते कुछ ऐसी दवाओं के बारें में पता पाती हैं। जो की लड़कियों को जोश बढ़ाने की दवा का नाम से मशहूर होती हैं। लेकिन उनके बहुत से साइड इफेक्ट भी होते और उन्हे एक समस्या से निजात पाने के चक्कर में कोई और दूसरी समस्या खड़ी हो जाती है। हम आप से यही कहना चाहेंगे की आप किसी भी दवा का इस्तेमाल करने से पहले फिज़िशन या डॉक्टर से परामर्श करके ही दवा का उपयोग करें।

ज्यादातर पूछे जाने वाले प्रश्न और उनके उत्तर  

प्रश्न: लड़कियों को जोश बढ़ाने की गोली का नाम क्या है?

उत्तर – लड़कियों में जोश बढ़ाने की दवा का नाम लाइब्रीडो,चंद्रप्रभा वटीका,अशोकारिष्ट ,कुमार्यासवम,चंद्रप्रभा वाटिका,अश्वगंधादि लेहम,शतावरी,शिलाजीत,अश्वगंधा है ।

प्रश्न : लड़की को सेक्स में लाने के लिए क्या खिलाना चाहिए?

उत्तर- लड़कियों या महिलाओं को सेक्स में लाने के जिंक से भरपूर खाद्य पदार्थ खिलाने चाहिए या फिर आप ऊपर बताए हुए दवाओं का इस्तेमाल कर सकते हैं। 

प्रश्न: स्त्री को जोश कब आता है?

उत्तर – महिलाओं या स्त्रियों को जोश तब आता है। जब सेक्स करने के दौरान उनके हार्मोन काफी सक्रिय हो जाते हैं और उनके अंदर एस्ट्रोजन हार्मोन की मात्रा लगातार बढ़ती जाती है। तभी उनको जोश आता है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.