पेट साफ करने की आयुर्वेदिक दवा | कब्ज को करें छूमंतर

आजकल खाने का ना पचना बहुत ही आम समस्या है। इस समस्या से बहुत ही ज्यादा लोग पीड़ित हैं।  यह समस्या इसलिए जन्म लेती है। क्योंकि लोगों का अपने खानपान पर किसी भी प्रकार का नियंत्रण नहीं है। अनियंत्रित खाने और गैर जरूरतमंद खाद्य पदार्थों से ही अपच की समस्या जन्म लेती है और अपच के वजह से ही कब्ज होने लगती है । इसी अपच और कब्ज की समस्या से पेट में  गैस भी बनती है जिससे सीने में जलन कच्ची डकार और बहुत सी दिक्कतें होने लगती हैं। अगर आपको भी बहुत ज्यादा गैस बनने और कब्ज की समस्या हमेशा रहती है तो आप पेट साफ करने की आयुर्वेदिक दवा का इस्तेमाल कर सकते हैं। 

Table of Contents

कब्ज होने के प्रमुख कारण 

किसी भी व्यक्ति  को कब्ज होने का कारण उसके खाने का ना पचना ही होता है । खाने के ना पचने से पेट में बहुत सारी ऐसी समस्याएं जन्म लेने लगती हैं जोकि गैस बनने,कब्ज बनने, सीने में जलन, कच्ची डकार के लिए जिम्मेदार होती हैं। जब आप कुछ भी खाते हैं तो वह सबसे पहले आपके बड़ी आत में जाकर रुकता है और धीमे धीमे आगे बढ़ता है तो वह बहुत ही कड़ा हो जाता है। यह इसलिए होता है क्योंकि आपकी बड़ी आंत मल से तब तक नमी खींचता है जब तक कि वह बाहर निष्कासित नहीं हो जाता है। इसलिए आपकी पाचन ग्रंथि मैं ही मल सूख जाता है और वह बाहर नहीं निकल पाता है जिस वजह से कब्ज बन जाती हैं जो कि बहुत ही ज्यादा दिक्कत पैदा करती है।ऐसी दिक्कतों से छुटकारा पाने के लिए आप पेट साफ करने की दवा पतंजलि दिव्य चूर्ण का इस्तेमाल कर सकते हैं। कब्ज को दूर करने के लिए उसके प्रमुख कारणों को भी जानना बहुत ही आवश्यक है इसीलिए निम्नलिखित में कुछ प्रमुख कारणों को बताया गया है।

  • मल का बाहर ना निकलना
  •  अंतड़ियों में रुकावट
  • रेक्टल कैंसर 
  • बहुत ज्यादा भोजन कर लेना
  •  बहुत ज्यादा गर्म खाद्य पदार्थों का सेवन करना
  •  खाने को अच्छी तरह से चबाकर ना खाना
  •  भरपूर नींद ना लेना
  •  ज्यादा फास्ट फूड का इस्तेमाल करना
  •  बहुत ज्यादा मिर्च मसाले का सेवन करना

कब्ज की आयुर्वेदिक दवा

पेट को साफ करने के लिए आयुर्वेद में बहुत से ऐसे औषधियां और जड़ी बूटियों उपलब्ध हैं जिनका इस्तेमाल करके आप अपने कब्ज की समस्या और पेट को साफ कर सकते हैं। क्योंकि पेट की समस्या को तुरंत दूर कर देना बहुत ही जरूरी होता है नहीं तो आगे चलकर या पुरानी कब्ज की जगह ले लेता है जो की बहुत ही खतरनाक कैंसर का रूप भी ले सकता है। इसीलिए आयुर्वेदिक दवाओं में सबसे ज्यादा पतंजलि की दवाओं का इस्तेमाल किया जाता है।इसीलिए निम्नलिखित में कुछ ऐसी प्रमुख पतंजलि की दवाओं और आयुर्वेदिक दवाओं के बारे में बताया गया है जिसका इस्तेमाल करके आप अपनी कब्ज की समस्या को दूर कर सकते हैं। 

  • पतंजलि दिव्य चूर्ण
  • दिव्य त्रिफला चूर्ण 
  • पतंजलि शुध्दि चूर्ण
  • दिव्य उदरकल्प चूर्ण 
  • पतंजलि लवण भास्कर चूर्ण
  • पतंजलि अभयारिष्ट
  • बैद्यनाथ अंगूरासव 
  • बैद्यनाथ कब्ज हर 
  • पतंजलि इसबगोल
  • पतंजलि मुलेठी चूर्ण 

1.पतंजलि दिव्य चूर्ण

 पतंजलि दिव्य चूर्ण को मुख्य रूप से कब्ज और बदहजमी के लिए उपयोग किया जाता है। इस दवा को हरण, सौंफ,अदरक के मिश्रण से तैयार किया गया है।  इस दवा मौजूद हरण शरीर में ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को कम करता है और पाचन तंत्र को मजबूत करता है। इस दवा के इस्तेमाल से पेट साफ रहता है और कब्ज नहीं होती है। इस दवा को 3 छोटे चम्मच गुनगुने पानी में मिलाकर दिन में एक बार लिया जा सकता है। इस दवा के अच्छे परिणाम के लिए इसका लंबे समय तक उपचार करना आवश्यक है। 

पेट साफ करने की आयुर्वेदिक दवा

2.दिव्य त्रिफला चूर्ण 

दिव्य त्रिफला चूर्ण फलों से तैयार की गई बहुत ही लाभकारी दवा है। जो कि पुरानी कब्ज और गैस की समस्या को खत्म करने के लिए उपयोग की जाती है। इस दवा में आंवला,हरीतकी,बहेड़ा  का मिश्रण पाया जाता है। आंवले में बहुत से ऐसे एंटीऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं जो कि पाचन सुधार और भोजन अवशोषण का काम करते हैं। हरीतकी  को पेट की सूजन को कम करने के लिए और आंतों को स्वस्थ रखने के लिए उपयोग किया जाता है। यह दवा कोलेस्ट्रॉल कम करने की आयुर्वेदिक दवा के रूप में प्रसिद्ध है इस दवा को गुनगुने पानी के साथ सुबह-शाम एक-एक टेबलेट लिया जा सकता है।

पेट साफ करने की आयुर्वेदिक दवा

3.पतंजलि शुध्दि चूर्ण

पतंजलि शुद्धि चूर्ण पतंजलि द्वारा तैयार किया गया उत्पाद है। जोकि बदहजमी के इलाज के लिए उपयोग किया जाता है। इस दवा को हरितकी,भूमयालीकी,इंद्रायण,त्रिवृत जैसे गुणकारी औषधियों के मिश्रण से तैयार किया गया है। इस दवा में मौजूद भूमयालीकी में  ऐसी एजेंट पाए जाते हैं।जो कि लीवर को खराब होने से बचाता है और उसके कार्यों को करने की क्षमता बढ़ाता है। इस दवा को पेट की आंतों को साफ करने की दवा के रूप में भी उपयोग किया जाता है। त्रिवृत को पेट में कब्ज के कारण होने वाले दर्द को कम करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इस दवा को गुनगुने पानी के साथ दिन में दो बार लिया जा सकता है इस दवा के बेहतर परिणाम के लिए इसको 3 महीने तक इस्तेमाल करना आवश्यक है।

पेट साफ करने की आयुर्वेदिक दवा

4.दिव्य उदरकल्प चूर्ण 

उदरकल्प चूर्ण को हरीतकी,मुलेठी,रेवंदचीनी के उचित मात्रा के  मिश्रण से तैयार किया गया है। जोकि कब्ज को दूर करने,एसिडिटी,भूख न लगने के इलाज के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इस दवा के सेवन से पुरानी से पुरानी कब्ज भी ठीक हो जाती है। इस दवा में मौजूद मुलेठी में  ऐसे गुण पाए जाते हैं जोकि शरीर के विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में बहुत ही सहायक भूमिका निभाते हैं और हमारे पाचन तंत्र को मजबूत करते हैं। इस दवा की 2.5 ग्राम की मात्रा को गुनगुने पानी में मिलाकर दिन में दो बार लेना चाहिए।

पेट साफ करने की आयुर्वेदिक दवा

5.पतंजलि लवण भास्कर चूर्ण

पतंजलि लवण भास्कर चूर्ण को कब्ज पेट दर्द के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इस दवा को  अमलतास अनार जीरा काली मिर्च अदरक,दालचीनी,इलायची,तेजपत्ता,काला नमक,धनिया जैसी  गुणकारी औषधियों के मिश्रण से तैयार किया गया है।  इस दवा में मौजूद अमलतास कब्ज में मल को बाहर करने के लिए उत्तेजित करता है।जिससे कि मल बहुत ही आसानी से बाहर आ जाता है और कब्ज नहीं होती। दवा को खाना खाने के बाद 3 ग्राम की मात्रा को गुनगुने पानी में मिलाकर सुबह शाम लेना चाहिए। जिससे कि कब्ज की समस्या बहुत ही जल्द दूर हो जाती है।

पेट साफ करने की आयुर्वेदिक दवा

6.पतंजलि अभयारिष्ट 

पतंजलि अभयारिष्ट को खराब पाचन तंत्र को दुरुस्त करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। जिससे कि पाचन तंत्र सही रहता है और  कब्ज एवं गैस की समस्या नहीं होती है। इस दवा को लिवर का रामबाण इलाज के रूप में भी जाना जाता है। इस दवा को अंगूर,हरीतकी,महुआ,निसोथ कैसी प्राकृतिक औषधियों के मिश्रण से तैयार किया गया है। जोकि कब्ज की समस्या को दूर करने के लिए बहुत ही कारगर साबित होती हैं। इस दवा को गुनगुने पानी में 30 मिलीलीटर की मात्रा मिलाकर दिन में दो बार लिया जा सकता है। इसके बेहतर परिणाम के लिए इसका उपचार लंबे समय तक जारी रखना चाहिए।

पेट साफ करने की आयुर्वेदिक दवा

7. बैद्यनाथ अंगूरासव

बैद्यनाथ अंगूरसव  को मुख्यता गैस्ट्रो से संबंधित समस्या के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इस दवा के इस्तेमाल से पेट की कब्ज और गैस में बहुत ही आश्चर्यचकित करने वाला लाभ मिलता है। यह दवा लॉन्ग,जायफल,जावित्री,नागकेसर,कंकोल के मिश्रण से तैयार किया गया है। इस दवा को इसके बताए गए निर्देशानुसार इसका इस्तेमाल किया जा सकता है।

पेट साफ करने की आयुर्वेदिक दवा

8. बैद्यनाथ कब्ज हर

 बैद्यनाथ कब्ज हर जैसा कि अपने नाम से प्रसिद्ध है इस दवा को पेट में पुराने कब्ज की समस्या को खत्म करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इस दवा को अमलतास,हरीतकी,अदरक,शोभा,अजवाइन,विडंग,काला नमक,सनाय जैसी प्राकृतिक औषधियों के मिश्रण से तैयार किया गया है। इस दवा में मौजूद अमलतास  पेट में बहुत पुराने कब्ज की समस्या को खत्म करता है और मल त्याग के समय  मुलायम करता है कि आसानी से बाहर आ सके और कब्ज की समस्या नहीं होती।

पेट साफ करने की आयुर्वेदिक दवा

9.पतंजलि इसबगोल

पतंजलि  ईसबगोल की भूसी कब्ज के लिए  रामबाण दवा है। इसमें बहुत ही ज्यादा मात्रा में फाइबर पाया जाता है। जो कि पेट से जुड़ी समस्या के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। कब्ज और गैस की समस्या में इसको इस्तेमाल किया जाता है । इसके नियमित सेवन से  पेट हमेशा साफ रहता है। इस दवा में बहुत से प्राकृतिक गुण पाए जाते हैं। जोकि मल को मुलायम करने में बहुत ही सहायक होते हैं जिससे कब्ज नहीं होती है। इसबगोल की भूसी बवासीर का रामबाण आयुर्वेदिक इलाज है। इसके सेवन से मल मुलायम होता है। जिससे बवासीर के मस्से सूखने लगतें है। इसको 5 ग्राम की मात्रा में गुनगुने पानी के साथ मिलाकर पीना चाहिए। जिससे इसका जल्द लाभ देखने को मिलता है।

पेट साफ करने की आयुर्वेदिक दवा

10.पतंजलि मुलेठी चूर्ण 

पतंजलि मुलेठी चूर्ण को ज्यादातर पेट साफ करने और एसिडिटी की तरफ से के लिए इस्तेमाल किया जाता है। मुलेठी चूर्ण पाचन क्रिया को मजबूत करने और खाने को ठीक से  पचाने में बहुत ही कारगर दवा है। इसके औषधिय गुण शरीर से विषैले  पदार्थ को बाहर करता है। लीवर को साफ करके खाने को अच्छे ढंग से पचाता है। जिससे कि कब्ज की समस्या नहीं होती है और पेट हमेशा साथ रहता है। इस दवा के सेवन से आपके वीर्य में शुक्राणुओं की कमी को दूर करके शुक्राणुओं को बढ़ाया जा सकता है । इस चूर्ण को गुनगुने पानी में एक चम्मच मिलाकर सुबह-शाम लिया जा सकता है। 

पेट साफ करने की आयुर्वेदिक दवा

पेट साफ करने की सीरप 

कब्ज के निदान के लिए बहुत सारी ऐसी आयुर्वेदिक और एलोपैथिक सिरप आती है जिनका इस्तेमाल करके आप अपनी कब्ज की समस्या को दूर कर सकते हैं। यह सिरप आपके शरीर में पूरी तरह से घुल मिल जाता है। आपके आंतों में यहां पानी की मात्रा को बढ़ा देता है जिससे आपका मल मुलायम हो जाता है और वह आप बहुत ही आसानी से बाहर आ  जाता है जिससे आपके कब्ज की समस्या बहुत ही जल्द ठीक हो जाती है इसलिए आपको कब्ज की समस्या को दूर करने के लिए पेट साफ करने की सिरप का भी इस्तेमाल करना चाहिए। निम्नलिखित में कुछ प्रमुख कब्ज की सिरप के बारे में बताया गया है जिनका इस्तेमाल करके आप अपनी कब्ज की समस्या को दूर कर सकते हैं और अपने पेट को भी साफ कर सकते हैं। 

  • क्रेमाफिन सिरप
  • डुफलैक सिरप
  • गुडलैक्स प्लस सिरप
  • झंडू पंचारिष्ट
  • पायनियर गैस्ट्रोज़ाइम प्लस
  • लैकसन सिरप
  • रसदार आयुर्वेदिक एंटासिड सिरप
  • क्योरवेदा हर्बल डाइजेस्ट अमृत 
  • सॉफ्टेक प्लस सिरप
  • लक्सोक्लियर सिरप

1. क्रेमाफिन सिरप ( पेट साफ करने की अंग्रेजी दवा syrup )

 क्रीमेफिन सिरप को कब्ज से राहत के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इस  सिरप को लिक्विड पैराफिन और मिल्क ऑफ मैग्नीशिया के मिश्रण से बनाया गया है। इस सिरप के सेवन से डाइजेस्टिव सिस्टम तंदुरुस्त रहता है। यह सिरप मल को मुलायम करने में  सहायक है जिससे कि कब्ज की समस्या दूर हो जाती है और पेट साफ रहता है। इस सिरप को कम से कम 15ml की मात्रा में दिन में एक बार लेनी चाहिए जिससे कि कब्ज की समस्या से निजात मिलने लगता है।

पेट साफ करने की आयुर्वेदिक दवा

2.डुफलैक सिरप

डुप्लेक  सिरप को कब्ज से राहत के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इस दवा को लिवर से जुड़ी समस्या के निदान के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इस सीरप को भोजन करने के पहले या भोजन करने के बाद भी लिया जा सकता है। इसके अधिकतम लाभ के लिए इसका नियमित सेवन करना बहुत ही आवश्यक है। इस दवा को एक निर्धारित मात्रा में रोज एक ही समय पर लेना चाहिए। जिससे कि पेट की समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है। यह सिरप हाथों में ऑस्मोसिस प्रोसेस के जरिए आंतों से पानी खींच कर काम करता है जिससे कि मल नरम हो जाता है और मल त्याग के समय कोई परेशानी नहीं होती है।

पेट साफ करने की आयुर्वेदिक दवा

3.गुडलैक्स प्लस सिरप

 गुडलैक्स प्लस सिरप कब्ज से राहत के लिए  लैक्सेटिव के रूप में कार्य करता है। इसको भी कब्ज की समस्या को दूर करने और पेट को साफ करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इस सिरप  के इस्तेमाल से आंते साफ-सुथरी हो जाती है।इस दवा को एक सीमित मात्रा में लेना चाहिए। क्योंकि इसके कुछ साइड इफेक्ट भी हो सकते हैं । अगर आप चाहें तो इसकी खुराक को जानने के लिए आप किसी चिकित्सक से भी परामर्श करके इसका सेवन कर सकते हैं।

पेट साफ करने की आयुर्वेदिक दवा

4.झंडू पंचारिष्ट

झंडू पंचारिष्ट एक आयुर्वेदिक सिरप है जिसको कब्ज और pet saaf karne ki dava के रूप में इस्तेमाल किया जाता है।इस दवा को अश्वगंधा,दारूहल्दी,लोंग,लोधरा,शतावरी,त्रिफला जैसी आयुर्वेदिक औषधियों के मिश्रण से बनाया गया है। इस सीरप में मौजूद दारूहल्दी गैस्टिक गतिशीलता को कम करके  दस्त को खत्म  करने में बहुत ही बड़ी भूमिका निभाता है।  इस सिरप को 30ml गुनगुने पानी में मिलाकर दिन में दो बार लेना चाहिए। इसलिए  सीरप के बेहतर परिणाम के लिए कम से कम 2 महीने तक इसका सेवन करना बहुत ही आवश्यक है।

पेट साफ करने की आयुर्वेदिक दवा

5. पायनियर गैस्ट्रोज़ाइम प्लस

पायनियर गैस्ट्रेजाइम प्लस सिरप एक एलोपैथिक सिरप है जोकि जीर्ण  गैस्ट्रिक की समस्या से निदान के लिए उपयोग की जाती है। इस दवा के इस्तेमाल से कब्ज से हो रहे  सीने में जलन,कच्ची डकार और सिर दर्द की समस्या दूर हो जाती है। इस दवा को एलुमिना हाइड्रोक्सी, एंटीमोनियम क्रूडूम डी, कार्बोवेजिटेबिलिस डी, कैरीका पपाया क्यू  के मिश्रण से बनाया गया है। इस दवा को अपनी जरूरत के अनुसार एक से दो चम्मच दिन में दो से तीन बार लिया जा सकता है। जिससे कि कब्ज और गैस की समस्या में आश्चर्यचकित करने वाला परिणाम सामने आता है।

पेट साफ करने की आयुर्वेदिक दवा

6. लैकसन सिरप

यह सिरप कब्ज और पेट साफ करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।  यह दवा आपकी आंखों में पानी की मात्रा को बढ़ाकर मल को मुलायम करने का काम करता है। जिससे कि आपकी कब्ज की समस्या दूर हो जाती है और मल त्याग करने में कोई भी दिक्कत नहीं होती है।  इस सिरप को भोजन करने के पहले या भोजन करने के बाद भी लिया जा सकता है। यह सीरप पेट में पानी की मात्रा को बढ़ाता है जिससे कि  कब नहीं होती है और किसी भी प्रकार का पेट दर्द नहीं होता है।

पेट साफ करने की आयुर्वेदिक दवा

7. रसदार आयुर्वेदिक एंटासिड सिरप

 हमारे सीने में कभी-कभी बहुत ही ज्यादा जलन और दर्द होने लगता है। यह दर्द और जलन  कब्ज और पेट ना साफ होने की वजह से उन्हें लगता है। यह सिरप हमारे शरीर में एंटासिड की मात्रा को निष्क्रिय कर देता है जिससे कि कब्ज में बहुत ही राहत मिलती है और सीने की जलन खत्म हो जाती है।  इस सीरप को पीने के कुछ मिनटों के अंदर ही इसका असर दिखना शुरू हो जाता है। यह सिरप  एलुमिनियम हाइड्रोक्साइड, मैग्नीशियम कार्बोनेट, मैग्नीशियम सिलिकेट, मैग्निशियम हाइड्रोक्साइड, कैल्शियम कार्बोनेट, सोडियम बाई कार्बोनेट के मिश्रण से बनी हुई है। इस  सीरप को आप अपनी समस्या अनुसार किसी वैध से परामर्श करके ले सकते हैं।

पेट साफ करने की आयुर्वेदिक दवा

8. क्योरवेदा हर्बल डाइजेस्ट अमृत

यह सिरप क्योरवेदा द्वारा बनाई गई पूर्ण रूप से आयुर्वेदिक सिरप है। जोकि कब और गैस्ट्रिक की समस्या से निजात दिलाने के लिए उपयोग की जाती है। इस दवा को  चित्रक, गिलोय ,एलोवेरा के मिश्रण से बनाया गया है। इस दवा में मौजूद चित्र खाना को पचाने में बहुत ही बड़ी भूमिका निभाते हैं  जिससे कि हमारा लीवर स्वस्थ रहता है और कब्ज जैसी समस्या का सामना नहीं करना पड़ता है। इस दवा के इस्तेमाल से हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ती है। जो कि किसी भी रोग से लड़ने में बहुत ही सहायक भूमिका निभाती है।

पेट साफ करने की आयुर्वेदिक दवा

9.सॉफ्टेक प्लस सिरप

इस सिरप को  कब्ज की समस्या से निजात पाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। यह हमारे शरीर में पानी की मात्रा को बढ़ा देती हैं जिससे कि मल मुलायम हो जाता है और वह आसानी से बाहर निकलता है  जिससे कब्ज नहीं होती है।  इस सीरप के सेवन से हमारे आंतों में मूवमेंट होती है। जिससे कि पेट आसानी से साफ हो जाता है। यह सिरप पेट के दर्द को खत्म करने का भी काम करती है। इसके इस्तेमाल के बाद इन सभी समस्याओं से निदान के लिए कम से कम 1 से 2 दिन लगता है।

पेट साफ करने की आयुर्वेदिक दवा

10. लक्सोक्लियर सिरप

 इस सीरप को कॉन्स्टिपेशन  की समस्या से निजात के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इसके सेवन से आंतों को खाली करने में सहायता मिलती है। जिससे कब्ज की समस्या दूर होती है और पेट साफ रहता है। ईपीएफओ रात में खाना खाने के बाद एक ढक्कन लेना  चाहिए।  इस सिरप के सेवन के साथ साथ फाइबर युक्त भोजन का भी सेवन करना चाहिए जिससे इस सिरप का लाभ दोगुना हो जाता है।

पेट साफ करने की आयुर्वेदिक दवा

कब्ज की अंग्रेजी दवा

हमारे शरीर में  किसी भी प्रकार की बीमारी सीधे हमारे पेट की समस्या से ही जुड़ी हुई हैं। क्योंकि अगर पेट में कोई समस्या है तो शरीर में अन्य प्रकार की बीमारियां में जन्म लेने लगती हैं। इसीलिए पेट से जुड़ी हुई समस्या को तुरंत खत्म कर देना चाहिए। जिससे कि आगे किसी भी प्रकार की कोई समस्या  जन्म ना  ले सके। पेट की समस्या जैसे  कब्ज, पेट में जलन, सीने में जलन, गैस की समस्या  से  तुरंत निदान के लिए आप अंग्रेजी दवाओं का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। अंग्रेजी दवाएं  पेट की समस्या के लिए तुरंत और जल्द समस्या से मुक्त करने वाली दवाएं होती हैं। इसीलिए कुछ अंग्रेजी दवाओं के बारे में निम्नलिखित बताया गया है। उन सभी दवाओं का इस्तेमाल करके आप अपनी पेट के समस्या को दूर कर सकते हैं। 

  • मिथाइलसेलूलोस
  • फिब्रिल
  • डोकुसेट्स
  • फेनोलफथालेन
  • नो गैस टैबलेट
  • एसिलोक
  • zinetac 150 
  • गैस – x 
  • फ़ैज़ाइम
  • एसिडोसिड
  • डिजीन 
Read Also - कैप्सूल शीघ्र स्खलन की पतंजलि दवा का नाम

1. मिथाइलसेलूलोस

किसी भी व्यक्ति के अंदर कब तभी जन्म लेता है जब उसका मल कठोर हो जाता है और बाहर निकलने में बहुत ही दिक्कत होती है। यह दिक्कत इसलिए होती है क्योंकि आप कुछ ऐसे भोजन का सेवन करने लगते हैं जो कि बहुत ही ज्यादा पानी खींच लेता है जिससे कि आपका मल पूरी तरह से सूख जाता है और कब्ज की समस्या खड़ी हो जाती है इस दवा के इस्तेमाल से आपको कब्ज की समस्या से बहुत जल्द निजात मिल सकता है। इस दवा को खाने से आपके आंतों में पानी की मात्रा बढ़ जाती है और  आपके पेट में मौजूद मन मुलायम हो जाता है और वह आसानी से बाहर निकलता है जिससे कब्ज की समस्या नहीं होती है।

पेट साफ करने की आयुर्वेदिक दवा

2.फिब्रिल

 फिबरिल पाउडर एक प्रकार  की भूसी है जो की कब्ज  से राहत के लिए इस्तेमाल की जाती है।इसमें बहुत ही ज्यादा फाइबर की मात्रा होती है। जोकि आपके शरीर में मौजूद मल को नरम करने और आसानी से बाहर निकालने का काम करता है। इस पाउडर के  इस्तेमाल से आपके पेट में सूजन भी कम होती है। इस पाउडर को पानी के साथ खाना खाने के बाद लिया जा सकता है। इसका बेहतर असर देखने के लिए कम से कम दिन में तीन बार इसका सेवन करना चाहिए। 

पेट साफ करने की आयुर्वेदिक दवा

3. डोकुसेट्स

डॉक्यूसेट एक प्रकार की लैक्सेटिव दवा है जो कि कब्ज की समस्या को दूर करने और पेट को साफ करने के लिए उपयोग की जाती है। कब्ज होने की स्थिति में इस दवा के इस्तेमाल पर  आपका पेट साफ होने लगता है। अगर आपको कई कई दिनों तक मल त्यागने में दिक्कत होती है। तो इस दवा का इस्तेमाल कर सकते हैं इस दवा के इस्तेमाल करते ही आपको 1 एक से दो दस्त पड़  सकती हैं। जो की कब्ज की समस्या को दूर करने के लिए बहुत ही जरूरी है।

पेट साफ करने की आयुर्वेदिक दवा

4. फेनोलफथालेन

कब्ज की समस्या को दूर करने के लिए हमारे आंतों में चाल  होना बहुत जरूरी है। फेनोलफथालेन के सेवन से आंतों में चाल होने लगता है।  जिससे कि कब्ज की समस्या दूर हो जाती है। इस दवा को किती फाइबर युक्त भोजन के  साथ ही लेना चाहिए। इस दवा को 1 हफ्ते से ज्यादा नहीं लेना चाहिए क्योंकि इसके विपरीत परिणाम भी पढ़ सकते हैं या फिर इसके सेवन की जानकारी के लिए आप किसी चिकित्सक से भी प्राप्त कर सकते हैं। 

पेट साफ करने की आयुर्वेदिक दवा

5. नो गैस टैबलेट

  न्यू गैस एक ऐसी टेबलेट है जो कि हमारे पेट में बन रहे एसिड की मात्रा को कम करती है। इस दवा को पेट में कब्ज सीने में जलन बदहजमी और गैस की समस्या को खत्म करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इस दवा को पेट की ऐसी समस्याओं को खत्म करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। जोकि पेट में बहुत ज्यादा एसिड हो जाने की वजह से पैदा होती हैं जैसे अल्सर,जीआरडी आदि। इस दवा को भी डॉक्टर के सलाह के साथ ही लेनी चाहिए।

पेट साफ करने की आयुर्वेदिक दवा

6.एसिलोक

एसिलोक टेबलेट को सबसे ज्यादा हमारे पेट में हो रहे बदहजमी, कब्ज, सीने में जलन और पेट में गैस की समस्याओं  को खत्म करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।जब भी आप इस दवा का इस्तेमाल कर रहा हूं तो आपको सबसे ज्यादा  मिर्च मसाले और ऐसे खाने का सेवन नहीं करना चाहिए जिसमें सेट बहुत ज्यादा होक्योंकि दवा के साथ ऐसे खाद्य पदार्थों का सेवन करने से दवा को आपके शरीर पर कोई भी असर नहीं पड़ेगा और आपके पेट में कब्ज और गैस लगातार बनी रहेगी। इस दवा के खुराक के लिए अब किसी चिकित्सक से भी प्राप्त कर सकते हैं। 

पेट साफ करने की आयुर्वेदिक दवा

7.zinetac 150 ( पेट साफ करने की गोली )

यह दवा भी पेट में गैस की समस्या और कब्ज की समस्या को खत्म करने के लिए इस्तेमाल की जाती है। यह दवा आपके पेट में जाकर आपके  पेट में  अत्यधिक मात्रा में बन रहे एसिड को कम करने का काम करती है जिससे कि आपके पेट में गैस की समस्या कब्ज की समस्या और सीने में जलन की समस्या खत्म हो जाती है। इस दवा को पेट की समस्या के सबसे ज्यादा रोकथाम के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इस दवा को  अल्सर जैसे मर्ज में बहुत ही कठिन परिस्थितियों में भी इस्तेमाल किया जाता है। इस दवा को भी डॉक्टर के परामर्श के बाद ही इसकी खुराक तय करनी चाहिए । 

पेट साफ करने की आयुर्वेदिक दवा

8. गैस – X

गैस एक्स एक प्रकार की चबाकर खाने वाली दवा है। जो कि पेट में कब्ज और गैस को खत्म करने के लिए इस्तेमाल की जाती है। इस दवा को किसी भी वर्ग के लोगों के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है।इस दवा को खाना खाने के बाद और सोने के पहले लेना चाहिए जिससे इस दवा का बेहतर असर देखने को मिलता है। इस दवा को किसी भी डॉक्टर के परामर्श  करके आप ले सकते हैं। 

पेट साफ करने की आयुर्वेदिक दवा

9. फ़ैज़ाइम

 फैजान दवा को हमेशा से ही पेट में गैस को खत्म करने के लिए  इस्तेमाल किया जाता है। जब आपको कभी भी  यह लगेगी गैस बन जाने के कारण आपको बहुत ही ज्यादा उलझन और घबराहट हो रही है और आपके पेट में उसी में में बहुत जोर का दर्द भी हो रहा है तो आप  इस दवा का इस्तेमाल कर सकते हैं। इस दवा को सोने से पहले आपको लेना चाहिए। इस दवा को किसी भी  व्यस्क को 1 दिन में 500 मिलीग्राम से ज्यादा नहीं लेनी चाहिए। 

पेट साफ करने की आयुर्वेदिक दवा

Read Also  - प्रोस्टेट की रामबाण दवा | प्रोस्टेट का तुरंत इलाज

10.एसिडोसिड

एसिडोसिड दवा को कब्ज और गैस से निजात के लिए इस्तेमाल किया जाता है।  यह दवा  फूड पाइप में जमे हुए खाने को साफ करने का भी काम करती है। जो कि गैस बनने का सबसे प्रमुख कारण माना जाता है। यह दवा पेट में खाने को भी पचानेका  का काम करती है। इस दवा में प्राकृतिक  औषधियां जैसे पातुल  पत्र, परपत, गिलोय, हरीतकी,विभीतक, वसा, मुलेठी,भरंग, चिरयता, जटामांसी,ब्राह्मी, निंबा छाल जैसी औषधियों का मिश्रण पाया जाता है।

पेट साफ करने की आयुर्वेदिक दवा

11.डिजीन 

 डीजे डिगने टकसाल ओरल जेल से बनी हुई एक ऐसी दवा है जोकि गैस से छुटकारा दिलाने और  दस्त के तुरंत निदान के लिए जानी जाती है। यह दवा अल्मुनियम हाइड्रोक्साइड, मैग्निशियम हाइड्रोक्साइड,  सिमेथीऑन,  सोडियम कार्बोक्सीथील सैलूलोज के मिश्रण से बनी हुई है। जोकि एक एंटासिड है और पेट में एसिड को कम करता है। इस दवा पाए जाने वाली सिमेथीकॉन अत्यंत गैस के कारण खुले हुए पेट को कम करने और आंतों में पानी बढ़ाने का काम करता है जिससे पेट में बढ़ा हुआ एसिड कम होता है और पेट की गैस खत्म हो जाती है।

पेट साफ करने की आयुर्वेदिक दवा

कब्ज की समस्या के लिए घरेलू उपचार 

कब्ज की समस्या को आप बहुत से ऐसे चीजों का परहेज करते और घरेलू उपायों और खाद्य पदार्थों का इस्तेमाल करके निजात पा सकते हैं । क्योंकि कब्ज और गैस की समस्या के शुरुआती समय में ही अगर आप इस पर ध्यान देते हुए। इसके होने वाले कारणों का पता लगाते हुए आप खानपान में नियंत्रण करते हुए इस बीमारी का इलाज कर सकते हैं। क्योंकि बहुत ही ज्यादा गंभीर बीमारी नहीं है अगर इसमें शुरुआती में ध्यान दे दिया जाए तो इसको बहुत जल्द नियंत्रित किया जा सकता है। लेकिन इसको नजरअंदाज करने और इस में लापरवाही बरतने के मामले में यह बीमारी बड़ा रूप लेकर आपको ज्यादा परेशान भी कर सकती है। अगर आपको ऐसी समस्या शुरुआत में कभी-कभी हो रही है तो आप कुछ घरेलू उपायों का इस्तेमाल जरूर करें जिससे कि इसे जड़ से खत्म किया जा सके। हमारे आसपास में बहुत सारे ऐसे खाद्य पदार्थ जिसको हम इस्तेमाल कर सकते हैं। जोकि पेट में गैस और कब्ज की समस्या के लिए बहुत ही कारगर घरेलू उपाय माने जाते हैं और इनके इस्तेमाल से तुरंत ही ऐसे दिक्कतों से छुटकारा भी पाया जा सकता है। कभी-कभी हम और आप ऐसी स्थिति में फंस जाते हैं जहां पर हमें किसी डॉक्टर  या फिर किसी प्रकार की दवा उपलब्ध नहीं हो पाती है और गैस और कब्ज की समस्या बहुत ज्यादा परेशान कर देती है। तब ऐसे ही खाद्य पदार्थ और घरेलू उपचार कब्ज और पेट में गैस की समस्या से निजात दिलाने के लिए काम आते हैं। तो आइए जानतें है की इन घरेलू उपायों का इस्तेमाल करके 5 मिनट में पेट साफ कैसे करें ?

  • मुनक्के का सेवन
  • अजवाइन
  • जीरा पानी 
  • हींग 
  • बैकिंग सोड़ा और नींबू

1.मुनक्के का सेवन

गैस की समस्या के लिए आप रोजाना मुन्नकके का सेवन कर सकतें हैं।जोकी पेट के कब्ज के लिए भी बहुत ही उपयोगी होता है। इसके नियमित सेवन से आपके पेट में लगातार बन रही गैस और पुराने से पुराने कब्ज की समस्या को बहुत जल्द खत्म कर सकता है। लेकिन इसके सेवन में सावधानी बरतनी है कि इसका लगातार इस्तेमाल करना चाहिए और इसके बेहतर परिणाम के लिए इसकी लंबी अवधि तक सेवन करना आवश्यक है।रात भर भीगे हुए मुनक्के को सुबह खाली पेट खाने से आपकी गैस  की समस्या में बहुत ही अच्छा अंतर देखने को मिलता है।

2.अजवाइन

अजवाइन को ज्यादातर मसाले के उपयोग में लिया जाता है। ज्यादातर घरों में इसका उपयोग सब्जी बदलते समय मसाले के रूप में किया जाता है लेकिन आप पर या नहीं जानते होंगे कि अजवाइन आपके पेट की समस्या के लिए बहुत ही रामबाण इलाज है। इसका इस्तेमाल करके आप अपने पेट में बन रहे गैस और कब्ज की समस्या से निजात पा सकते हैं। अजवाइन वाले पेट में खाने को पचाने वाले एसिड का निर्माण करता है जिससे खाना बहुत आसानी से पच जाता है और पाचन क्रिया को मजबूत करने में  मदद कारी एंजाइम की मात्रा को भी बढ़ाता है जिससे कि हमारी पाचन क्रिया बहुत ही मजबूत हो जाती है।

3.जीरा पानी 

आप बचपन से ही देखते होंगे कि आपके खाने में शामिल सभी सब्जियों में जीरे का तड़का जरूर रहता है  शायद आप इसके औषधि लाभों  की जानकारी से वंचित होंगे कि कैसे यह हमारे शरीर में पहुंचकर बहुत सारे  रोगों का नाश करते हुए हमारे शरीर को स्वस्थ रखने में  बहुत ही मदद करता है। जीरे के पानी को पीने से पेट की गैस और कब्ज खत्म हो जाती है। अगर आपके पेट में भी गैस और कब्ज की समस्या है तो आप रात को दो चम्मच जीरा पानी में डालकर छोड़ दें और सुबह उठकर खाली पेट जीरे के पानी को नमक डालकर पीले ऐसा नियमित करने से कुछ हफ्तों में ही आपको अपने गैस  और कब्ज की समस्या खत्म  होती दिखेगी। 

4. हिंग 

पेट की समस्या को दूर करने के लिए इनको भी घरेलू उपायों के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। हींग बहुत से ऐसे एंटीऑक्सीडेंट और औषधि गुण पाए जाते हैं जो कि हमारे खाने को पचाने और लिवर को स्वस्थ रखने में बहुत बड़ी भूमिका निभाते हैं। इसीलिए पेट में गैस और कब्ज की समस्या के लिए अक्सर इनको पानी में मिलाकर पिया जाता है जिससे गैस और कब्ज की समस्या दूर हो जाती है। 

5.बैकिंग सोड़ा और नींबू

आपको जब भी गैस की समस्या हो तो आप बेकिंग सोडा और नींबू का घोल बनाकर पी सकते हैं क्योंकि बेकिंग सोडा और नींबू के घोल से आपके पेट में हो रही गैस और कब्ज की समस्या दूर हो सकती है। बेकिंग सोडा में बहुत से ऐसे नेचुरल एंटासिड तत्व पाए जाते हैं जो कि  गैस को बाहर निकालने में मदद करते हैं। बेकिंग सोडा और नींबू का घोल पेट की समस्या के लिए एकदम इनो  की तरह ही काम करता है। अगर आपके पेट में गैस की समस्या हो रही हो और आप के पास इनो  या अन्य कोई दवा नहीं है तो आप बेकिंग सोडा और नींबू के घोल को पी सकते हैं। 

निष्कर्ष 

कब्ज का मतलब है की आपके आंतों में नमी की कमी और कम शारीरिक गतिविधि होने के कारण ही कोलन क्षेत्र में मल सख्त हो जाता है। कब्ज का सबसे बड़ा कारण है की शारीरिक गतिविधियों का न होना। यह मल को बाहर निकालने में बहुत ही कठिन बना देता है। जिससे बड़ी आंत में मल बहुत ही ज्यादा समय तक रुक जाता है।इसके वजह से ही आपका मल कठोर हो जाता है। जिससे आपके पेट में कब्ज हो जाती है। पुरुषों, महिलाओं और बच्चों में इसके बहुत से अलग-अलग कारण हो सकते हैं। इसीलिए इस मर्ज के कारण और उपचार भी उम्र और मर्ज की गंभीरता को देखते हुए इसके इलाज अलग हो जाते हैं।इसलिए इस लेख में कब्ज के प्रमुख कारणों के बारे में विस्तार से बताया गया है। कब्ज के इलाज के लिए और पेट साफ करने की आयुर्वेदिक दवा के बारे में भी विस्तार से बताया गया है। इस  लेख में बताई गई सारी दवाओं के इस्तेमाल से आप कब्ज की समस्या से निजात पा सकते हैं। इस लेख में और भी बहुत सारी सिरप और अंग्रेजी दवाओं के बारे में भी विस्तार से बताया गया है कब्ज की समस्या के तुरंत निदान के लिए आप अंग्रेजी दवाओं का भी इस्तेमाल कर सकते हैं क्योंकि यह आयुर्वेदिक की अपेक्षा  कुछ मिनटों में ही असर दिखाना शुरू कर देती है लेकिन या इसका ज्यादा सेवन करना हानिकारक भी हो सकता है इसलिए कब्ज को जड़ से खत्म करने के लिए आप आयुर्वेदिक दवाओं को ही इस्तेमाल करना चाहिए। अगर आपको किसी भी दवा से संबंधित कोई सुझाव या खुराक के बारे में जानकारी लेनी है तो आप किसी भी चिकित्सक से परामर्श करके इसके खुराक के बारे में और इसके साइड इफेक्ट के बारे में भी जानकारी कर सकते हैं। इसमें बताई गई किसी भी दबा  का बहुत ज्यादा सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि इसके विपरीत परिणाम भी पढ़ सकते हैं जो कि आपको परेशानी में डाल सकते हैं। 

सबसे ज्यादा पूछे जाने वाले प्रश्न और उनके उत्तर 

प्रश्न: पेट साफ करने के लिए कौन सी दवा लेनी चाहिए ? 

उत्तर- पेट साफ करने के लिए आप सोने से पहले  पतंजलि त्रिफला की टेबलेट को आप गर्म पानी के साथ ले सकते हैं कि जिससे आपका पेट साफ हो जाएगा।

प्रश्न: पेट साफ करने के लिए कौन सा सिरप अच्छा होता है?

उत्तर- पेट साफ करने के लिए  सॉफ्टेक प्लस सिरप का इस्तेमाल कर सकते हैं इस  सीरप को पेट साफ करने के लिए सबसे अच्छी दवा में से एक माना जाता है।

प्रश्न: अगर पेट साफ नहीं हो रहा तो क्या करना चाहिए?

उत्तर- अगर पेट साफ नहीं हो रहा तो आपको सबसे पहले  हरी सात सब्जियों का सेवन करना चाहिए,  ऐसी सलाद खाने चाहिए जिसमें पानी की मात्रा ज्यादा हो जिससे कि आपकी आंतों में  पानी की मात्रा बढ़ जाएगी और आपका मन मुलायम हो जाएगा और बहुत आसानी से  बाहर आ जाएगा जिससे कि आपका पेट पूरी तरह से साफ हो जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.